Top News

•।• • • ।• • • • • • ... ।
Crime Update- दो धड़ों में बंटा साहू समाज मामला मारपीट तक पहुंचा

SAGAR Watch/
साहू समाज के चुनाव का विवाद अब थानों और अदालत तक  पहुंच गया है। समाज दो धड़ों में बंटा है। दोना पक्ष साहू समाज के मंदिर और धर्मशाला ट्रस्ट को लेकर अपने अपने दावे कर रहे है। अदालत में भा मामला चल रहा है।

कल शनिवार की रात को तीनबत्ती पर भाजपा जिला उपाध्यक्ष जगन्नाथ गुरेया और  उनके समर्थकों की युवा मंडल के अध्यक्ष संदीप साहू के बीच मारपीट हुई। संदीप की रिपोर्ट पर जगन्नाथ गुरेया सहित अन्य पर कोतवाली थाने में मामला दर्ज हो गया।  

साहू समाज ने की मांग कार्यवायी की

आज रविवार को बांके बिहारी साहू समाज मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष संतोष साहू, सचिव शैलेंद्र साहू, अनाज तिलहन व्यापारी संघ के अध्यक्ष महेश साहू , पार्षद अशोक साहू, कोषाध्यक्ष मुकेश साहू, मनोहर साहू, कांग्रेस नेता विजय साहू,  घायल संदीप साहू और उसके परिजनों ने मिडिया से चर्चा की और जगन्नाथ गुरेया को पार्टी से निष्कासित करने और दोषियों पर कार्यवाई की मांग की। 

उन्होंने कहा बताया कि साहू समाज के युवा सदस्य संदीप साहू को बीजेपी जिला उपाध्यक्ष जगन्नाथ गुरैया (साहू) एवं कपिल साहू, खेमचंद साहू, नितिन साहू, शिवम् साहू, गोविन्द ने बेहरमी से मारपीट की । अगर बीच बचाव नहीं होता तो यह सब मिलकर उसकी हत्या कर देते । हमला घातक होते हुये भी पुलिस प्रशासन ने मामूली धारायें लगायी गयीं जबकि 307 धारा कायमी की जानी थी क्योंकि सिर पर गहरा घाव स्पष्ट दिखाई दे रहा है ।

उन्होंने कहा कि प्रभारी मंत्री अरविन्द भदौरिया का हाल ही का वक्तव्य है कि पार्टी में किसी भी गुण्डा तत्वों को वर्दास्त नहीं किया जावेगा। इसके बाबजूद भी जगन्नाथ गुरैया जिला उपाध्यक्ष होने के बाद पार्टी की छवि को गुण्डाराज दिखाते हुए पार्टी का इस्तेमाल कर उसकी छवि धूमिल कर रहे हैं। उसको पार्टी से तत्काल निष्कासित करने की मांग सम्पूर्ण साहू समाज सागर कर रही है।

उन्होंने आरोप लगाया कि ट्रस्ट का आयव्यय पुरानी कमेटी ने नही दिया है। बैंक में राशि जमा करने की बजाय जगन्नाथ गुरेया ही अपने पास रुपया रखे है। यदि न्याय नहीं मिला तो साहू समाज धरना प्रदर्शन करेगी।  इस दौरान संदीप साहू के परिवार की महिला सदस्यो ने भी घर पर आकर पत्थर फेंकने की बात कही। 

Crime Update-पन्ना के कपडा व्यापारी पत्नी सहित खुद को गोली मार कर की आत्महत्या

पन्ना
, 29 जनवरी/ मध्यप्रदेश के पन्ना में शनिवार को पन्ना शहर में एक हृदय में विदारक हादसा सामने आया, जिसमें शहर के बड़ा बाजार निवासी प्रसिद्ध कपड़ा व्यापारी संजय सेठ उम्र 49 साल ने बंद कमरे में स्वयं व अपनी पत्नी मीनू सेठ उम्र 45 साल की गोली मारकर आत्महत्या कर ली। हादसे के वक्त तेज आवाज में टीवी चलने के कारण पड़ोसियों को गोली चलने की आवाज नहीं सुनाई दी। 

मामला तब उजागर हुआ जब प्रतिदिन की तरह उनके घर दूध देने वाला आया और उसके द्वारा काफी देर तक दरवाजा खटखटाया। जब दरवाजा नहीं ईखुला तो वह नीचे रहने वाली संजय सेठ की भाभी व उनके भतीजे को लेकर आया। एक सुसाइड नोट और घटना के पहले वीडियो सामने आया है। जिसमे कुछ व्यापारियों से  उधार दिया पैसा लेने और बागेश्वर महराज से क्षमा मांगते हुए  आत्महत्या करने का जिक्र है। 

ये घटना शहर के बीचों-बीच स्थित मोहल्ला किशोरगंज में दोपहर करीब 3 बजे हुई। मृतकों के नाम संजय सेठ व मीनू सेठ है। घटना की जानकारी लगते ही पन्ना एडिशनल एसपी, एसडीओपी और कोतवाली टीआई अरुण सोनी अन्य पुलिसकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे। 

उन्होंने मृतक पति-पत्नी के शवों को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया। वहीं पुलिस संजय सेठ के घर पर जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि परिजनों के बयानों के बाद मामले का खुलासा हो पाएगा कि आखिर उन्होंने इतना बड़ा कदम क्यों उठाया।

सुसाइड नोट  और वीडियो आया सामने 


टीआई अरुण कुमार सोनी ने बताया कि पुलिस को घटनास्थल से एक सुसाइड से नोट भी मिला है। इसमें मृतक संजय सेठ ने स्वेच्छा से आत्महत्या करने की बात लिखी है। शॉर्ट पीएम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जाएगा। मामले में बारीकी से जांच की जा रही है। उधर इस घटना के पहले का एकविडियो भी सामने आया है जिसमे वे अपने बच्चो से क्षमा मांग रहे है। सुसाइड नोट में कुछेक व्यापारियों से अपना उधार दिया पेसो का भी जिक्र है। यह भी लिखा है कि यह पैसा लेकर अपनी पढ़ाई लिखाई और शादी में आदि में उपयोग कर लेना। परिवार में उसके भाई बच्चो का ख्याल रखेंगे।

बागेश्वर धाम सरकार  के भक्त थे संजय सेठ

हंसमुख स्वभाव के संजय सेठ बागेश्वर सरकार आचार्य धीरेंद्र शास्त्री के भक्त भी थे। उनके आर्यक्रमो आनाजाना था। अपनी फेसबुक वाल पर फोटो भी लगाए है।


संजय सेठ ने सुसाइड नोट / वीडियो में कहा कि ..गुरुदेव आपका चेला हू , कमजोर पढ़ गया हू...सनातन धर्म चलाते रहना । गुरुजी माफ करना।अगला जन्म मिले तो आपका पक्का भक्त में ही जन्म मिले..जय गुरुदेव भगवान की

प्रतिष्ठित व्यापारी का छोटा बेटा था संजय

संजय नगर के प्रतिष्ठित स्वर्गीय रतन सेठ के छोटे बेटे थे और उनका कपड़ों का कारोबार है। बताया जा रहा है कि संजय ने अपने ही नाम से लाइसेंसी बंदूक ले रखी थी, हालांकि पुलिस का कहना है कि इसका खुलासा जांच के बाद ही हो सकेगा। संजय सेठ का एक बड़ा भाई भी है। जिनकी कपड़े की दुकान घर के समीप साईं मंदिर के सामने है। जबकि संजय पंचम सिंह चौराहे पर स्थित अपनी दुकान को संचालित करते थे। वे नगर के प्रतिष्ठित व्यापारियों में जाने जाते थे। संजय के बेटा-बेटी भी हैं।

 


Bhoomi  poojan-मप्र आयुष्मान कार्ड योजना के तहत भारत में प्रथम नंबर पर

सागर वॉच/
 मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य सुविधा विहीन ग्रामों में स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे, साथ ही जिला चिकित्सालय में डॉक्टरों की कमी की पूर्ति की जाएगी एवं सेवानिवृत्त डाक्टरों की भर्ती राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के माध्यम से प्रारंभ की गई है। 

उक्त विचार मध्यप्रदेश शासन के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभु राम चौधरी ने सागर जिला चिकित्सालय परिसर में  7 करोड़ 50 लाख रुपए की लागत से बनने वाले 100 बिस्तर की अतिरिक्त भवन के भूमि पूजन के अवसर पर व्यक्त किए।

मध्यप्रदेश शासन के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा कि मध्यप्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनने के लिए मध्यप्रदेश लगातार कार्य कर रहा है, और इसी कड़ी में मध्यप्रदेश के स्वास्थ सुविधा विहीन ग्रामों में शीघ्र ही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की स्थापना की जाएगी, साथ में भवन भी बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जो भवन बनाए जाएंगे उनमें डॉक्टरों को रहने के लिए निवास भी तैयार होंगे।

डॉ. चौधरी ने कहा कि जिला चिकित्सालय में डॉक्टरों की जो कमी है उसको शीघ्र ही पूरा किया जा रहा है। जिसके लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के माध्यम से कार्य प्रारंभ किए गए हैं। उन्होंने बताया कि सेवानिवृत्त डाक्टरों के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन में प्रत्येक बुधवार को आवेदन किए जाते हैं जिससे कि जिला चिकित्सालय में डॉक्टरों की कमी पूर्ति हो सके।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि सागर में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार की रफ्तार पकड़ चुका है। उन्होंने कहा कि सागर में तीन वरिष्ठ मंत्री हैं जो लगातार सागर में अन्य विकास के साथ-साथ स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास के लिए लगातार प्रयासरत रहते हैं। उन्होंने कहा कि तीनों वरिष्ठ मंत्रियों के साथ-साथ सागर विधायक सहित अन्य जनप्रतिनिधि लगातार संपर्क में रहकर स्वास्थ सुविधाओं को बढ़ाने के लिए कार्य कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि विगत कैबिनेट बैठक में बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में 85 स्नातकोत्तर की सीटों को बढ़ाया गया और 100 करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं ।


मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि सागर से हमारा पारिवारिक संबंध है, और सागर की स्वास्थ सुविधाएं बढ़ाना हमारा नैतिक दायित्व भी है। उन्होंने कहा कि कोविड काल में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने 24 घंटे कार्य कर कोरोना से जंग जीती है। उन्होंने कहा कि आज हम वैक्सीनेशन में पूरे देश में अव्वल हैं उसी प्रकार ऑक्सीजन के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन गए हैं।

मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि जिला चिकित्सालय सहित समस्त ग्राम स्तर के अस्पतालों में जाचां की सुविधा भी उपलब्ध कराई गई है। उन्होंने कहा कि विगत दिनों 226 नवीन स्वास्थ्य केंद्रो में से 12 स्वास्थ्य केंद्र सागर में स्वीकृत किए गए हैं। मंत्री डॉ चौधरी ने कहा हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर बनाने में मध्यप्रदेश भारत में सबसे आगे है ।

उन्होंने कहा कि दस हजार से ज्यादा और स्वास्थ्य केंद्रों को हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर बनाया जा रहा है जिनमें 96 प्रकार की दवाएं 12 प्रकार की जांच की जाएगी। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में 184 ग्रामों में और उप स्वास्थ्य केंद्र खोले जाएंगे ।

मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एवं जिला चिकित्सालय को सुंदर बनाने के लिए अनेक प्रयास किए जा रहे हैं जिनसे कि शीघ्र ही समस्त जिला चिकित्सालय अत्याधुनिक होंगे। उन्होंने कहा कि जिला चिकित्सालय को अत्याधिक अच्छा बनाने के लिए कायाकल्प योजना के माध्यम से कार्य किया जा रहा है उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश आयुष्मान कार्ड योजना के अंतर्गत भारत में प्रथम नंबर पर है।


इस अवसर पर विधायक श्री शैलेंद्र जैन ने कहा कि सागर में स्वास्थ सुविधा विस्तार की यह प्रथम कड़ी है आने वाले समय में और स्वास्थ्य क्षेत्र में कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सागर में महिला सशक्तिकरण का जीता जागता प्रमाण है जहां स्वास्थ्य विभाग की 4 जिला महिला अधिकारी अपने कर्तव्यों पर कार्य कर रही है। 

उन्होंने कहा कि सागर में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार जिला चिकित्सालय के साथ-साथ बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में भी किया जा रहा है । उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में शीघ्र ही केथ लेब एवं ब्लड बैंक की स्थापना की जाएगी। इसके लिए शासन ने 100 करोड़ रुपए स्वीकृत भी कर दिए हैं।

विधायक शैलेंद्र जैन ने कहा कि बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज अब स्वावलंबी बनने की ओर है। जहां समस्त प्रकारों का इलाज प्रारंभ किया जा रहा है। विधायक श्री जैन ने मंत्री डॉ. चौधरी से मांग की, कि सेवानिवृत्त डॉक्टरों की संविदा नियुक्ति खाली पदों पर की जाए जिसपर उन्होंने सैद्धांतिक रूप से अपनी सहमति व्यक्त की।

महापौर संगीता तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं नगरी प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह की दूर दृष्टि से ही सागर स्वास्थ्य की दृष्टि में विकास कर रहा है, और आने वाले समय में और स्वास्थ्य विधाएं उपलब्ध होगी। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री  चौहान एवं मंत्री  सिंह का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि नगर निगम क्षेत्र में 8 मुख्यमंत्री संजीवनी अस्पताल तैयार किए जा रहे हैं।

जिला पंचायत की अध्यक्ष हीरा सिंह राजपूत ने कहा कि जिला चिकित्सालय, बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज में आउटसोर्स भर्ती में जिले की बेरोजगार युवक-युवतियों को प्राथमिकता मिले, ऐसे हमें प्रयास करना चाहिए। जिससे कि जिले की बेरोजगारी युवक-युवती रोजगार प्राप्त कर सकें। 

श्री राजपूत ने कहा कि सागर में मध्यप्रदेश शासन की द्वारा लगातार स्वास्थ सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है और आगे भी किया जाता रहेगा।

कार्यक्रम के पूर्व में सिविल सर्जन डॉ. ज्योति चौहान ने स्वागत भाषण देते हुए जिला चिकित्सालय की स्वास्थ्य सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी ।

इस अवसर पर विधायक श्री शैलेंद्र जैन, महापौर श्रीमती संगीता सुशील तिवारी, जिला पंचायत के अध्यक्ष श्री हीरा सिंह राजपूत, कलेक्टर श्री दीपक आर्य, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  क्षितिज सिंघल, बुंदेलखंड मेडिकल कॉलेज के डीन डॉ आर.एस. वर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ममता तिमोरे, सिविल सर्जन डॉ. ज्योति चौहान सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी एवं गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।
नगर निगम अध्यक्ष वृंदावन अहिरवार, विक्रम सोनी,लवप्रीत गुरोंन, जगन्नाथ गुरैया, पप्पू फुसकेले, जे.डी. नीना गीड़ियन, डॉ. बीके खरे, डॉ. सुनील पिप्पल, डॉ राजुल सिघई, डॉ. प्रदीप चौहान, डॉ. जितेंद्र सराफ, डॉ. आदित्य दुबे, श्री के.एस. परस्ते,  ईशान श्रीवास्तव, डॉ. श्याम मनोहर, डॉ. ललिता पाटील सहित डॉक्टर्स, पैरामेडिकल स्टाफ और जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

कार्यक्रम का संचालन डॉ. अरविंद्र जैन द्वारा किया गया, जबकि आभार मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ममता तिमोरे ने माना।

Creative Corner- न मैं कुछ , न मेरा कुछ...

लेख -
Klien Jaiswal Rai 

हृदय की भाषा शुद्धतम है, अबोध है...शब्दों में तो हेराफेरी है.. !!

कुछ कहना ज़रूरी नहीं होता, जहाँ वाकई सुन लिया जाता है..!!
जैसे सफेदी से पुती निःशब्द भीत पर, शब्द ... शुभ लाभ लिखने के प्रयास में सहारा लेते हैं, घृत सिंदूर के सम्मिश्रण का, और कुछ धुंधली सी फैल में सिमट जाना चाहते हैं...!!
अंगनाई के हरियाये तुलसी चौरे, हवन कुंड से उठती समिधा का आकाश, ताम्बूल की पसरी हरित बेलें, वहाँ रहने वाले लोगों की भाव, कुछ गढ़ते रहते हैं स्वतः ही, जिसे प्रकृति की गति, लय और ताल कहते हैं हम और जाने अनजाने कहीं, कुछ कह उठते हैं......
.....कुछ संगीत के अनगढ़ सितारे, नृत्य की अकथ्य देवियाँ, और गीत के बिखरे बोल...कभी हरसिंगार, तो कभी गुलाब, तो कभी रातरानी तले...!!!
बयार बखान देती है, कि ईश्वर उतर चुका है घट में, या बस उतरने की ही तैयारी है।
हाँ... उतरने से पहले खूब तापता है वो.... कि भरपूर छीझे और औंटाये अंतरमन को ही शिवाला बनने की मंजूरी देता है वो सहर्ष...!!
उसकी प्रतिमाएं एक अद्भुत सम्मिश्रण से बनती हैं.... जैसे अष्टधातु हों कि तपाये लेता है वो भरपूर.....
कभी छैनी से तराशता है बहुत.. कि पाषाण की अनगढ़ शिला हो जैसे कोई....
तो कभी दाबता है वो दुसह्य मर्मान्तक पीड़ाओं के कभी न मिलने वाले छोर से.. कि जैसे कोयले को बदल देना चाहता है दुर्लभ्य हीरक में, अलभ्य वज्रमणि में....
कभी डुबो देता है गहराइयों में बेनाम बेपता करके रेत के कण सा....कि वो जानता है, मोती बन जाने की पात्रता में सहनशीलता प्रथम और अंतिम शर्त है....
.....सहना बिना कुछ कहे, बिना कुछ पूछे, बिना कुछ मांगे कि डुबोये तो मैं तेरा, तारे तो मैं तेरा....
न मैं कुछ , न मेरा कुछ....तेरा तुझको अर्पण... मेरा लागे भी कुछ... तो भला कैसे...!?!?

साभार -Klien Jaiswal Rai  फेसबुक वाल से 

Wheat Procurement-   पंजीयन 1 फरवरी से 25 फरवरी तक होगा

सागर वॉच
/
रबी विपणन वर्ष 2023-24 में समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन के लिए पंजीयन 1 फरवरी से 25 फरवरी तक करा सकते हैं। किसान पंजीयन की व्यवस्था को सहज और सुगम बनाने के लिए किसानों के स्वयं के मोबाईल में सुविधा दी गई है। अब किसान घर बैठे पंजीयन कर सकेंगे। किसानों को पंजीयन केन्द्रों में लाईन लगाकर पंजीयन कराने की समस्या से मुक्ति मिलेगी।

किसान को गेहूं के समर्थन मूल्य पर अपनी उपज का पंजीयन केन्द्रों पर निःशुल्क करा सकेंगे। रबी विपणन वर्ष में समर्थन मूल्य पर गेहूं का उपर्जान करने के लिए पंजीयन कराने की निशुल्क व्यवस्था की गई। 

किसान ग्राम पंचायत कार्यालय में स्थापित सुविधा केन्द्र, जनपद पंचायत कार्यालयों में स्थापित सुविधा केन्द्र, तहसील कार्यालयों में स्थापित सुविधा केन्द्र तथा सहकारी समितियों एवं विपणन संस्थाओं द्वारा द्वारा संचालित केन्द्रों का फसल का पंजीयन निशुल्क करा सकेंगे। 

वहीं सशुल्क पंजीयन के लिए किसान एमपी ऑनलाईन कियोस्क पर, कॉमन सर्विस सेंटर, लोक सेवा केन्द्र एवं निजी व्यक्तियों द्वारा संचालित साइबर कैफे पर सुशल्क पंजीयन करा सकते हैं। ग्राम पंचायत/जनपद पंचायत तहसील कार्यालय में पंजीयन के लिए सुविधा केन्द्र स्थापित करने के लिए जिला कलेक्टर आवश्यक कर्मचारियों की ड्यूटी लगाकर उन्हें प्रशिक्षित करना सुनिश्चित करेंगे।

एम.पी. ऑनलाईन कियोस्क, कॉमन सर्विस सेन्टर, लोक सेवा केन्द्र और निजी व्यक्तियों द्वारा संचालित साइबर कैफे को पंजीयन की कार्यवाही करने के पूर्व जिला कलेक्टर/सक्षम प्राधिकारी से विधिवत ऑथोराईजेशन प्राप्त करना होगा। प्रति पंजीयन के लिए 50 रूपये से अधिक शुल्क निर्धारित नहीं किया जाएगा। 

केन्द्रों पर पंजीयन सुविधा एवं शुल्क राशि के संबंध में आवश्यक बैनर लगाया जाना सुनिश्चित किया जाए। किसान का पंजीयन के लिए भूमि संबंधी दस्तावेज़ एवं किसान के आधार एवं अन्य फोटो पहचान पत्रों का समुचित परीक्षण कर उनका रिकार्ड रखा जाना अनिवार्य होगा। 

सिकमी/बटाईदार/कोटवार एवं वन पट्टाधारी किसान के पंजीयन की सुविधा केवल सहकारी समिति एवं विपणन सहकारी संस्था स्तर पर स्थापित पंजीयन केन्द्रों पर उपलब्ध होगी। श्रेणी के शत-प्रतिशत किसानों का सत्यापन राजस्व विभाग द्वारा किया जाएगा।
Media Watch-14- Jan-2023- केंद्र में भाजपा का सत्ता खोना असंभव नहीं -शशि थरूर

MEDIA WATCH
--ख़बरों की खबर 
14-Jan -2023

ख़बारों की सुर्ख़ियों में सियासत की रंगत छाने लगी है।  

📣 Live Hindustan ने सुर्ख़ियों में वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शशि थरूर के हवाले से लिखा है कि वे  भाजपा के प्रभुत्व को स्वीकार करते हैं, लेकिन केंद्र में उसके  सत्ता खोने को भी असंभव बात नहीं मान रहे है।

उन्होंने कहा, अगर बीजेपी 250 सीटों पर रुक जाती है तो अन्य के पास 290 सीटें होंगी। हमें यह नहीं पता है कि बीजेपी को छोड़कर 290 सीटें लाने वाली पार्टियां आपस में सहमति बना लेगी। गौरतलब है कि2019 के लोकसभा चुनावों में भाजपा ने 543 में से 303 सीटें जीतीं, जबकि कांग्रेस केवल 52 ही जीत पाई।

📣Asianet News ने अपनी अहम् खबर में भारतीय वैज्ञानिक को जासूसी कांड में उलझाये जाने को अंतर्राष्ट्रीय साजिश करार दिया है। खबर में लिखा है कि सीबीआई ने केरल हाईकोर्ट में कहा है कि वैज्ञानिक नंबी नारायणन को अंतरराष्ट्रीय साजिश के तहत इसरो जासूसी मामले में फंसाया गया था। उनके खिलाफ लगाए गए आरोप मनगढ़ंत थे।उन्हें अवैध रूप से गिरफ्तार कर जेल में रखा गया। 

भारत की अंतरिक्ष एजेंसी ISRO (Indian Space Research Organisation) स्पेस रिसर्च में आगे नहीं बढ़े इसके लिए अमेरिका की खुफिया एजेंसी CIA (Central Investigation Agency) ने साजिश रचकर 1994 में इसरो के प्रख्यात वैज्ञानिक नंबी नारायणन को जासूसी केस में फंसा दिया था।

📣NavBharat Times की खबर भारत के पडौसी देश पाकिस्तान की आर्थिक बदहाली पर चिंता जताती नजर आ रही है। खबर कहती है कि  पाकिस्तान इस समय खाने की कमी से जूझ रहा है। देश में आटे की किल्लत देखी जा रही है। आटे का दाम इतना ज्यादा है कि आम आदमी की थाली से रोटी गायब हो रही है। बाजार में आटा 140 रुपए से 160 रुपए तक बिक रहा है।

सरकारी अधिकारियों का अनुमान है कि पाकिस्तान में आई बाढ़ से 80 फीसदी से ज्यादा फसल बर्बाद हो चुकी है। दूसरी तरफ विदेशी मुद्रा भंडार की कमी के चलते पाकिस्तान के बंदरगाहों पर दवा और भोजन पड़ा है, लेकिन देश में नहीं आ पा रहा। स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान का कहना है कि उनका विदेशी मुद्रा भंडार 4.3 अरब डॉलर के एक गंभीर स्तर तक गिर गया है। 

📣 Aaj Tak लगातार देश में मंडरा रहे पर्यावरणीय खतरों पर ध्यान अटकाए हुए है । आजतक की खबर कह रही है कि उत्तराखंड के बाद अब हिमाचल में भी जमीन और मकान दरकने लगे हैं. यहां के लोग भी जोशीमठ के हालात देखकर डरे हुए हैं. मंडी जिले के लोगों का कहना है कि फोरलेन हाइवे को लेकर पहाड़ी काटी गई है. इसकी वजह से ये दरारें आ रही हैं. अफसरों ने भी माना है कि पहाड़ी काटने के बाद दरारें आईं. लोगों से घर खाली करने को कहा गया है

📣Jansatta की खबर आगामी लोकसभा चुनावों के मद्देनज़र देश के सियासी दलों की रणनीतियों पर पैनी नजर रखे हुए है । कांग्रेस पार्टी की सियासी तैयारियों की योजनाओं को कुरेदते हुए लिखा है कि

राहुल गांधी की सोच को जनता तक पहुंचाने के लिए कांग्रेस 26 जनवरी से हाथ से हाथ जोड़ो अभियान की शुरुआत करने जा रही है। हाथ से हाथ जोड़ो अभियान (Haath Se Haath Jodo Abhiyaan) 26 मार्च तक चलेगी। 

इस नई योजना के तहत कांग्रेस नेता राहुल गांधी नफरत, बेरोजगारी, मंहगाई और आम जनता से जुड़े अन्य मुद्दों को लेकर चिट्ठी लिखी है। उनका संदेश 26 जनवरी से कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर पहुंचाया जाएगा। 

पत्र में राहुल ने खुद को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विश्वसनीय विकल्प के रूप में पेश किया है। राहुल गांधी के संदेश को भारत के छह लाख गांवों में 10 लाख बूथ तक पहुंचाने का प्लान है।

देश में मंडल कमीशन को उनसे गर्दन पकड़कर लागू करवाया गया

MEDIA WATCH--ख़बरों की खबर 
13-Jan -2023

अख़बारों में आज की सुर्ख़ियों में Asianet ने  केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के उस बयान को अहमियत से छपा है जिसमें उन्होंने कहा है कि देश में  समान नागरिक संहिता को लागू करने को लेकर तैयारी चल रही है। अखबार ने इसे  लोकसभा चुनाव 2024 के पहले देश के सबसे बड़े मुद्दे पर किसी भी जिम्मेदार बीजेपी नेता का   सबसे बड़ा बयान बताया। 

....हिंदुओं का अपमान-BJP

वहीं Live Hindustan रामचरितमानस मानस को लेकर बिहार के मंत्री चंद्रशेखर के हालिया बयान को लेकर बड़ी खबर छपी है। खबर में कहा गया है की मंत्री के बयान की बड़े बड़े लोगों द्वारा आलोचना की जा रही है। आलोचना करने वालों में कवि कुमार विश्वास, जैसे नाम भी शामिल हैं।    भाजपा ने भी इसे हिंदुओं का अपमान बताया है।  

Mandal Commisson Report and Sharad Yadav

आजतक चैनल ने अपनी वेबसाइट पर समाजवादी नेता शरद  यादव के निधन पर एक पुराने किस्से का जिक्र कर उन्हें याद किया है। खबर में बताया है कि 

शरद यादव ने 'The DISRUPTOR: How Vishwanath Pratap Singh Shook India' में लिखा  है कि उन  दोनों ही (शरद यादव और वीपी सिंह) मंडल कमिशन की रिपोर्ट को लेकर प्रतिबद्ध थे, लेकिन वीपी सिंह आरक्षण को तत्काल लागू करने को लेकर बहुत ज्यादा उत्साहित नहीं थे. लेकिन मजबूरियों का हवाला देते हुए वीपी सिंह को मंडल कमीशन की सिफारिशें लागू करने के लिए मजबूर कर दिया किताब में दावा है कि देश में मंडल कमीशन को उनसे गर्दन पकड़कर लागू करवाया गया था।

Joshimath Sinking..

Dainik Jagran की ताज़ा रपट का मानना है कि जोशीमठ में भूधंसाव अब भी लगातार जारी है। नगर क्षेत्र में भूधंसाव प्रभावित भवनों की संख्या 723 से बढ़कर 760 हो गई है। असुरक्षित क्षेत्र में पहले जहां 86 भवन शामिल थे, अब वह बढ़कर 128 हो गए हैं।

Youth Festival- विजेता फरवरी में बैंगलोर राष्ट्रीय  युवा उत्सव में  शिरकत करेंगे

सागर वॉच/
सतना में आयोजित हुए पांच दिवसीय 36वें मध्य क्षेत्रीय युवा उत्सव में जहां करीब 30 विश्वविद्यालयों की प्रतियोगिता हुई जिसमे डॉ.हरि सिंह गौर विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा शानदार प्रर्दशन हुआ
। विजेता प्रतिभागी फरवरी में बैंगलोर में 36वें राष्ट्रीय   युवा उत्सव में अपनी प्रस्तुतियां देंगे

विश्वविद्यालय से डा.राकेश सोनी के निर्देशन में  42 लोगो का दल आया था  जिन्होंने करीब सभी  विधायों में अपनी प्रतिभागिता दी और 10 पुरस्कार अर्जित किए, फोक ऑर्केस्ट्रा ( बुंदेली)  में गगन राज एवं दल ने प्रथम स्थान अर्जित किया

संस्कृतिक रैली ने प्रथम स्थान,स्किट ने द्वितीय स्थान, नाटक ने द्वितीय स्थान, समूह गान ने चौथा, स्वर वाद्य ने पांचवा , मेंहदी ने 3 तीसरा, प्रश्न मंच ने पांचवा, ओवरऑल नाटक विधा में द्वितीय स्थान  एवं ओवरऑल चैंपियनशिप में चौथे स्थान पर रहें।