Articles by "SagarWatch"
SagarWatch लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं



सागर वॉच/ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय संगठन महामंत्री,अखिल भारतीय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के राष्ट्रीय कार्यकारिणी के मौजूदा सदस्य राम माधव का कहना है कि देश की स्वतंत्रता के बाद राजनीति के कारण देश गरीबी, भ्रष्टाचार, जातिवाद, क्षेत्रवाद की ओर धकेला गया जबकि सही मायने में देश की वर्तमान की सरकार भारत को एक संगठित  भारत बनाने के लिए देश को भयमुक्त, गरीबी मुक्त, भ्रष्टाचार मुक्त, समाजवाद से मुक्त क्षेत्रवाद से मुक्त एक सशक्त भारत के निर्माण की दिशा में कार्य कर रही है। 

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता राम माधव स्वाधीनता के 75 वर्ष पूर्ण होने पर स्वाधीनता अमृत महोत्सव समिति सागर द्वारा  मोती नगर चौराहा स्थित पद्माकर सभागार में रविवार शाम को  आयोजित  व्याख्यान कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में  शिरकत करने आये थे | 

 उन्होंने उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि देश के लाखों लोगों ने देश को स्वतंत्र कराने के लिए विभिन्न मार्गों पर चलकर अपने प्राणों की आहुति देकर देश को आजादी दिलाई और आजादी के बाद स्वतंत्रता संवैधानिक आधार पर देश के सभी लोगों को आर्थिक, सामाजिक, नैतिक स्वतंत्रता मिली| 

उन्होंने सरकार के साथ-साथ देश के लगभग 130 करोड़ लोगों को भी एक सशक्त भारत के निर्माण की दिशा में सभी को आगे आने की आवश्यकता बताई, उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वजों के त्याग एवं कठोर पराक्रम के चलते देश को आजादी मिली, हमारे पूर्वजों ने एक सशक्त भारत बनाने के लिए आजादी दिलाई थी, उसकी कल्पना को साकार करने के लिए हम सभी को एक सशक्त भारत के निर्माण करने की दिशा में आगे आना होगा

कार्यक्रम प्रारंभ के पहले कार्यक्रम के मुख्य वक्ता राम माधव, कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रघुनाथ जी पांडे (वीर हुतात्मा श्री मंगल पांडे की पांचवी पीढ़ी के वंशज) कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि सौरभ सिंघई संचालक (सागरश्री हॉस्पिटल मकरोनिया) ने दीप प्रज्वलित कर भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण किया| 

 व्याख्यान कार्यक्रम में मुख्य अतिथि रघुनाथ जी पांडे ने संबोधित करते हुए कहा कि भारत की आजादी के पहले हम कहां खड़े थे और आज हम कहां खड़े हैं इस बात पर विचार करना होगा आजादी की लड़ाई लड़ने वालों का एक ही नारा होता था मुझे आजादी मिलना चाहिए और देश की एक ही जाति होती थी हम हिंदुस्तानी हैं इस भावनाओं को लेकर देश के सभी वर्ग के लोगों ने अपने प्राणों को निछावर कर देश को आजाद कराया

पाण्डेय  ने कहा कि सभी को वर्तमान में  इस विषय पर चिंतन कर देश को एक संगठित एवं सशक्त भारत के निर्माण की दशा में योगदान देने की आवश्यकता है तब जाकर  आजादी के वीर सपूतों को सच्ची श्रद्धांजलि होगी  कार्यक्रम से पूर्व  रघुनाथ   पांडे जी ने चौराहे पर स्थित महारानी लक्ष्मीबाई की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। 

Swadhinta Amrit Mahotsav-  सशक्त भारत  बनाने सभी को आगे आना होगा-राम माधव

कार्यक्रम में चंद्रशेखर आजाद पर नाटक का मंचन किया गया, कार्यक्रम की प्रस्तावना प्रो. बी के श्रीवास्तव हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय ने रखी एवं कार्यक्रम में आमंत्रित अतिथियों का परिचय राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग संपर्क प्रमुख श्री अनिल जी अवस्थी ने किया, कार्यक्रम का समापन वंदे मातरम गायन के साथ हुआ, कार्यक्रम का संचालन प्रो.अंजली दुबे एवं आभार आयोजन समिति के संयोजक श्री राजकुमार सिंह सुमरेडी ने किया

कार्यक्रम में स्वाधीनता अमृत महोत्सव समिति के सभी सदस्य

मध्य प्रदेश शासन के मंत्री पंडित गोपाल भार्गव, मध्य प्रदेश शासन के मंत्री श्री भूपेंद्र सिंह, सागर विधायक शैलेंद्र जैन, नरयावली विधायक प्रदीप लारिया सहित बड़ी संख्या में  नगर के प्रबुद्ध जन उपस्थित रहे l

                                                       



    News In Short : ख़बरें संक्षेप में 
सागर वॉच/15 अप्रैल 22

गेहूं उपार्जन स्लॉट बुकिंग 17 तक 

↺  रबी विपणन वर्ष 2022-23 में समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन हेतु स्लॉट बुकिंग का कार्य निरंतर जारी है। कृषकों की सुविधा हेतु स्लॉट बुकिंग की अंतिम 17 अप्रैल कर दी गई है।पूर्व में स्लाट बुकिंग की तारीख 13 अप्रैल थी। सभी कृषकों से शीघ्र ही अपनी पंजीकृत फसल के विक्रय हेतु स्लॉट बुकिंग निर्धारित करने का आग्रह किया गया है।

कृषक को स्लॉट बुकिंग हेतु उपार्जन केन्द्र एवं दिनांक का चयन करने की सुविधा दी गई है, साथ ही कृषक द्वारा विक्रय हेतु लाई जाने वाली गेहूं की मात्रा भी दर्ज करने की सुविधा दी गई है।ऐसे कृषक जो समर्थन मूल्य पर गेहूं का विक्रय करना चाहते हैं, वे पर 17 अप्रैल 2022 तक स्लॉट बुकिंग कर सकेंगे। इसके उपरांत स्लॉट बुकिंग सुविधा बंद कर दी जाएगी।

हार्वेस्टर के साथ स्ट्रारीपर का उपयोग अनिवार्य

↺  जिन क्षेत्रों में कम्बाइन हार्वेस्टर से फसल की कटाई की जाती हैं वहां हार्वेस्टर के साथ स्ट्रारीपर के उपयोग को अनिवार्य किये जाने एंव रीपर कम्बाइन्डर के उपयोग को बढ़ावा दिये जाने के निर्देश दिये गये हैं।

उक्त निर्देशों के परिपालन में कृषकों को फसल अवशेष प्रबंधन के लिये उपयोगी मशीने जैसे हैप्पी सीडर, जीरो ट्रिल सीड ड्रिल, रिमर्सिवल प्लाऊ. स्ट्रा रीपर रेक, वेलर एंव ग्रेडर आदि यंत्रों को कृप करने के लिये प्रेरित किये जाने के भी निर्देश दिये गये हैं। साथ ही इस कदम से गर्मियों में लगने वाली आग की दुर्घटनाओं से होने वाले जन-धन के नुकसान पर भी प्रभावी नियंत्रण किया जा सकता है। ऐसे क्षेत्रों में जहां कम्बाइन हार्वेस्टर से गेंहू की फसल कटाई की जा रही है वंहा पर हार्वेस्टर के साथ स्ट्रारीपर के उपयोग को भूसा बनाने हेतु अनिवार्य किया गया है। बिना स्ट्रारीपर के हार्वेस्टर से फसल कटाई पर पूर्णतः प्रतिबंध है।

पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति 40 फीसदी राशि का भुगतान होगा पोर्टल के माध्यम से

↺  पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति योजना अंतर्गत वर्ष 2021-22 हेतु निर्देश जारी किये गये हैं। जारी निर्देशानुसार अनुसूचित जाति वर्ग के विद्यार्थियों को सत्र 2021-22 नवीनीकरण अन्तर्गत आवेदनों की स्वीकृति राशि योजना नियमानुसार पूर्ण की जायेगी परन्तु स्वीकृत राशि मे से राज्यांश राशि (40 प्रतिशत) का ही भुगतान पोर्टल के माध्यम से करने के निर्देश है।

जिले के महाविद्यालयों में अध्ययनरत अनुसूचित जाति वर्ग के नवीनीकरण के विद्यार्थियों को अवगत कराया गया है कि वर्तमान में स्वीकृत राशि में से 40 प्रतिशत राशि का ही भुगतान किया गया है। शेष 60 प्रतिशत राशि केन्द्रांश मद में उपलब्ध होने पर भुगतान किया जायेगा।                      

वैद्य आपके द्वार योजना जन-सामान्य को आयुष सेवा उपलब्ध कराने के लिये 


↺  प्रदेश में आयुष स्वास्थ्य सेवा सहजता से जन-सामान्य को घर पर ही उपलब्ध कराने के उद्देश्य से आयुष विभाग ने “वैद्य आपके द्वार’’ योजना शुरू की है। विभाग ने योजना के क्रियान्वयन के लिये आयुष क्योर एप विकसित किया है।

इस एप के माध्यम से जन-सामान्य को घर बैठे निःशुल्क लाइव वीडियो कॉल पर आयुष चिकित्सा विशेषज्ञों से परामर्श लेने की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। एप के माध्यम से नागरिक अपना पंजीयन करा कर सुविधा अनुसार आयुर्वेद, होम्योपैथी एवं यूनानी चिकित्सा पद्धति का चयन कर सकते हैं। वर्तमान में गूगल प्ले स्टोर से अब तक प्रदेश में करीब 40 हजार एप डाउनलोड किये जा चुके हैं।  

आयुष आपके द्वार

प्रदेश में आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत आयुष विभाग ने “आयुष आपके द्वार’’ योजना भी शुरू की है। योजना के अंतर्गत औषधीय पौधों को जन-सामान्य में लोकप्रिय बनाने के लिये औषधीय पौधों का वितरण भी किया जा रहा है। प्रत्येक जिले में उद्यानिकी विभाग के सहयोग से लगभग 1500 परिवारों को जन-प्रतिनिधियों की उपस्थिति में औषधीय पौधे वितरित किये गये। इसके साथ ही जन-सामान्य को औषधीय पौधों के लाभ एवं उपयोगिता के बारे में भी जानकारी दी गई है। प्रदेश में करीब 45 हजार परिवारों को औषधीय पौधे वितरित किये गये हैं।


ऊर्जा साक्षरता अभियान का शुभारंभ 25 नवम्वर को

↺  वर्तमान परिदृश्य में जलवायु परिवर्तन के पर्यावरणीय दुष्प्रभाव वैश्विक स्तर पर परिलक्षित हो रहे है। इस स्थिति से प्रत्येक व्यक्ति अवगत है तथा प्रत्यक्ष परोक्ष रूप से भागीदार भी है। ग्लोबल वार्मिंग और जलवायु परिवर्तन के प्रभाव से निपटने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए मुख्यमंत्री द्वारा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय, भारत सरकार के आदित्य में ऊर्जा साक्षरता अभियान का शुभारंभ 25 नवम्वर को किया गया है।

ऊर्जा साक्षरता अभियान से जुड़ने हेतु वेबसाइट पर लॉगिन किया जा सकता है इस अभियान से जुड़ना अत्यंत सरल है। ऊर्जा साक्षरता अभियान से सम्बन्धित उत्कृष्ट कार्य करने वाले नागरिकों स्कूली छात्र संस्थानों आदि को पुरस्कृत करने के लिए की घोषणा शीघ्र ही की जा रही है।               
स्पीड पोस्ट से घर आयेगा वोटर कार्ड

↺  अब वोटर कार्ड के लिये आवेदन करने के बाद कलेक्ट्रेट और तहसील दफ्तरों के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, क्योंकि अब एक अप्रैल से घर बैठे स्पीड पोस्ट के जरिये कार्ड पहुंचाया जायेगा। पहले वोटर आईडी कार्ड पहुंचाने की जिम्मेदारी बीएलओ की हुआ करती थी, लेकिन इस बार चुनाव आयोग ने डाक विभाग को यह जिम्मेदारी दी है। प्रदेश के सभी जिलों में एक अप्रैल के बाद स्पीड पोस्ट के जरिये कार्ड पहुंचाये जायेंगे। इसके लिये वोटर्स को कोई फीस नहीं देना होगा।

भारत निर्वाचन आयोग इसका खर्च उठायेगा। सिर्फ अब ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन वोटर आईडी बनवाने के लिये आवेदन करना होगा। ईपिक नंबर जनरेट होने के बाद घर कार्ड पहुंचा दिया जायेगा, लेकिन फॉर्म में सारी डिटेल्स सही भरना होगा। वोटर जो भी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर फॉर्म में दर्ज करेंगे, उस पर स्पीड पोस्ट का मैसेज आयेगा। इससे कार्ड की ट्रेकिंग में आसानी होगी।


विकासखण्ड स्तरीय स्वास्थ्य मेला  18 से 

↺  आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में जिले में विकासखण्ड स्तर पर स्वास्थ्य मेला का आयोजन किया जाना है जिसके परिपेक्ष में कलेक्टर श्री दीपक आर्य द्वारा विस्तृत कार्य योजना बनाने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को दिए गए थे।

 मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बौद्ध ने बताया कि  विकासखण्ड स्तरीय स्वास्थ्य मेला में आम नागरिकों को समस्त स्वास्थ्य सेवायें विशेषज्ञ चिकित्सा अधिकारी के द्वारा निःशुल्क प्रदान की जायेगी, दवाईयों का निःशुल्क वितरण किया जायेगा एवं पैथोलॉजी जांच भी निःशुल्क की जायेगी।

उन्होंने बताया कि विकासखण्ड स्तरीय स्वास्थ्य मेला के तय कार्यक्रम के अनुसार पहला विकासखण्ड स्तरीय स्वास्थ्य मेला 
  • 18 अप्रैल को सामुदायिक भवन बंडा में 
  • 19 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शाहगढ़ में, 
  • 20 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र केसली में, 
  • 21 अप्रैल को मंगल भवन खुरई में, 
  • 22 अप्रैल को सामुदायिक भवन मालथौन में, 
  • 23 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बीना में 
  • 24 अप्रैल को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शाहपुर में 
  • 25 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जैसीनगर में 
  • 26 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रहली में 
  • 27 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र राहतगढ़ में 
  • 28 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मैं विकासखण्ड स्तरीय स्वास्थ्य मेला आयोजित किये जायेंगे।
कलेक्टर  ने निर्देश दिए हैं कि समस्त विकासखंड स्तरीय स्वास्थ्य मेले में जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए की जाए साथ में व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जाए। 


सीएम्एचओ के बाबू ने मांगी घूस, होगी जांच 

↺ सोशल मीडिया में रिश्वत मांगे जाने के कथित ऑडियो क्लिप के संबंध में कलेक्टर ने  त्वरित संज्ञान लेते हुए संभागायुक्त को इस संबंध में जांच दल गठित करने संबंधी प्रस्ताव भेजा। जिसके बाद संभागायुक्त द्वारा 4 सदस्यीय जांच दल को तीन दिवस में उक्त संबंध में जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

उल्लेखनीय है कि,कथित मामला अस्पताल रजिस्ट्रेशन के नवीनीकरण हेतु खुरई के पारस हास्पिटल से सीएमएचओ डॉ सुरेश बौद्ध के क्लर्क एवं दलाल के द्वारा रिश्वत मांगे जाने के वायरल संवाद का है।

संभाग आयुक्त द्वारा निर्देशित चार सदस्यीय दल में संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवाए, अपर कलेक्टर,  जिला आयुष अधिकारी और जिला सूचना विज्ञान अधिकारी ( एनआईसी ) शामिल है जो मामले की विस्तृत जांच करके तीन दिवस के भीतर जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे।




सागर वॉच/
जिले  के नरयावली विधायक द्वारा सिविल लाइन चौराहे से मकरोनिया चौराहे तक सिटी लिंक रोड पर स्मार्ट सिटी के माध्यम से सुंदरीकरण कराने का प्रस्ताव रखा गया जिस पर कलेक्टर द्वारा निर्देश दिए गए कि सुंदरीकरण हेतु डीपीआर तैयार करें। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि नरयावली विधानसभा क्षेत्र की समस्त निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण किए जाएंगे और लगातार इसकी मानिटरिंग की जाएगी।

News In Short-19 Mar 22-सागर के व्यापारियों ने  बाजार से गायब की  फलाहार खाद्य सामग्री


News In Short : ख़बरें संक्षेप में 

सागर वॉच/29 मार्च 22


नकली सेंधा नमक बेचने वाला एक और विक्रेता आया फंदे में 

↺ नवरात्र त्यौहार को दृष्टिगत फलाहार में इस्तेमाल होने वाले खाद्य पदार्थों में होने वाली मिलावट की  जांच हेतु खाद्य सुरक्षा प्रशासन द्वारा विशेष अभियान चलाया गया है इस अभियान के अंतर्गत मंगलवार को  खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने नए बाजार स्थित थोक  किराना व्यापारियों की जांच आरंभ की 

जांच के दौरान अधिकांश दुकानदारों ने अपनी दुकानों से फलाहार में इस्तेमाल होने वाला सिंघाड़े का आटा, राजगिरे का आटा और सेंधा नमक दुकान में ना होना बताया जबकि  श्याम जी गृह उद्योग के नाम से सेंधा नमक जय किराना पर पाया गया जो प्राथमिक जांच में आयोडीन नमक से निर्मित होना पाया गया

पूछताछ करने पर विक्रेता श्याम कोटवानी ने बताया कि उसके द्वारा पूर्व में सेंधा नमक का निर्माण आयोडीन नमक की डस्ट से कर दुकानों में सप्लाई किया जाता था फैक्ट्री के संबंध में पूछताछ करने पर श्याम कोटवानी ने बताया कि वर्तमान में काम बंद कर चुका है एवं उसके पास जो पैकेट दुकान पर रखे हैं वह पिछले वर्ष के हैं पैकेट ऊपर किसी प्रकार की कोई तिथि भी अंकित नहीं पाई गई सैंपल के नमूने लिए गए हैं एवं श्याम कोटवानी के विरुद्ध खाद्य सुरक्षा मानक अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की जा रही है

इस अभियान के अंतर्गत आम लोगों को सेंधा नमक के परीक्षण के संबंध में यह सूचना देना आवश्यक है इसका परीक्षण बहुत ही आसान है आलू को बीच से लेकर के दो टुकड़े कर लिए जाएं एवं कटे हुए भाग पर कुछ सेंधा नमक एक चुटकी डाला जाए एवं नींबू दो बूंद निचोड़ा जाए यदि रंग नीला हो जाए तो इसका मतलब सेंधा नमक आयोडीन नमक से बना हुआ है जो कि गलत है और नकली सेंधा नमक है  यदि कोई रंग नहीं आता है इसका मतलब है सेंधा नमक असली है।

प्रदूषण का हाल बताने शहर में लगेंगे प्रदर्शन पटल

प्रदूषण का हाल बताने शहर में लगेंगे प्रदर्शन पटल 

↺ म.प्र.प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड द्वारा शहर के प्रमुख स्थानों पर कुल 5 एल.ई.डी. डिस्पिले बोर्ड लगाये जा रहें है इस सिलसिले में स्थान तय करते समय निगमायुक्त  ने सुझाव दिया कि मौसम संबंधी महत्वपूर्ण जानकारी होती है जिसका हमारे दैनिक जीवन में बहुत उपयोगी है इसलिये इन्हें मुख्य सड़को के किनारे आस पास भीड़ भाड वाले क्षेत्रों में लगाया जाये।
इन स्थानों पर लगेंगे प्रदर्शन पटल :- 1.पं.मोतीलाल म्यूनिसिपल स्कूल के सामने कटरा बाजार 2. महाकवि पदमाकर सभागार के सामने मोतीनगर चौराहा, 3. अटल पार्क जिला चिकित्सालय रोड़, 4. विष्वविद्यालय रोड स्वामी विवेकानंद जी की प्रतिमा के पास सिविल लाईन, 5. मकरोनियॉं क्षेत्र में।

30 वां दीक्षांत समारोह 26 अप्रैल को

↺ डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर का  30 वें दीक्षांत समारोह   26 अप्रैल 2022 दिन मंगलवार को आयोजित होगा दीक्षांत समारोह में सीबीसीएस प्रणाली के अंतर्गत वर्ष 2020 और 2021 में उत्तीर्ण नियमित स्नातक एवं स्नातकोत्तर तथा 15 नवंबर 2019 के उपरान्त पी-एचडी, डी.एस.सी अथवा डी.लिट उपाधि अर्जित अभ्यर्थी दीक्षांत समारोह में सम्मिलित हो सकेंगे 

इसके लिए अभ्यर्थियों को विश्वविद्यालय के वेबसाइट पर दिए गये लिंक पर निर्धारित शुल्क के साथ पंजीयन कराना अनिवार्य होगा जो अभ्यर्थी दीक्षांत समारोह में उपस्थिति के बिना डिग्री प्राप्त करना चाहते हैं, वे भी निर्धारित शुल्क के साथ पंजीयन कर सकते हैं दीक्षांत समारोह के उपरांत डिग्री उनके पते पर प्रेषित की जायेगी

जिन छात्रों ने पूर्व में पंजीयन कराया है उन्हें पुनः पंजीयन करने की आवश्यकता नहीं है पंजीकृत छात्रों को प्रवेश पास /पत्र जारी कर दिया जायेगा

दीक्षांत समारोह के मुख्य समन्वयक प्रो. नवीन कानगो ने बताया कि अभ्यर्थी विश्वविद्यालय की वेबसाईट पर दिए गये लिंक पर 05 अप्रैल 2022 की रात्रि तक ऑनलाइन पंजीयन कर सकते हैंजो अभ्यर्थी दीक्षांत समारोह में व्यक्तिशः सम्मिलित होंगे उन्हें दीक्षांत पोशाक प्रदान किया जाएगा जिसे वे स्मृति के रूप में रख सकते हैं समारोह में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों के लिए दीक्षांत पूर्वाभ्यास भी आयोजित होगा जिसकी सूचना विश्वविद्यालय वेबसाईट पर अलग से दी जायेगी  



सागर के विद्यार्थियों को मूल प्रमाण-पत्र साथ ले जाने की बाध्यता से मिली मुक्ति 

↺ डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर के डिजिटल अकादमिक प्रमाणपत्र (डिग्री, डिप्लोमा, एवं ग्रेड शीट अब डीजी-लाकर पर उपलब्ध है वर्ष 2021 में जिन विद्यार्थियों ने सीबीसीएस माध्यम से पाठ्यक्रम पूर्ण किया है वे विश्वविद्यालय की वेबसाईट पर दिए गये लिंक पर जाकर अपना डिजिलॉकर खाता बना सकते हैं। इस पोर्टल पर खाता बना लेने से विद्यार्थी के अकादमिक प्रमाणपत्रों का पुष्टिकरण में भी सुविधा होगी साथ ही मूल प्रमाण-पत्र के साथ ले जाने की बाध्यता से भी राहत मिल सकेगी

एक मई को शहर के अपंजीकृत  शादीघर हो जायेंगे अवैध

News In Short :
 ख़बरें संक्षेप में 

सागर वॉच/28 मार्च 22

होटल दीपक और संगम सहित 14 शादीघर अपंजीकृत 
 
↺ सिटी मजिस्ट्रेट एवं अनुविभागीय अधिकारी  ने नगर निगम के साथ शहर में संचालित हो रहे शादी-घरों (मैरिज गार्डन) की जांच की। जांच रपट के मुताबिक  नगर निगम क्षेत्र में संचालित  14  मैरिज गार्डन पंजीकृत जबकि, 14 मैरिज गार्डन अपंजीकृत हैं तथा 5 मैरिज गार्डनों को अनाधिकृत घोषित किया गया है।

नगर निगम आयुक्त ने बताया कि, अपंजीकृत मैरिज गार्डन संचालकों को आगामी अप्रैल माह के भीतर पंजीयन कराना आवश्यक होगा अन्यथा की स्थिति में 1 मई 2022 को ऐसे सभी अपंजीकृत मैरिज गार्डन भी निरस्त घोषित कर दिए जाएंगे।

उल्लेखनीय है कि, 8 मार्च 2022 को सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में हुई चर्चा के अनुसार शहर की ट्रैफिक एवं सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिगत मैरिज गार्डनों का नियमानुसार संचालन सुनिश्चित करने का निर्णय लिया गया था। जिसके आधार पर यह कार्रवाई की गई है।

ये हैं पंजीकृत मैरिज गार्डन

जारी की गई सूची के अनुसार शहर में 14 पंजीकृत मैरिज गार्डन है जिनमें 
  • ग्रेंड पैलेस (राजीव नगर बार्ड), 
  • मलैया मैरिज गार्डन, 
  • ग्रीनवेली मैरिज गार्डन, 
  • राम सरोज पैलेस, 
  • लक्ष्मीनारायण गार्डन, 
  • गुजराती धर्मशाला (कच्छकड़वा), 
  • सागर सरोज गार्डन, 
  • होटल वरदान, 
  • एम. एस. गार्डन, 
  • जिन्नत मैरिज गार्डन, 
  • दा हेरिटेज, 
  • रॉयल पैलेस 
  • स्तुति मैरिज गार्डन, 
  • प्रेमपरिणय मैरिज गार्डन शामिल हैं।

इसी प्रकार अपंजीकृत मैरिज गार्डन में 
  • होटल दीपक, 
  • संगम होटल, 
  • अमन मैरिज गार्डन, 
  • वृन्दावन मैरिज गार्डन, 
  • निर्मल बंधन, 
  • वृन्दावन मंदिर, 
  • पटेल मैरिज गार्डन 
  • साहू धर्मशाला, 
  • आदर्श गार्डन मोतीनगर,
  • राघव गार्डन, 
  • सेंचुरी गार्डन, 
  • राजा मैरिज गार्डन, 
  • आस्था मैरिज गार्डन 
  • और आर्य समाज ट्रस्ट शामिल हैं।

जबकि, गेडा जी धर्मशाला, सागर सेलिब्रेशन, सिटी मैरिज गार्डन, उत्सव भवन और त्रयंबकेराज पैलेस को अनाधिकृत घोषित किया गया है।


अवैध होर्डिंग्स के खिलाफ कार्रवाई हुई तेज 

↺ स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 को देखते हुये निगम अतिक्रमण दस्ते द्वारा शहर के मुख्य मार्गो, चौराहो और खम्बों पर अनाधिकृत रूप से लगे होर्डिग्स फ्लेक्स, बोर्ड को हटाया जा रहा है। इस कार्यवाही के दौरान तिली चौराहा पर विभिन्न स्थानों पर लगे होर्डिगों को हटाया गया

इसी सिलसिले में राहतगढ़ बस स्टैंड के आस पास अवैध रूप से रखें हुये टपरो को अतिक्रमण दस्ते द्वारा हटाया गया साथ ही अम्बेडकर वार्ड स्थित धर्मश्री चौराहा पर फब्बारा के आसपास एव उसके सामने विभिन्न संस्थाओं 24 घंटे अंदर इन  फ्लेक्स एवं बोर्ड आदि को को हटा ने की चेतावनी दी है अन्यथा नगर निगम द्वारा उन्हें हटाया जायेगा। 

इसके अलावा  खुरई बस स्टैंड आचार्य विद्यासागर महाराज बस स्टैंड परिसर में एक दुकानदार द्वारा नगर निमम की दुकान पर अवैध रूप से कब्जा कर पक्की दुकान का निर्माण सटर लगाकर कर लिया गया था जिसे अतिक्रमण दस्ते  द्वारा हटाये जाने की कार्यवाही की गई।

नगर निगम आयुक्त स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 को दृष्टिगत रखते हुये नगर में जिन स्थानों पर  सौन्दर्यीकरण कराया गया है उन स्थानों पर या उनके आसपास बिना अनुमति के लगाये गए  होर्डिग्स, फ्लेक्स, बोर्ड सख्ती से हटा दिया जायेगा।

एटक सहित सभी केन्द्रीय श्रमिक संगठनों के आव्हान पर नगर पालिक निगम, सागर सहित सफाई कामगार यूनियन एटक जिला सागर, अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस ट्रेड यूनियन, संयुक्त कर्मचारी कल्याण मोर्चा, लघुवेतन कर्मचारी संघ, अजाक्स, छावनी परिषद सागर, मकरोनिया सफाई कामगार यूनियन, म.प्र. अधिकारी कर्मचारी संघ संयुक्त मोर्चा सहित तमाम यूनियनों ने विभिन्न मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा 

कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री  के नाम सौंपा ज्ञापन

कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री  के नाम सौंपा ज्ञापन 

↺ ज्ञापन में  पुरानी पेंशन बहाल किये जाने (2) चार श्रम विरोधी कानून वापिस लेने (3) ठेका प्लेसमेंट संविदा, मस्टर व्यवस्था समाप्त कर सभी को शासकीय कर्मचारी करने (4) स्थाईकर्मी दै.वे.भो. को नियमित किये जाने (5) आयकर मुक्त परिवारों को 7500 रूपये पेंशन दिए जाने  (6) चुंगी क्षतिपूर्ति की राशि केवल वेतन में ही उपयोग किये जाने (7) सातवे वेतनमान की 75 फीसदी राशि ब्याज सहित जनवरी 2016 से दिए जाने व्  (8) स्थाईकर्मी कर्मियों को अनुकंपा नियुक्ति दिए जाने की मांगे शामिल हैं।

दो हजार किलो नकली सेंध नमक जब्त

दो हजार किलो नकली सेंध नमक जब्त 

↺ मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत जिला सुरक्षा खाद्य अधिकारी द्वारा तिलक गंज सागर पापड़ मसाला उद्योग में आयोडीन नमक सेंधा नमक बनाए जाने की सूचना प्राप्त हुई। जिस पर छापामार कार्रवाई की गई जांच करने पर बड़ी मात्रा में नकली सेंधा नमक आयोडीन नमक से बनाते हुए पाया गया। 

जिला सुरक्षा खाद्य अधिकारी  ने बताया कि यह फैक्ट्री मनोज जैन की है। जिसकी कीमत 30 हजार रुपये है। उन्होंने बताया कि फैक्ट्री से 2000 किलो नकली नमक को जब्त  कर फैक्ट्री को सील किया गया है। उन्होंने बताया कि इस फैक्टरी का किसी भी प्रकार का लाइसेंस भी नहीं पाया गया।

ज्यादा फीडबेक से शहर को मिल सकती है ऊंची स्वच्छता रैंकिंग 

↺ शहर को अच्छी रैकिंग दिलाने हेतु नगरवासियों को जो 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के है फीड बैक देकर ऊंची  स्वच्छता रैंकिंग  दिलाने में मदद कर सकते है व्यापारी, दुकानदार, राजनैतिक व सामाजिक संगठनों के सदस्यगण, धार्मिक संगठन,एन.जी.ओ,स्कूल-कालेज के विद्यार्थी सभी अपने स्मार्ट मोबाईल में बार कोड स्केन कर फीडबैक देकर अपना योगदान दें सकते है जिसमें मात्र 40 से 50 सेकेड का समय लगता है।

इस संबंध में निगमायुक्त ने बताया कि स्व्च्छ सर्वेक्षण हेतु नागरिक अपने स्मार्ट मोर्बाइल में स्वच्छता एप को डाउनलोड कर उसमें पूछे गये प्रश्नों के उत्तर देकर फीडबैक दे सकते है या नगर निगम द्वारा बार कोड को अंकित कराकर ये स्टीकर और फ्लेक्स सार्वजनिक स्थानों एवं दुकानों पर चस्पा करायेे है उसको भी अपने मोबाईल पर स्केन एप् डाउनलोड कर  पूछे गये प्रश्नों के उत्तर देकर फीडबैक दे सकते है।

लाल,पीले और हरे रंगों से चिन्हित होंगे जल संकट ग्रस्त क्षेत्र 

↺ कलेक्टर ने ग्रीष्म ऋतु में जिले के सभी क्षेत्रों में पानी की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने एवं ऐसे क्षेत्र जहां जल अभाव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है, उन्हें चिन्हित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि जल संकट ग्रस्त क्षेत्रों को लाल,पीले और हरे क्षेत्र में विभाजित करें। इसके लिए गांवों को जल आपूर्ति के आधार पर उक्त श्रेणियों में चिन्हित किया जाए। 

कलेक्टर ने कहा कि समस्त जनपद कार्यालयों में पेयजल समस्या निवारण के लिए कंट्रोल रूम भी स्थापित किया जा रहा है। इसके अंतर्गत प्रत्येक पंचायत के लिए एक विशेष कॉलिंग और व्हाट्सएप नंबर दिया जाएगा जिसके माध्यम से संबंधित जनपद पंचायत के व्यक्ति पेयजल से संबंधित समस्या दर्ज करा सकेंगे। उन्होंने समस्त जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस कंट्रोल रूम की सुचारू कार्यप्रणाली सुनिश्चित की जाए और पेयजल से संबंधित समस्या पर प्राथमिकता से कार्य करते हुए समस्या का त्वरित निवारण किया जाए।

रानगिर मंदिर में शतचंडी महायज्ञ एक अप्रैल से 

↺ सागर नगर स्थित प्राचीन ऐतिहासिक धार्मिक स्थल मां हरसिद्धी देवी बाघराज मंदिर की  मंदिर समिति की बैठक में 02 अप्रैल 2022 दिन शनिवार से चैत्र नवरात्रि मेला एवं शतचण्डी महायज्ञ का आयोजन किये जाने का निर्णय लिया गया है। इस  सिलसिले  में  जिला प्रशासन, पुलिस एवं निगम को आवश्यक व्यवस्थाओं हेतु अनुरोध किया गया है। 01 अप्रैल दिन शुक्रवार को शतचण्डी महायज्ञ की कलश यात्रा का आयोजन एवं 02 अप्रैल 2022 से शतचण्डी महायज्ञ का आयोजन सुबह नौ बजे से शाम चार बजे तक किया जायेगा।

पक्षियों को बचाइए खुद को बचाइए

पक्षियों को बचाइए खुद को बचाइए 

↺ डॉक्टर हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय सागर में ‘सेव बर्ड्स, सेव योर सेल्व्स’ जनजागरूकता अभियान दल का स्वागत हुआ। कोयम्बटूर के एस ए के फाउंडेशन का यह 15 सदस्यीय दल  कन्याकुमारी से कश्मीर तक पक्षियों के बारे में जनजागरूकता और उन्हें बचाने की मुहिम में भारत-यात्रा पर निकला है 

अभियान दल के मुखिया स्वामी ब्रम्ह ऋषि ने विभाग के विद्यार्थियों और शोधार्थियों को संबोधित करते हुए कहा कि मनुष्य लगातार प्रदूषण फैला रहा है आज के तकनीकी युग में व्यक्ति केवल अपनी सुविधा के बारे में सोच रहा है। जबकि  इस दुनिया में रहने वाले पक्षी हमारी पारिस्थितिकी के अभिन्न अंग हैं। उनका जैव विविधता में भी अहम् योगदान है ऐसे में हमारा यह धर्म है कि हम पर्यावरण संतुलन बनाए रखने के सभी हिस्सों पर काम करें। यदि इस संसार से पक्षी ख़त्म हो जायेंगे तो मनुष्य का भी अस्तित्व खतरे में आ जाएगा 


Political Roundup-देश इस समय धर्मयुद्ध के मुहाने पर खड़ा है-कांग्रेस

सागर वॉच/ 28 मार्च 2022/
  कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव और प्रदेश के सह प्रभारी संजय कपूर ने कहा कि देश इस समय धर्मयुद्ध के मुहाने पर खड़ा है। देश की सत्ता पर काबिज भाजपा और फासिस्टवादी ताकतें अधर्म और अनीति का सहारा लेकर देश में डर का माहौल बना रही हैं। पूरा देश महंगाई बेरोजगारी और भ्रष्टाचार से जूझ रहा है। लेकिन सत्ता में बैठी ताकतें इन पर से जनता का ध्यान हटाने के लिए साम्प्रदायिक तनाव पैदा कर देश में डर का माहौल बना रही हैं।


उन्होंने देश से डर और भय का माहौल खत्म करने व धर्मयुद्ध को जीतने के लिए मजबूत सैनिकों की जरूरत बताई। इसके लिए पार्टी के सदस्यता अभियान को पूरी ताकत से चलकर ज्यादा से ज्यादा नए सदस्य बनाएं। उन्होंने विधानसभा चुनाव में हारी हुई सीटों की समीक्षा करते हुए उन्हें वापस जीतने के लिए कार्यकर्ताओं के विचार जाने।

पीसीसी से सागर जिला प्रभारी विधायक अजय टंडन ने कहा कि प्रदेश में खरीद-फरोख्त और लूट तंत्र से बनी हुई भाजपा की सरकार को शिकस्त देने के लिए मजबूत रणनीति के साथ सभी कांग्रेसजन तैयार रहें और अधिक से अधिक नए सदस्य बनाए। 
                
कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव और प्रदेश के सह प्रभारी संजय कपूर तथा पीसीसी से सागर जिला प्रभारी विधायक अजय टंडन से मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता एवं सागर संभाग प्रभारी डॉ संदीप सबलोक सहित  सागर जिले की ग्रामीण क्षेत्र की रहली सुरखी नरयावली खुरई बीना  5 विधानसभा सीटों से विभिन्न वरिष्ठ नेताओं पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने मुलाकात कर अपनी बात रखी। 

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव और प्रदेश के सह प्रभारी संजय कपूर ने जिला ग्रामीण कांग्रेस के अंतर्गत विधानसभा क्षेत्रवार अलग अलग बैठकें लीं। इस दौरान उनके साथ पीसीसी से सागर जिले के प्रभारी व दमोह विधायक अजय टंडन एआईसीसी सदस्य भपेंद्र सिंह मुहासा व जिला कांग्रेस अध्यक्ष रेखा चौधरी भी मौजूद रहे। बैठक के दौरान सदस्यता अभियान की स्थिति की जानकारी लेकर ज्यादा से ज्यादा नए सदस्य बनाने पर ज़ोर दिया गया। इसके साथ ही उन्होंने पिछले चुनाव में हारी हुई विधानसभा सीटों की समीक्षा की। उन्होंने इन सीटों पर जीत हासिल करने के उपायों पर भी बात की।

इस दौरान पीसीसी के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी पूर्व मंत्री प्रभुसिंह ठाकुर आनंद अहिरवार देवेंद्र कुमार धनसिंह अहिरवार आनंद तोमर शारदा खटीक शैलेंद्र तोमर हाजी मुन्ना ठाकुर दास पंथी सुधीर जैन चौधरी मोती पटेल प्रहलाद पटेल गणेश तिवारी रक्षा राजपूत गजेंद्र सिंह राजपूत प्रदीप राय राजाराम अहिरवार वकील रामकिशन अहिरवार महेंद्र सिंह दीनदयाल उपाध्याय जतिन झा  रामकिशन अहिरवार जतिन चौकसे निखिल चौकसे जीवन पटेल कमलेश साहू मजीद खान यासीन खान समीर संबंधित विधानसभाओं की जिला कांग्रेस पदाधिकारी ब्लॉक मंडल अंबा सेक्टर अध्यक्ष मोर्चा संगठनों विभाग एवं प्रकोष्ठ के पदाधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे। इस दौरान पीसीसी के स्थानीय प्रदेश पदाधिकारियों अमित राम जी दुबे मुकुल पुरोहित रामकुमार पचोरी चिंटू कटारे आदि ने भी उनसे मुलाकात की

प्रत्येक राष्ट्रवादी भारतीय सिर्फ कांग्रेस पार्टी का ही सदस्य रहा

News In Short : ख़बरें संक्षेप में 

सागर वॉच/27 मार्च 22

प्रत्येक राष्ट्रवादी भारतीय सिर्फ कांग्रेस पार्टी का ही सदस्य रहा

↺ अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव सह प्रभारी संजय कपूर का कहना है कि किसी भी संगठन की ताकत उसके सदस्यों से आंकी जाती है। कांग्रेस का गौरवशाली इतिहास है कि प्रत्येक राष्ट्रवादी भारतीय सिर्फ कांग्रेस पार्टी का ही सदस्य रहा है। 

पार्टी के  सदस्यता अभियान व् विधानसभा चुनाव् की समीक्षा के लिए रविवार को  सागर आये पीपीसी के सचिव सह प्रभारी कपूर ने  शहर के ह्रदय स्थल कहे जाने वाले तीनबत्ती पर स्थित पार्टी के मुख्यालय पर पार्टी के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं से मुलाक़ात की।  

इस मौके पर अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि देश इस समय  विपरीत परिस्थितियों से जूझ रहा है। आम जनता महंगाई बेरोजगारी और भ्रष्टाचार से बुरी तरह पीड़ित है और कांग्रेस की तरफ उम्मीद से देख रही है। इस पीड़ित आवाम को पार्टी से जोड़कर उन्हें राहत दिलाने की कोशिश  कांग्रेसजनो को करना चाहिए।

छात्रवृत्ति  पोर्टल  पर आवेदन करें 

↺ मुख्यमंत्री जनकल्याण (शिक्षा प्रोत्साहन) योजना अंतर्गत निःशुल्क शिक्षा के लाभ हेतु मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल में पंजीकृत श्रमिकों के पुत्र-पुत्रियां स्टेट छात्रवृत्ति  पोर्टल  पर आवेदन कर सकते हैं। योजना के अंतर्गत पात्र छात्र-छात्राओं को उक्त पोर्टल पर लाभ लेने हेतु अतिशीघ्र आवेदन करवाने के निर्देश  दिए गए हैं। 

28 मार्च से शरू होंगी 11वीं की कक्षाएँ 

↺ लोक शिक्षण आयुक्त मप्र ने सभी संभागीय संयुक्त सचांलक लोक शिक्षण संभाग, जिला शिक्षा अधिकारी, समस्त प्राचार्य शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय को शिक्षण सत्र 2022-23 हेतु प्रदेश के शासकीय विद्यालयों में 28 मार्च से कक्षा 11वीं की कक्षाएँ संचालित करने के लिए कहा  हैं। इन कक्षाओं में 10 वीं की परीक्षा में सम्मिलित हो चुके विद्यार्थी शामिल होगें। 

अधिकृत जानकारी के मुताबिक 11वीं की कक्षा का संचालन विद्यालयों में उपलब्ध शिक्षकों एवं अतिथि शिक्षकों की मदद से किया जाएगा। संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी विद्यालय में आवश्यक शिक्षकों की उपलब्धता सुनिश्चित करेगे। इस हेतु वे बोर्ड, स्थानीय परीक्षाओं के मूल्यांकन में आसंजित शिक्षकों का युक्तियुक्तकरण कर सकेंगे। 

कक्षा 10वीं की अर्द्धवार्षिक परीक्षा के प्राप्तांको के आधार पर विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों को संकाय चयन हेतु विद्यालय प्रबंधन द्वारा मार्गदर्शन किया जायेगा । विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों की सहमति से कक्षा 11वीं में संकायवार विद्यार्थियों को अस्थायी प्रवेश दिया जाये। 

 गृह प्रवेश कार्यक्रम 29 मार्च को         

↺ प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 29 मार्च दिन मंगलवार को मध्यप्रदेश के साथ-साथ सागर जिले में भी प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गृह प्रवेश कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। जिसके तहत 23 हजार से अधिक हितग्राहियों को लाभान्वित होकर वह अपने अपने घरों में पूजन अर्चन करने के पश्चात गृह प्रवेश करेंगे । कलेक्टर ने जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है। सागर जिले में 23064 हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गृह प्रवेश कराया जाएगा।

  उन्होंने बताया कि जिले के 11 विकासखण्ड में बंडा में 2603, बीना में 1104, देवरी में 1886, जैसीनगर में 1804, तीसरी में 2764 ,खुरई में 1374, मालथौन में 2052 ,राहतगढ़ में 2332 ,रहली मैं 3119 ,सागर में 2747 एवं शाहगढ़ विकासखंड में 1279 हितग्राहियों का गृह प्रवेश किया जाना है । श्री सिंघल ने बताया कि इसके पश्चात भी जो पात्र हितग्राही वंचित रह गया है उनको भी शीघ्र ही प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत राशि स्वीकृत कर आवास का गृह प्रवेश कराया जाएगा।

16000 से अधिक नवसाक्षर ने दी परीक्षा

16000 से अधिक नवसाक्षर ने दी परीक्षा 

↺ जिला प्रौढ़ शिक्षा अधिकारी सुधीर तिवारी ने बताया कि राज्य साक्षरता मिशन प्राधिकरण भोपाल द्वारा आयोजित बुनियादी साक्षरता परीक्षा में सागर जिले में 1857 सामाजिक चेतना केंद्र परीक्षा केंद्र बनाए गए थे जिनमें 16000 से अधिक नवसाक्षर ने 11 विकास खंडों में परीक्षा दी।  उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय संस्थान एनआईओएस के द्वारा संपूर्ण परीक्षा का परीक्षा फल जल्दी ही घोषित किया जाएगा ।

News In Short-25 Mar 22-आकाश दाल मिल पर छापा, 80 हजार का तेल जब्त

News In Short :
 ख़बरें संक्षेप में 

सागर वॉच/25 मार्च 2022/ 

जनता के फीडबैक से मिलेगी ऊंची रैंकिंग

स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 की तैयारियों को लेकर नगर निगम आयुक्त ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 के ब्राण्ड एम्बेसिडर,नागरिकों, जनप्रतिनिधियों तथा समाजसेवियों के साथ कसाई मंडी स्थित रेल्वे ब्रिज के पास से लेकर विजय टाकीज रोड माता मढिया मंदिर के दोनों ओर स्थित दुकानों एवं होटल का निरीक्षण किया। इस मौके पर उन्होंने दुकानदारों को शहर को स्वच्छता रैकिंग में अच्छा स्थान दिलाने के लिए साफ़-सफाई रखने की हिदायत दी

नुक्कड नाटकों के माध्यम से भी लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया जा रहा है। निगमायुक्त ने दुकानदारों को यह भी समझाया कि स्वच्छता में अच्छी रैकिंग हासिल करने के लिये नागरिकों का  फीडबैक देना बहुत ही अहम् है इसलिये दुकानों में फीडबैक देने हेतु बार-कोड स्टीकर चस्पा कराये जा रहे हैं ।

अटल उद्यान में लगेगी 30 फुट ऊंची प्रतिमा 

↺ देश  के पूर्व प्रधानमंत्री एवं भारत रत्न स्व.अटल बिहारी बाजपेयी की प्रतिमा सागर में उनके नाम से ही स्थापित अटल पार्क परिसर में लगायी जाना है। 30 फुट ऊॅची और लगभग 6 से अधिक टन वजनी प्रतिमा को लगाने की तैयारियॉं नगर निगम द्वारा प्रारंभ कर दी गई हैं। जिस स्थान पर प्रतिमा स्थापित की जाना है उस स्थल पर अटल जी रचित 52 कवितायें भी अंकित करायी जा रही हैं।

अवकाश के दिन भी खुला रहेगा नगर निगम 

↺ नगर निगम कार्यालय करदाताओं को निगम के बकाया करों को जमा करने की सुविधा की दृष्टि से 26 एवं 27 मार्च 2022 (अवकाश के दिनों में भी)खुला रहेगा।

सड़क निर्माण कार्य में तेजी लायें-कलेक्टर

सड़क निर्माण कार्य में तेजी लायें-कलेक्टर 

↺ सागर-छतरपुर मार्ग पर मकरोनिया में बन रहे आरओबी एवं सागर सरोज होटल, धर्मश्री से मोतीनगर चौराहा तक का मार्ग को एक माह के अंदर शुरू होगा। विभागों के निर्माण कार्यों की समीक्षा बैठक में कलेक्टर ने कहा कि 30 अप्रैल तक इन दोनों मार्गों  को पूरा नहीं करने की  स्थिति में संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। सागर विश्वविद्यालय से रहली चांदपुर चौराहे तक बनने वाली 37 किलोमीटर की सड़क  का कार्य शीघ्र प्रारंभ करें। 

लोक निर्माण विभाग की समीक्षा करते हुए विभाग के हरिशंकर जयसवाल ने बताया कि विभाग द्वारा 1000 किलोमीटर से अधिक की सड़कें जिले में बनाई जाना है जिनमें कुछ किलोमीटर की सड़कों का नवीनीकरण एवं कुछ किलोमीटर की सड़कों का मजबूती करण कार्य किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि 324 किलोमीटर की सड़कों पर काम चल रहा है एवं 152 किलोमीटर की सड़कों का नवीनीकरण भी किया जा रहा है । उन्होंने बताया कि देवरी केसली नाहर मऊ साढ़े 3 किलोमीटर एवं बंडा पाटन मार्ग एक किलोमीटर में वन भूमि आने के कारण कार्य अवरुद्ध है।

लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण यंत्री के मुताबिक जिले में तीन विश्राम गृह गढ़ाकोटा, रहली एवं शाहपुर में तैयार किए जा रहे हैं जिनमें शाहपुर विश्राम गृह का कार्य प्रारंभ नहीं हो सका है शीघ्र ही यह कार्य प्रारंभ हुआ जबकि रहली गढ़ाकोटा विश्राम गृह का कार्य पूर्णता पर है । कलेक्टर ने मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम  की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि धर्मश्री से मोती नगर तक का सड़क  शीघ्र प्रारंभ करें । उन्होंने जिले में बन रही सड़कों का कार्य भी शीघ्र गति से करने के निर्देश दिए।

  कलेक्टर ने  सागर खुरई बीना रोड पर बन रहे आरोबी का कार्य भी शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए । कलेक्टर ने  पीआईयु  विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि शिक्षा विभाग के कार्यों को प्राथमिकता के साथजल्जिद पूरे करें जिससे  नवीन सत्र में छात्र छात्राओं को भवन उपलब्ध हो सके। विभाग के मुखिया  ने  बताया कि विभाग द्वारा 28 कार्यों को किया जा रहा है। जिनमें 15 कार्य शिक्षा विभाग के पांच कार्य राजस्व विभाग के दो कार्य स्वास्थ्य विभाग के, एक कार्य विधि विधाई कार्य विभाग का ,एक एक कार्य लोक सेवा प्रबंधन ,सामाजिक न्याय ,आईटीआई ,अनुसूचित जाति विभाग के हैं जो कि  प्रगतिरत हैं।

  कलेक्टर ने सेतु विभाग की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि जिले में बन रहे 14 सेतु का कार्य शीघ्र गति से किया जाए। विभाग की एसडीओ साधना सिंह ने बताया कि सागर रहली जबलपुर सड़क  सेतु का निर्माण किया जा रहा है इनमें से अनेक सेतु का कार्य पूर्ण किया जा चुका है।


आकाश दाल मिल पर छापा, 80 हजार का तेल जब्त

आकाश दाल मिल पर छापा, 80 हजार का तेल जब्त
 

↺ सागर मिलावट से मुक्ति अभियान के तहत जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा शुक्रवार को  औद्योगिक क्षेत्र बीना-नौगांव में छापामार कार्रवाई की अधिकृत जानकारी के मुताबिक आरोपी द्वारा  निष्क्रिय हो चुके लाइसेंस की आड़ में  तेल के जार एवं पाउच की पैकिंग की जा रही थी।कारवाई में खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने 840 पाउच 500 मिलीग्राम के जब्त किए हैं। जिनकी बाज़ार में  कीमत करीब 80 हजार बताई जा रही है।

खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि नौगांव इंडस्ट्रीज एरिया क्षेत्र में स्थित आकाश दाल मिल संचालक ने तेल की री-पैकिंग करने का लाइसेंस लिया है। लेकिन संचालक एक्सपायर हुए पंजीयन से व एक  नंबर के पंजीयन से दो पंजीयन की भी तेल की पैकिंग कर रहा था जिसको जब्त तक कर लिया गया है। 

नियम विरुद्ध कारोबार को सख्ती से बंद कराया जायेगा

News In Short : ख़बरें संक्षेप में 

 सागर वॉच/23 मार्च, 2022


30 मार्च के तक होंगे ऋण स्वीकृत

↺ शासन की विभिन्न विकास योजनाओं से स्व-रोजगारियों को ऋण एवं अनुदान राशि का वितरण किया जाए। कलेक्टर ने बुधवार को डीएलसीसी की बैठक में निर्देश दिये कि सभी बैंकर्स से कहा कि बैंकों में दर्ज स्व-रोजगार के सभी प्रकरणों में 30 मार्च के पूर्व ऋण स्वीकृत कर वितरित करें। कलेक्टर ने प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना अंतर्गत एक जिला एक उत्पाद योजना के समस्त प्रकरणों का निराकरण करने के लिए भी जोर दिया।

News In Short 23 Mar 22-  बैंकों को तीस  मार्च तक करना होगा ऋण  वितरण

टाटा कम्पनी पुराने काम की मरम्मत करने बाद ही नया काम चालू करे 

↺ टाटा कम्पनी जब तक पुराने खोदे गये स्थानों पर पाईप लाईन बिछाकर उसका परीक्षण और मरम्मत  नहीं कर देते तब तक नये स्थान पर खुदाई का कार्य प्रारंभ ना किया जाय। कार्य में तेजी लाने हेतु दोनों एंजेसियॉं डबल शिफ्ट में कार्य करायें और परकोटा रोड पर पाईप लाईन बिछाये जाने के कार्य को रात्रि 10 से प्रारंभ कर सुबह तक किया जाय ताकि नागरिकों को यातायात में परेशानी ना हो।

टाटा एवं सीवर प्रोजेक्ट के अंतर्गत चल रहे कार्यो की नगर निगम में आयोजित हुयी समीक्षा बैठक में निर्देश दिये कि टाटा रि-स्टोरेशन का कार्य गुणवत्ता से करायें और कार्य के पश्चात् स्थान पर जो गिट्टी आदि छोड़ दी जाती है उसकी सफाई भी करायी जाये तथा जहॉ काम किया जा रहा है उसकी जानकारी से संबंधितों को अवगत करायें ताकि यह पता रहे कि यह कार्य किस एंजेसी के द्वारा किया जा रहा है।


 लकड़ी टालों पर लगातार रखी जाएगी नजर 

↺ विगत दिनों तिलक गंज में हुई भीषण आगजनी की घटना के तत्काल पश्चात जिले के संवेदनशील कलेक्टर श्री दीपक आर्य ने बुधवार को शहर के समस्त लकड़ी टाल संचालकों के साथ कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में बैठक आयोजित की। बैठक में आम सहमति और चर्चा उपरांत स्पष्ट रूप से निर्देशित किया गया कि समस्त लकड़ी टालों को 3 माह के अंदर फर्नीचर क्लस्टर सिद्धगुवां में शिफ्ट किया जाए। विस्थापित नहीं होने पर वे पुरानी जगह कारोबार नहीं कर सकेंगे। शहरवासियों के हित को ध्यान में रखते हुए और भविष्य में किसी भी प्रकार की दुर्घटना से बचने के लिए यह निर्णय आवश्यक है।

नियम विरुद्ध कारोबार को सख्ती से बंद कराया जायेगा 

↺ बीते दिनों शहर में हुई आगजनी की घटना के मद्देनजर जिला प्रशासन जिला प्रशासन शहर के लकड़ी के  टाल सहित अन्य संवेदनशील संस्थानों को सुरक्षित जगह ले जाना की योजना बना रहा है। इसी परिपेक्ष्य में लकड़ी टाल संचालकों की बैठक आयोजित की गई। जिसमें बताया गया  कि इसके अतिरिक्त ट्रांसपोर्ट नगर, मैकेनिक नगर और डेयरी विस्थापन भी प्रक्रियाधीन है। जिले वासियों के हित में किए जा रहे यह सभी कार्य अत्यंत महत्वपूर्ण हैं।

 बैठक में निर्देश दिए गए कि, फर्नीचर क्लस्टर क्षेत्र सिद्धगुवां में 3 माह के अंदर समस्त लकड़ी टालों को विस्थापित किया जाए। यहां समस्त आवश्यक मूलभूत सुविधाएं जैसे पेयजल, सड़क, विद्युत सहित अन्य व्यवस्थाएं भी सुनिश्चित की जाएंगी। 

कलेक्टर के मुताबिक  जब तक समस्त टाल विस्थापित नहीं होते तब तक सिटी मजिस्ट्रेट, नगर पुलिस अधीक्षक एवं तहसीलदार लगातार उक्त क्षेत्रों में कार्यों की मॉनिटरिंग करें। मॉनिटरिंग करते समय समस्त टालों में फायर सेफ्टी के उपकरण, फायर ब्रिगेड आने जाने के लिए सुगम रास्ता,विद्युत सप्लाई की उचित व्यवस्था सहित अन्य आवश्यक व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करेंगे। व्यापारियों से सहयोग न मिलने की स्थिति में प्रशासन एवं पुलिस द्वारा सख्ती के साथ कारोबार को बंद किया जाएगा।


ई-उपार्जन पोर्टल पर सुविधा शुरू

↺ रबी विपणन वर्ष 2022-23 के लिए कृषकों को समर्थन मूल्य पर गेहू विक्रय करने हेतु एसएमएस के इन्तजार को समाप्त करते हुए अब कृषक  उपज विक्रय करने के लिए उपार्जन केन्द्र का चयन एवं उपज विक्रय की दिनांक स्वयं ई-उपार्जन पोर्टल पर कर सकेंगे।

जारी निर्देशों के अनुसार प्रत्येक उपार्जन केन्द्र पर गेहूं की तौल क्षमता का निर्धारण पोर्टल पर किया जाएगा, जिसके अनुसार प्रति तौल कांटा प्रतिदिन 250 क्विंटल के मान से गणना की गई है।

प्रत्येक उपार्जन केन्द्र पर प्रतिदिन न्यूनतम 1000 क्विंटल उपज की तौल हेतु 4 तौल कांटे आवश्यक रूप से लगाए जाएंगे एवं उपार्जन केन्द्र पर गेहूं की आवक अनुसार तौल काटों की संख्या में वृद्धि भी की जाएगी।  

किसान भाइयों द्वारा 23 मार्च से वेबसाइट  पर स्लॉट बुकिंग की जा सकेगी। इस लिंक की जानकारी एसएमएस के माध्यम से कृषक के मोबाइल पर प्रेषित की जाएगी। ई-उपार्जन पोर्टल पर पंजीकृत, सत्यापित कृषक द्वारा स्वयं के मोबाइल, एमपी ऑनलाईन, सीएससी, ग्राम पंचायत, लोक सेवा केन्द्र, इन्टर नेट कैफे, उपार्जन केन्द्र से स्लॉट बुकिंग की जा सकेगी। स्लॉट बुकिंग हेतु कृषक के ई-उपार्जन पोर्टल पर पंजीकृत मोबाइल पर ओटीपी प्रेषित किया जाएगा, जिसे पोर्टल पर दर्ज करना होगा।

सोमवार से शुक्रवार तक होगा उपार्जन

↺ कृषकों को अपनी उपज विक्रय करने हेतु स्लॉट बुकिंग दो पारी में प्रातः 9 से 1 बजे एवं अपरान्ह 2 से 6 बजे तक की जा सकेगी, जिसमें से एक पारी का चयन किया जा सकेगा। उपार्जन का कार्य सोमवार से शुक्रवार तक किया जाएगा एवं उपज विक्रय हेतु इसी अवधि की स्लॉट बुकिंग की जा सकेगी। कृषक द्वारा उपज विक्रय हेतु आगामी 7 दिवस में फसल विक्रय हेतु स्लॉट बुकिंग की जा सकेगी एवं स्लॉट की वैद्यता अवधि 3 कार्य दिवस तक रहेगी।

इस मात्रा के अनुसार ही कृषक से उपज की खरीदी की जा सकेगी।  निर्धारित दिवस में उपार्जन केन्द्र की तौल क्षमतानुसार स्लॉट बुक होने पर कृषक को आगामी रिक्त क्षमता वाले दिवस हेतु स्लॉट बुक करना होगा।

कृषक द्वारा स्लॉट बुकिंग करने के उपरांत उपार्जन केन्द्र का नाम, विक्रय योग्य मात्रा एवं विक्रय की दिनांक एसएमएस के माध्यम से सूचित की जाएगी तथा इसका प्रिन्ट भी निकाला जा सकेगा। कृषक द्वारा विक्रय की जाने वाली संपूर्ण उपज की स्लॉट बुकिंग एक समय में ही करनी होगी, आंशिक स्लॉट बुकिंग/आंशिक विक्रय नहीं किया जा सकेगा। कृषक द्वारा निर्धारित उपार्जन केन्द्र पर स्लॉट बुकिंग करने के उपरांत अन्य केन्द्र पर कृषक पंजीयन परिवर्तन, स्थानांतरण की सुविधा नहीं होगी।

 25 मार्च से प्रारंभ होगा रबी उपार्जन 

↺ रबी उपार्जन की प्रक्रिया 25 मार्च से प्रारंभ होगी।  जिला कलेक्टर ने उपार्जन शुरू होने से पहले ही उपार्जन केंद्र पर आवश्यक मूलभूत सुविधाएं सुनिश्चित कराएं एवं गेहूं चना सरसों का भौतिक सत्यापन भी शत-प्रतिशत सुनिश्चित करने के के लिए कहा है। इसके अलावा उन्होंने एसडीएम, तहसीलदार एवं जेएसओ उपार्जन केंद्रों का भौतिक सत्यापन करने  एवं समस्त रबी उपार्जन केंद्र पर भंडारण, परिवहन, बारदाने सहित समस्त अन्य मूलभूत व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के लिए कहा है। 

कलेक्टर ने बताया  कि इसी प्रकार उपार्जित फसल के भुगतान की राशि सीधे किसानों के खातों में हस्तांतरित होगी। इसके लिए उनको अपने अपने बैंक खातों में आधार नंबर लिंक कराना अनिवार्य होगा। उन्होंने बताया कि परिवर्तित व्यवस्था में फसल बेचने के लिए किसान, निर्धारित पोर्टल से नजदीक के उपार्जन केन्द्र, तिथि और टाईम स्लॉट का स्वयं चयन कर सकेंगे। उपार्जन केन्द्र, तिथि और टाईम स्लॉट का चयन नियत तिथि के पूर्व करना अनिवार्य होगा। सामान्य तौर पर उपार्जन प्रारंभ होने की तिथि से एक सप्ताह पूर्व तक उपार्जन केन्द्र तिथि और टाईम स्लॉट का चयन किया जा सकेगा।

कलेक्टर ने उपार्जन केंद्रों पर 25 मार्च के पूर्व बारदाना सहित अन्य व्यवस्थाएं करने और इसका भौतिक सत्यापन समस्त विभागीय अधिकारी तहसीलदार सहित अन्य वरीय अधिकारी कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के लिए कहा है । उन्होंने निर्देश दिए कि परिवहन भी समय पर हो और वेयर हाउस में सर्वेयर का मोबाइल नंबर, वेयर हाउस के बाहर चस्पा करें ।

25 मार्च के पश्चात  केवल अनुमत्य शीर्ष देयक ही  स्वीकार  होंगे

↺ आयुक्त कोष एवं लेखा द्वारा मार्च के अंतिम कार्य दिवसों में देयकों की प्रस्तुति एवं भुगतान हेतु कोषालयों में व्यवस्था की गई है। 25 मार्च के पश्चात अनुमत्य शीर्ष के देयकों को छोड़कर अन्य कोई देयक कोषालय में स्वीकार नहीं किए जाएंगे। 

जिसमें वेतन, वेतन एरियर्स, चिकित्सा प्रतिपूर्ति, विद्युत देयक एवं पेंशन, 25 मार्च तक प्रस्तुत किए जा चुके देयक जो आपत्ति में वापस किए गए हो, केन्द्रीय क्षेत्रीय योजनाओं, केन्द्र प्रवर्तीत योजनाओं, 15वें वित्त आयोग से संबंधित देयक जिनके आहरण के लिए वित्त विभाग द्वारा 25 मार्च या उसके पश्चात स्वीकृति जारी की गई हो, पूंजीगत व्यय से संबंधित देयक, अन्य देयक केवल वित्त विभाग, आयुक्त, कोष एवं लेखा की विशेष अनुमति से स्वीकार किए जा सकेंगे।

सभी आहरण एवं संवितरण अधिकारी 25 मार्च तक देयक कोषालय में प्रस्तुत करें। प्रदेश के समस्त कोषालय 26 मार्च एवं 27 मार्च को खुले रहेंगे। कोषालय अधिकारी एवं देयक भुगतान से संबंधित कोषालय, उपकोषालय के समस्त कर्मचारी उपस्थित रहेंगे। 23 मार्च से 31 मार्च तक देयकों के भुगतान से संबंधित कोई अधिकारी, कर्मचारी को अवकाश अनुमत्य नहीं होगा।                       

छात्रवृत्ति के लिए पोर्टल प्रारम्भ

↺ पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के तहत शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए शासकीय महाविद्यालयों, शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था के नवीन छात्रवृत्ति के ऑनलाइन आवेदनों के लिये पिछड़ा वर्ग पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति पोर्टल प्रारम्भ किया गया है। समस्त शासकीय शैक्षणिक संस्थाएं वर्ष 2021-22 में पिछड़ा वर्ग के नवीन प्रवेशित छात्रों के लिये पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति के नवीन आवेदन उक्त पोर्टल पर ही दर्ज करवायें।        

मकरोनिया रेलवे अन्डर ब्रिज 24 मार्च को बंद रहेगा

 मकरोनिया रेलवे अन्डर ब्रिज क्रमांक 1056/2 पर वरिष्ठ खण्ड अभियंता कार्य निर्माण भोपाल द्वारा नॉन इंटर लूकिंग का कार्य किया जाएगा। उक्त ब्रिज 24 मार्च को दिन व रात के लिए सड़क यातायात के लिए बंद रहेगा। 

शासकीय कार्यालय सप्ताह में 5 दिवस खुलेंगे

↺ सामान्य प्रशासन विभाग के माध्यम से राज्य शासन द्वारा कोविड-19 महामारी के रोकथाम एवं बचाव के संबंध में संपूर्ण प्रदेष के शासकीय कार्यालयों के कार्यदिवस सप्ताह में 5 दिवस (सोमवार से शुक्रवार) निर्धारित किए गए थे, उक्त आदेष 31 मार्च 2022 तक प्रभावी है। राज्य शासन द्वारा इसी अनुक्रम में यह निर्णय लिया गया है कि उक्त आदेश  30 जून 2022 तक प्रभावी रहेगा।

पूर्व सैनिकों के लिए रोजगार के अवसर

↺ डीजीआर, नई दिल्ली अंतर्गत पूर्व सैनिकों के लिए कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय में लाईब्रेरी एण्ड इन्फार्मेंषन असिस्टेंट का एक पद रिक्त है। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी केप्टन (नौसेना) यूपीएस भदौरिया (से.नि.) ने बताया कि जो पूर्व सैनिकांं का जिला सैनिक कल्याण कार्यालय में पंजीकृत है और लाइब्रेरी साइंस और लाइब्रेरी सूचना विज्ञान  में डिप्लोमा किया है वे अपना आवेदन 25 मार्च तक कार्यालय में जमा कर सकते है। विस्तृत जानकारी के लिए जिला सैनिक कल्याण कार्यालय में संपर्क कर सकते है।

ट्रांसपोर्ट नगर  का स्थल निरीक्षण 

↺ सागर में लगभग 1200 बड़े मालवाहक वाहन रजिस्टर्ड हैं। इनमें से लगभग 25-30 प्रतिशत गाड़ियां खड़ी रहती होंगी इसलिए ट्रांसपोर्ट नगर में ट्रकों व अन्य वाहनों की संख्या को ध्यान में रखते हुए पार्किंग एरिया का निर्माण करें। इसके साथ ही माल लोडिंग सहित इनके अधिकतम वजन का ध्यान रखते हुए फ्लोर तैयार करें, ताकि कीचड़ आदि की समस्या न हो। 

कलेक्टर ने सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा अमावनी में बनाए जा रहे ट्रांसपोर्ट नगर का स्थल निरीक्षण कर बताया कि ट्रकों की आवाजाही के साथ जनता का भी आना जाना बढेगा इसलिए यहां पानी, बिजली, ड्रेनेज़ आदि सभी मूलभूत सुविधाओं व अग्नि सुरक्षा, पुलिस व्यवस्था के भी प्रावधान रखे जायेंगे । 

इसके साथ ही उन्होंने भोपाल रोड के पास बनाए जाने वाले बस स्टैंड एवं न्यू आरटीओ ऑफिस के पास बनाएं जाने वाले बस स्टैंड का भी स्थल निरीक्षण कर दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यहां भी पानी, बिजली आदि सभी आवश्यकताओं का ध्यान रखें। बसों को धोने व सुधारने आदि के लिए अलग से वर्कशॉप एरिया का निर्माण करें, ताकि बस स्टैंड परिसर स्वच्छ रहे।कलेक्टर ने स्मार्ट रोड के तहत तिली चौराहे के व्यवस्थित व सुन्दर निर्माण के साथ यहां के ट्रैफिक को सुगम बनाने के लिए स्थल पर चौराहा निर्माण से पहले किए गए मार्किंग का भी निरीक्षण किया। 

जिला चिकित्सालय को  पीजी के लिए 6 सीटें मिलीं 

↺ जिला चिकित्सालय तिली अस्पताल में पीजी के लिए 6 सीटें मिलने पर संपूर्ण सागर जिले में खुशी की लहर व्याप्त है।  सिविल सर्जन डॉक्टर ज्योति चौहान ने बताया कि यह मध्यप्रदेश में सर्वाधिक छह सीटें जिला चिकित्सालय को प्राप्त हुई है इससे हमारे लिए स्वास्थ्य व्यवस्था को और सुचारू बनाने में कारगर सिद्ध होगी।

डॉ ज्योति चौहान ने बताया कि सागर जिला अस्पताल  में फेमिली मेडीसिन, ऑप्थेलमालॉजी और पीडियाट्रिक्स, में  दो- दो सीट्स की मान्यता दी गईं है। नेशनल बोर्ड ऑफ एक्जामिनेशन द्वारा ग्वालियर, सागर, जबलपुर, सतना और विदिशा जिला अस्पताल को  विभिन्न विषय में 14 पी. जी. डिप्लोमा सीटस की मान्यता  दी गई है।

स्वास्थ्य आयुक्त डॉ. सुदाम खाड़े ने बताया कि एन. बी. ई. ने  ग्वालियर जिला अस्पताल में डीजीओ की दो सीट,   सागर जिला अस्पताल  में फेमिली मेडीसिन, ऑप्थेलमालॉजी और पीडियाट्रिक्स, में  दो- दो सीट्स की मान्यता दी गई है। जबलपुर जिला अस्पताल  में पीडियाट्रिक्स और ऑप्थेलमालॉजी की एक-एक सीट, सतना जिला अस्पताल  में डीजीओ की 2 सीट और विदिशा जिला अस्पताल में  डीजीओ की 2 सीटस की मान्यता दी गई है। एनबीई के द्वारा प्रदेश के 5 जिला अस्पताल को 14 पीजी डिप्लोमा सीट्स का एक्रीडिएशन दिसम्बर 2026 तक के लिए किया गया है।