Articles by "Sagar News"
Sagar News लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

Yoga Niketan Foundation Day- परेशानियों से उबारते हैं यज्ञ -संरक्षक पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट


सागर वॉच।
 
भारतीय संस्कृति में यज्ञ का बड़ा महत्व है। हर पहर में और धार्मिक आयोजन में यज्ञ होता है। इसके भौतिक और आध्यात्मिक दोनो तरह के लाभ है। जहा यज्ञ होता है वहा परेशानियो से लोग उबर जाते है। प्रदूषण से मुक्ति मिलती है। कीटाणुओं से फैलने वाली बीमारियों को नियंत्रित किया जा सकता है। इसके भारत में उदाहरण भी है। 

यह विचार योग निकेतन योग प्रशिक्षण संस्थान के 54 वाँ तीन दिवसीय स्थापना दिवस समारोह के  आज हुए समापन कार्यक्रम में रिटायर्ड आईपीएस और
संरक्षक पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट मध्य प्रदेश वेद प्रकाश शर्मा ने
 व्यक्त किये । इसी मौके पर उन्होंने उन्होंने योगाचार्य विष्णु आर्य के जन्मदिन पर शुभकामनाए देते हुए कहा कि आप शतायु हो लेकिन किसी के अधीन नहीं रहे। 

कार्यक्रम  में  मुख्य अतिथि विहिप के जिला अध्यक्ष अजय दुबे, सहित, पूर्व सांसद लक्ष्मी नारायण यादव , पुष्पांजलि शर्मा ,राज्य प्रभारी पतंजलि योग समिति, पूर्व विधायक सुनील जैन, डा गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय सागर के योग विभाग के अध्यक्ष प्रो गणेश शंकर भी मौजूद  रहे। संस्थान के संचालक योगाचार्य विष्णु आर्य के मार्गदर्शन में आयोजन संपन्न हुआ।  समापन अवसर पर 24 कुंडीय यज्ञ की पूर्णाहूति के बाद प्रसादी वितरण हुआ। 

इस मौके पर विश्व हिंदू परिषद के जिलाध्यक्ष और समाज सेवी अजय दुबे ने कहा कि गुरु तो सभी के होते है। लेकिन सदगुरु मिलना कठिन है। सदगुरु के आशीर्वाद से ही जीवन का सही मार्ग प्रशस्त होता है। उन्होंने कहा कि योगाचार्य विष्णु आर्य को पद्मश्री जैसे सम्मान मिलना चाहिए। वे हमारे गौरव है। जिनकी देश दुनिया में ख्याति है।

योग विभाग के अध्यक्ष प्रो गणेश शंकर ने बताया कि केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री मोदी ने योग के महत्व को बढ़ाया है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की। शुरुआत कराई। इसके अलावा अनेक। योजनाओ के जरिए सरकार प्रोत्साहित कर रही है। 

उन्होंने कहा कि पिछले 35 सालो से में विवि में हू। तभी से योग निकेतन में कार्यक्रमो में हिस्सा ले रहा हू। स्वामी सत्यानंद जी द्वारा स्थापित यह संस्थान लगातार बढ़ रहा है। हमे योगाचार्य विष्णु आर्य जी का मार्गदर्शन विश्विद्यालय में भी मिलता रहता है। वास्तव योग वैदिक रूप से आध्यात्म से जुड़ा रहा लेकिन आज स्वास्थ्य जीवन के लिए जरूरी है। 

कार्यक्रम में योगाचार्य विष्णु आर्य ने  कहा कि वर्तमान में लोग लक्ष्मी जी यानी धन के पीछे भाग रहे है। लेकिन इसके साथ अनीति भी बढ़ रही है। इस आधुनिक जीवन में योग शैली ही आपको विसंगतियों और बीमारियो से बचा सकता है। इसको सभी अपनाए और सुखी और स्वास्थ्य रहे। 


समापन समारोह में अतिथियों के साथ ही अनिल सेन सह राज्य प्रभारी पतंजलि युवा भारत, पार्षद शैलेंद्र ठाकुर, सूरज घोषी का सम्मान किया गया। स्थापना दिवस के मौके पर योगाचार्य विष्णु आर्य का जन्मदिवस मनाया गया। सभी ने शतायु होने की कामना की। कार्यक्रम का आभार संस्थान के अध्यक्ष रामनारायण यादव और संचालन एम डी त्रिपाठी ने किया। 

ये रहे मौजूद 

कार्यक्रम में  पूर्व महापौर मनोरमा गौर, भाजपा  नेता लक्ष्मण सिंह, जगन्नाथ गुरेया, पार्षद शैलेश केशरवानी, अध्यक्ष विक्रम सोनी,  बिहारी लाल सबलोक, कांग्रेस नेता सुरेंद्र सुहाने, लालजी ददरया, पत्रकार बसंत  सेन,  प्रवीन पांडे, विनोद आर्य, राहुल सिलाकारी, नितिन भट्ट, अमित मिश्रा, शैलेश अग्रवाल, राजेश पटेल,  अमित गुप्ता,  कोषाध्यक्ष संदीप सोनी , मनोहर प्रसाद सोनी, डॉ. राजेन्द्र यादव, ,सुबोध आर्य, राजेश जड़िया, रमेश ठाकुर,  बी.डी.साहू,  परषोत्तम सोनी तिली, बसंत यादव, पंडित अनुराग दुबे महेश नेमा, प्रभुदयाल गुप्ता, वीरेन्द्र सुहाने, धनश्याम पटेल, महेश साह, रामकृष्ण कोष्टी, श्रीमति आरती ताम्रकार, श्रीमति सविता मेहता, श्रीमती ज्योति शर्मा उपाध्यक्ष, उपाध्यक्ष, रामेश्वर सोनी, कमलेश नामदेव, ठा. भगत सिंह योगाचार्य, गगन सिंह, योगाचार्य प्रकाश चौधरी, शिवचरण पटेल, धनप्रसाद पटेल, राकेश अग्रवाल, राजेश ग्याप्रसाद पाटकर अनिल यादव, हरिनारायण सेन, घनश्याम पटेल,, बालाजी नेमा, बसंत पाण्डे, अभिषेक सोनी, संजय पाठक (निरीक्षक) ,प्रियांश आर्य, शिवांश आर्य , बिहारी सोनी, मधुकर शर्मा, आदि मोजूद रहे।

Foundation Day Celeberation- योगाचार्य सभी को सिखा रहे हैं  संयमित जीवन शैली

सागर वॉच।
योग निकेतन योग प्रशिक्षण संस्थान का 54 वाँ  तीन दिवसीय स्थापना दिवस समारोह के दूसरे दिवस  24 कुंडीय यज्ञ और योग प्रशिक्षुओं का सम्मान समारोह आयोजित किया गया।  संस्थान के संचालक योगाचार्य विष्णु आर्य के निर्देशन में स्थापना दिवस समारोह मनाया जा रहा है। 

महापौर प्रतिनिधि सुशील तिवारी,विशेष अतिथि नगर निगम अध्यक्ष वृंदावन अहिरवार, पूर्व विधायक सुनील जैन, निधि जैन और युवा उद्योगपति अनिरुद्ध पिंपलापुरे के मुख्या आतिथ्य में संपन्न कार्यक्रम में  महापौर प्रतिनिधि सुशील तिवारी ने कहा कि योगाचार्य विष्णु आर्य योग निकेतन के माध्यम से लोगो को संयमित जीवन शैली और स्वस्थ्य बनाने का कार्य आर रहे है। उन्होंने सागर में योग की अलख जलाई । हजारों लोगो को स्वस्थ किया।  सागर के बाहर उनकी चर्चा होती है। उन्होंने कहा कि योग लोगो को जोड़ने का काम करता है। 

आधुनिक जीवन में बिगड़ती जीवन शैली और अनीति से बचाने में योग एक बड़ा माध्यम है। इसमें स्वस्थ रहने के साथ ही संस्कार मिलते है। आज योग निकेतन में सकारात्मक ऊर्जा देखने मिली है । स्वस्थ्य रहने के साथ ही अच्छे विचारों की जरूरत भी है।  योग निकेतन के विस्तार और इसके प्रचार प्रसार में जो भी जरूरत होगी। उसके लिए मुहैया कराया जाएगा। 

पिछले 25 सालो से जुड़ा हू योग से :सुनील जैन


पूर्व विधायक सुनील जैन ने कहा कि योगाचार्य जी इस उम्र में  सक्रिय है। यह सिर्फ योग द्वारा संभव है। यह संदेश पूरी दुनिया में गया। उन्होंने बताया की 25 साल पहले जब मुझे साइटिका की शिकायत आई तो मुझे योग का महत्व समझा। योगाचार्य श्री आर्य ने मुझे एक महीने के भीतर ठीक किया। तभी से योगाभ्यास कर रहा हूं। मेरे बड़े भाई शैलेंद्र जी को भी इस तरह की शिकायत हुई तो गुरु जी ने ही उनको ठीक किया। वास्तव में योग स्वस्थ्य जीवन का एक मार्ग है। इसे अपनाना चाहिए। 

योगाचार्य विष्णु आर्य ने बताया कि योग विज्ञान की जरूरत हर वर्ग को है। मोजूदा जीवन क्रम में अनियंत्रित जीवन शैली बनी है। जो बीमारियों का माध्यम बन गई है।  कामकाज का तनाव और चिंता ने कई बीमारियों को जन्म दिया है। योगभ्यास ही एक ऐसा विकल्प है जिसमे शारीरिक और मानसिक दोनो को स्वस्थ्य रखा जा सकता है। कार्यक्रम का संचालन एम डी त्रिपाठी ने किया । 

 योग प्रशिक्षुओं का सम्मान


इस मौके पर योग निकेतन त्लायोग प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षित होने वाले प्रशिक्षुओं का सम्मान योगाचार्य विष्णु आर्य, महापौर प्रतिनिधि सुशील तिवारी, निगमाध्यक्ष वृंदावन अहिरवार ,अध्यक्ष रामनारायण यादव,पूर्व महापौर मनोरमा गौर ने किया। सभी को प्रशस्ति पत्र और तुलसी माला भेंट की गई। अतिथियों का स्वागत और सम्मान शाल श्रीफल से किया गया। 

समारोह की शुरुआत में 24 कुण्डीय यज्ञ श्रीयंत्र पूजन, हवन- श्री सूक्त व गायत्री मंत्र, महामृत्युंजय मंत्र के साथ किया गया। एक कतार में यज्ञ में श्रद्धालु बैठे और पंडित द्वारा हवन पूजन कराया गया। इस मौके पर पूर्व विधायक सुनील जैन और उनकी पत्नी निधि जैन ,पूर्व महापौर मनोरमा गौर  हवन किया । 

ये रहे मौजूद 

कार्यक्रम में अमित गुप्ता, कोषाध्यक्ष संदीप सोनी और सदस्य एम. डी. त्रिपाठी, मनोहर प्रसाद सोनी, डॉ. राजेन्द्र यादव, ,सुबोध आर्य, राजेश जड़िया, बी.डी.साहू,  परषोत्तम सोनी तिली, बसंत यादव, पंडित अनुराग दुबे महेश नेमा, प्रभुदयाल गुप्ता, वीरेन्द्र सुहाने, धनश्याम पटेल, महेश साह, रामकृष्ण कोष्टी, श्रीमति आरती ताम्रकार, श्रीमति सविता मेहता, श्रीमती ज्योति शर्मा उपाध्यक्ष, उपाध्यक्ष, रामेश्वर सोनी, कमलेश नामदेव, ठा. भगत सिंह योगाचार्य, गगन सिंह, योगाचार्य प्रकाश चौधरी, शिवचरण पटेल, धनप्रसाद पटेल, राकेश अग्रवाल, राजेश ग्याप्रसाद पाटकर अनिल यादव, हरिनारायण सेन, घनश्याम पटेल,, बालाजी नेमा बसंत पाण्डे, अभिषेक सोनी, संजय पाठक (निरीक्षक) ,प्रियांश आर्य, शिवांश आर्य आदि मोजूद रहे।

Nauradehi Sanctuary-सर्वसुविधायुक्त कॉलोनी में बसाया जायेगा नौरादेही के विस्थापितों को

सागर वॉच/
नौरादेही अभ्यारण से विस्थापित होने वाले निवासियों के लिए रहली विकासखंड के समनापुर में सर्व सुविधायुक्त कॉलोनी तैयार की जाएगी। जिसमें 300 से अधिक परिवारों को पट्टे प्रदान किए जाएंगे। कलेक्टर दीपक आर्य ने आज जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी क्षितिज सिंघल के साथ नौरादेही अभ्यारण के विभिन्न के ग्रामों के निवासियों के लिए स्थापित किए जा रहे स्थल का निरीक्षण किया एवं आवश्यक निर्देश दिए ।

कलेक्टर ने बताया कि नौरादेही अभ्यारण के विभिन्न ग्रामों के परिवारों की विस्थापन प्रक्रिया चल रही है ,जिसके परिप्रेक्ष्य  में रहली विकासखंड के समनापुर में लगभग 340 परिवारों को विस्थापित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि सभी परिवारों को विस्थापन स्थल पर सर्व सुविधायुक्त कॉलोनी तैयार की जा रही है ,जिसमें शुद्ध पेयजल, सीमेंट रोड, ड्रेनेज सिस्टम, सीवर लाइन, स्ट्रीट लाइट, घरेलू लाइट, स्कूल भवन, आंगनवाड़ी भवन सहित अन्य सुविधाएं तैयार की जा रही है ।


कलेक्टर ने बताया कि विस्थापित हो रहे परिवारों की महिलाओं को रोजगार उपलब्ध हो सके, इसके लिए समनापुर विस्थापन स्थल पर प्रशिक्षण केंद्र भी तैयार किया जा रहा है । जिसमें स्व-सहायता समूह का निर्माण कर महिलाएं अपने कामकाज प्रारंभ करेंगी । साथ ही प्रशिक्षण स्थल पर सिलाई, कढ़ाई, बड़ी, पापड़, चटाई बनाना सहित अन्य शिक्षण प्रदान किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि यह विस्थापन स्थल कॉलोनी प्रदेश में मॉडल के रूप में तैयार किया जा रहा है, जिसमें सभी आवश्यक मूलभूत सुविधाओं सहित सर्व सुविधा प्रदान की जा रही है। 

 

सागर/निप्र - बहुप्रतीक्षित श्री गुलाब बाबा चरण पादुका पालिकी शोभायात्रा का आज सागर वासियों ने पावड़े बिछाकर, फूलों की बरसात कर, जगह-जगह आरती, सेवा-सत्कार, स्वागत कर श्री गुलाब बाबा मंदिर सागर के 15वें वार्षिक उत्सव की इस शोभायात्रा को निहारा । भक्तों का सैलाब और वो भी पूर्ण शालीनता, सभ्यता, के साथ धार्मिक जयकारों ने रास्ते के निवासियों को भी अपने में शामिल किया ।





मंदिर के व्यवस्थापन सहयोगी प्रमेन्द्र (गोलू) रिछारिया ने बताया कि श्री गुलाब बाबा मंदिर सागर देश भर के श्री गुलाब बाबा भक्तों की आस्था का मुख्य केन्द्र है, इस उत्सव में शामिल होने करीब 3000 भक्त महाराष्ट्र के विभिन्न शहरों-कस्बों से आये हुये है, साथ ही छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, आंध्रप्रदेश के साथ बुंदेलखण्ड के दमोह, सागर के भक्तों में इस श्रद्धा-भक्ति धारा को और विशाल कर दिया था । पुलिस एवं स्थानीय प्रशासन के साथ करीब 100 महिला-पुरूष भक्तों की टीम लगभग 2 किलोमीटर लंबी शोभायात्रा की व्यवस्था संभाले हुये थे, सर्वाधिक आकर्षक वो भक्त रहे जो स्वागत उपरान्त सड़कों पर पडी स्वागत सामग्री को इकट्ठा कर पीछे चल रहे मंदिर ट्रस्ट के टेक्टर में डाल रहे थे, तो साथ चल रही एंबुलेस समस्त दवायें उपकरण-डाक्टरों की टीम के साथ रक्षा में लगी थी ।






श्री गुलाब बाबा मंदिर ट्रस्ट के सचिव श्याम सोनी ने बताया कि आज इस यात्रा में लगभग दस हजार भक्तों के साथ श्री खाटू श्याम जी की झांकी, श्री गुलाब बाबा की मुद्रा फोटा, महाराष्ट्र एवं बुंदेलखण्ड की लड़कियों द्वारा लेझम-ढोल ताशा पार्टी, हरदौल अखाड़ा की लड़कियों द्वारा अखाड़ा प्रदर्शन, भूतेश्वर मंदिर का डमरू दल, सिर पर पौधा लिये महिला भक्तों के साथ अत्यंत ही सुंदर गुलाबी पगड़ी एवं गुलाबी दुपट्टा डाले महिला-पुरूष भक्तों द्वारा जगह-जगह श्री गुलाब बाबा के जयकारों से क्षेत्र में सौहार्द्र, धार्मिकता का परिचय दिया । 



मंदिर ट्रस्ट के व्यवस्थापन प्रमुख किरण पारासरे ने बताया कि हर वर्ष की तरह पालिकी शोभायात्रा मंदिर के मोक्ष मार्ग दरवाजे से अपने काफिले के साथ सुबह 11ः32 पर निकली और अपने निर्धारित मार्ग से होकर संध्याकालीन बेला में मंदिर के प्रमुख प्रवेश द्वार पर स्वागत-पाद प्रक्षालन-आरती के साथ प्रवेश हुई । प्रवेश के समय महिला भक्तों द्वारा नृत्य प्रदर्शन के साथ उत्सवी माहौल ने संपूर्ण परिसर को नृत्यमय बना दिया ।





 मंदिर अध्यक्ष डाॅ. भरत आनंद वाखले ने बताया कि प्रातः 11 बजे से प्रसादी (भंडारा) अनवरत् चालू है, जिसमें हजारों भक्त रात्रि 9 बजे तक शामिल हुये । रायपुर से सुंदरानी फिल्म के प्रमुख एवं श्री बाबाजी के पुराने सक्रिय भक्त लकी संुदरानी, टाकरखेड़ा समाधि मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष गोपाल उमक, काटेल धाम मंदिर अध्यक्ष नंदु पालनदुंकर, मुंबई के राजू भैया ऐसे अनगिनत भक्तों ने आज इस शोभायात्रा में अपनी परिवार-भक्तों-मण्डलियों-ट्रस्टों के साथ सहभागिता की । 





ज्ञात हो कि मंदिर में हर वर्ष 4-5 दिसम्बर के इस उत्सव में विशाल भजन संध्या का आयोजन किया जाता है, उसी के तहत आज रविवार को प्रसिद्ध भजन गायक मनीष अग्रवाल (मौनी)-अंगना पधारो महारानी फेम की आज भजन संध्या का आयोजन रात्रि 8 बजे से आरंभ हुआ । मंदिर परिसर के अंदर संचालित समस्त व्यवस्थाओं में मंदिर भक्तों की टीम अनवरत् चैबीसों घण्टे सेवा में लगी हुई है।





5 दिसम्बर (सोमवार) को विशाल महाप्रसादी (भंडारा) का आयोजन सुबह 11ः32 से रात्रि 9 बजे तक होगा जिसमें लगभग 70-80 हजार भक्त पूर्ण सम्मान के साथ बैठकर भंडारा ग्रहण करेगें एवं रात्रि में जी.टी.वी, सोनी टी.वी., इंडियन आइडल फेम बैशाली रैकवार की भजन संध्या होगी । पश्चात् मध्य रात्रि चरण पादुकाओं को गुलाब पीठ से मंदिर परिसर के अंदर लाकर आरती उपरान्त वार्षिक उत्सव का समापन होगा । संपूर्ण व्यवस्थाओं के सफल संचालन हेतु ट्रस्ट की श्रीमति ज्योति जिमी अलमेड़ा विभिन्न टीमों के माध्यम से 9 दिवसीय इस आयोजन की व्यवस्था संभाल रही है।


स्पीड पोस्ट से मिलेगा वोटर आईडी कार्ड

अब वोटर कार्ड के लिये आवेदन करने के बाद कलेक्ट्रेट और तहसील दफ्तरों के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, क्योंकि अब घर बैठे स्पीड पोस्ट के जरिये वोटर आईडी कार्ड पहुंचाया जायेगा। पहले वोटर आईडी कार्ड पहुंचाने की जिम्मेदारी बीएलओ की हुआ करती थी, लेकिन इस बार चुनाव आयोग ने डाक विभाग को यह जिम्मेदारी दी है।

भारत निर्वाचन आयोग इसका खर्च उठायेगा। सिर्फ अब ऑनलाइन या फिर ऑफलाइन वोटर आईडी बनवाने के लिये आवेदन करना होगा। एपिक नंबर जनरेट होने के बाद घर कार्ड पहुंचा दिया जायेगा, लेकिन फॉर्म में सारी विविरण सही भरना होगा। वोटर जो भी पंजीकृत  मोबाइल नंबर प्रपत्र  में दर्ज करेंगे, उस पर स्पीड पोस्ट का मैसेज आयेगा। इससे कार्ड की ट्रेकिंग में आसानी होगी।                     


पीएम मातृत्व वंदना योजना मजदूर गर्भवती महिलाओं का सहारा
 
मजदूरी करने वाली गर्भवती महिलाओं को मजदूरी के नुकसान की भरपाई करने के लिए केन्द्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना लागू की गई है। योजना में गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने की वाली माताओं के स्वास्थ्य में सुधार और उनकों नगदी प्रोत्साहन के माध्यम से अधीन पोषण के प्रभाव को कम करना है।

योजना में गर्भवती महिलाओं को पहली किस्त के रूप में एक हजार रूपए जो पंजीकरण के समय दी जाती है, दूसरी किस्त दो हजार रूपए 6 माह की गर्भवास्था के बाद और तीसरी किस्त बच्चे का जन्म के बाद इस प्रकार कुल 5 हजार रूपए की आर्थिक सहायता गर्भवती महिलाओं को दी जाती है। बच्चें को बीसीजी, ओपीवी, डीपीटी और हेपेटाइटिस-बी सहित टीके निःशुल्क लगाए जाते हैं।

                                    
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की अंतिम तिथि 31 दिसंबर

उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग ने बताया की जिले के समस्त किसान चाहे वह ऋणी, अऋणी (डिफाल्टर) हो ऐसे किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना रबी-2022-23 के लिए बीमाकंन कराने की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर 2022 निर्धारित की गई है। 

उन्होंने कहा कि किसान अपने नजदीकी बैंक, जिला सहकारी समिति, सीएससी, पोस्ट ऑफिस में पहॅुच कर रबी वर्ष 2022-23 के लिए शासन द्वारा अधिसूचित क्षेत्र की अधिसूचित फसलें जैसे गेंहॅू सिंचित, गेंहॅू असिंचित,चना एवं मसूर का निर्धारित बीमित राशि की 1.5 प्रतिशत प्रति हेक्टर प्रीमियम जमा करके बीमा सुरक्षा कवच प्राप्त कर सकते हैं।
                                    

आयुष्मान भारत योजना में निःशुल्क चिकित्सा

मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीकृत भवन संनिर्माण श्रमिकों एवं उनके परिवार के सदस्यों के लिए आयुष्मान भारत योजना में निःशुल्क चिकित्सा का प्रावधान किया गया है। जिला श्रम अधिकारी ने बताया कि जिले में श्रमिकों का पंजीयन कर आयुष्मान भारत योजना में निःशुल्क चिकित्सा का लाभ दिया जा रहा है। इस योजना में प्रत्येक परिवार को  वर्ष में 5 लाख रूपए तक निःशुल्क इलाज सुविधा है।

आयुष्मान भारत योजना में निःशुल्क चिकित्सा के लिए नजदीकी आयुष्मान पंजीयन केन्द्र, कॉमन सर्विस सेंटर, लोकसेवा केन्द्र और एमपी आनलाईन केन्द्र पर जाकर पंजीयन कराया जा सकता है। इस योजना का लाभ लेने के लिए जानकारी प्राप्त करने के लिए विभागीय पोर्टल  पर जानकारी प्राप्त कर सकते है।
                                          

समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम 6 दिसम्बर को

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के द्वारा प्रत्येक माह की प्रथम मंगलवार को आयोजित किए जाने वाला समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम 6 दिसम्बर की सायं 5.30 बजे से आयोजित किया गया है।
        समाधान ऑनलाइन के संबंध में लोक सेवा प्रबंधन विभाग के प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी द्वारा जारी पत्र में उल्लेख है कि समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा सीएम हेल्पलाइन प्रकरणों की समीक्षा समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम में की जाएगी।
                                                
इंडिया पोस्ट द्वारा किसानों का ई-केवाईसी जारी

ई-उपार्जन पोर्टल पर पंजीकृत एवं समर्थन मूल्य पर खाद्यान्न विक्रय करने वाले किसानों का भुगतान उनके आधार लिंक बैंक खाते में सुनिश्चित करने के लिए इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक द्वारा किसानों का ई-केवाईसी किया जा रहा है। ई-केवाईसी के लिए आधार में सही मोबाइल नंबर दर्ज होना आवश्यक है ताकि ओटीपी भेजा जा सके। आधार नंबर में वर्तमान मोबाइल नंबर दर्ज कराने का कार्य पोस्ट ऑफिस में एवं पोस्ट ऑफिस ग्रामीण डाक सेवको द्वारा मैदानी स्तर पर किया जा रहा है।

संशोधित मोबाइल नंबर दर्ज कराने के लिए हितग्राही को 50 रूपये का भुगतान करना होगा। ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों के किसानों एवं राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजनांतर्गत सम्मिलित पात्र हितग्राहियों के आधार नंबर वर्तमान मोबाइल नंबर से दर्ज कराने के लिए जिले के डाकघरों मे संचालित आधार केन्द्रों के विभागीय कर्मचारियों एवं ग्रामीण डाक सेवकों से संपर्क कर सुविधा का लाभ प्राप्त किया जा सकता है।       

आर्थिक कल्याण योजना के तहत आवेदन आमंत्रित

राज्य शासन के जनजाति कार्यविभाग के माध्यम से म.प्र. आदिवासी वित्त एवं विकास निगम को वित्तीय वर्ष 2022-23 में भगवान बिरसा मुंडा योजना, टंट्या मामा आर्थिक कल्याण योजना एवं मुख्यमंत्री अनुसूचित जनजाति विशेष परियोजना, वित्त पोषण योजना के अंतर्गत इच्छुक आवेदकों से आवेदन पत्र आमंत्रित किये जाते हैं।    

वित्तीय वर्ष 2022-23 हेतु जिले को भगवान बिरसा मुंडा स्वरोजगार योजना में तथा टंट्या मामा आर्थिक कल्याण योजना के तहत आवेदकों को लाभान्वित करने का लक्ष्य प्राप्त हुआ है। भगवान बिरसा मुण्डा स्वरोजगार योजना योजनांन्तर्गत अनुसूचित जनजाति वर्ग के युवक, युवतियों को उद्योग (विनिर्माण) ईकाई के लिए राशि 1 लाख से 50 लाख रूपये तक एवं सेवा ईकाई तथा खुदरा व्यवसाय हेतु 1 लाख से 25 लाख रूपये तक की ऋण राशि बैंक के माध्यम से उपलब्ध होगी। 

योजनान्तर्गत बैंक द्वारा वितरित, शेष ऋण पर 5 प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से ब्याज अनुदान अधिकतम 7 वर्षों तक (मोरेटोरियम अवधि सहित) एवं गारंटी राशि शासन के द्वारा देय होगी। आवेदन की आयु 18 वर्ष से 45 वर्ष के मध्य हो एवं शैक्षणिक योग्यता न्यूनतम 8 वीं कक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है परिवार की वार्षिक आय 12 लाख रूपये से अधिक न हो। 

टंट्या मामा आर्थिक कल्याण योजना योजनान्तर्गत अनुसूचित जनजाति वर्ग के सदस्यों को राशि दस हजार रूपये से 1 लाख रूपये तक की परियोजना के लिए ऋण राशि बैंक के माध्यम से उपलब्ध होगी। योजनांन्तर्गत बैंक द्वारा वितरित शेष ऋण पर 7 प्रतिशत प्रतिवर्ष की दर से ब्याज अनुदान, अधिकतम 5 वर्षों तक (मोरेटोरियम अवधि सहित) एवं गारंटी राशि शासन द्वारा देय होगी। 

आवेदन की आयु 18 वर्ष से 55 वर्ष के मध्य हो आवेदन आयकर दाता न हो। मुख्यमंत्री अनुसूचित जनजाति विशेष परियोजना वित्ता पोषण योजना लाईन विभागों के मापदण्डों के अनुसार प्राप्त अधिकतम राशि 2 करोड़ रूपये तक के ऐसे परियोजना प्रस्ताव जो कि लाईन विभाग की प्रचलित किसी भी योजना, परियोजना में वित्त पोषित किया जाना संभव न हो तथा अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए किया जाना अत्यंत उपयोगी एवं आवश्यक हो एवं परियोजना अंतर्गत कम से कम 50 प्रतिशत लाभार्थी अनुसूचित जनजाति वर्ग के हो जिनका गरीबी रेखा के नीचे होना आवश्यक नहीं है। 
अनुसूचित जनजाति वर्ग के इच्छुक युवक-युवतियां   पोर्टल के माध्यम से म.प्र; आदिवासी वित्त एवं विकास निगम में आवेदन कर आवेदन पत्र की एक प्रति कार्यालय कलेक्टर जनजाति कार्य विभाग कलेक्ट्रेट परिसर में जमा करना अनिवार्य है।
                                            

बिरसा मुंडा स्व-रोजगार योजना में मिलेगा 50 लाख तक का लोन

भगवान बिरसा मुण्डा स्वरोजगार योजना के अंतर्गत विनिर्माण गतिविधियों के लिए 50 लाख रूपए तक तथा सेवा व्यवसाय गतिविधियों के लिए 25 लाख रूपए तक परियोजनाएं स्वीकृत किए जाने का प्रावधान है। इसके लिए परिवार की वार्षिक आय 12 लाख रुपये से अधिक नही होनी चाहिए।

योजना अन्तर्गत हितग्राहियों को बैंक द्वारा वितरित, शेष ऋण पर 5 प्रतिशत प्रति वर्ष की दर से ब्याज अनुदान तथा बैंक ऋण गारंटी शुल्क प्रचलित दर पर अधिकतम 7 वर्षो तक (मोरेटोरियम अवधि सहित) निगम द्वारा वहन किए जाने का प्रावधान है। योजना में इच्छुक अभ्यर्थियों को प्रशिक्षण भी प्रदान किए जाने का प्रावधान है।

योजना का क्रियान्वयन शासन द्वारा निर्धारित “समस्त पोर्टल“ के माध्यम से किया जाना प्रावधानित है, तथा पोर्टल पर उक्त योजना मुख्यमंत्री उद्यम कांति योजना से समन्वित होगी। जिला स्तर पर योजना का क्रियान्वयन सहायक आयुक्त, जिला संयोजक, शाखा प्रबंधक मध्यप्रदेश आदिवासी वित्त एवं विकास निगम एवं महाप्रबंधक, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र के माध्यम से किया जाएगा।

आवश्यक दस्तावेज एवं योग्यता

भगवान बिरसा मुण्डा स्वरोजगार योजना के लिए आवेदन करने वाला व्यक्ति कक्षा 8 वीं उत्तीर्ण एवं उम 18 से 45 वर्ष हो। इसके अलावा जाति प्रमाण पत्र एसडीएम द्वारा जारी स्थाई हो, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, समग्र आईडी, फोटो, कोटेशन, प्रोजेक्ट रिपोर्ट, वाहन हेतु वैध ड्रायविंग लायसेन्स, पेन कार्ड हो। 

आवेदनकर्ता किसी बैंक अथवा किसी वित्तीय संस्था का डिफाल्टर न हो और केन्द्र सरकार की किसी अन्य स्वरोजगार योजना का हितग्राही न हो।आवेदनकर्ता अपना आवेदन बेवसाइड समस्त पोर्टल एम.पी. ऑनलाईन में आवेदन करने के पश्चात् आवेदन की एक प्रति समस्त दस्तावेज के साथ कार्यालय में जमा करें।
                                            

सहकारी समितियों का रजिस्ट्रेशन केवल ऑनलाइन होगा

उपायुक्त सहकारी संस्थाएं ने बताया है कि जिले में सहकारी समितियों का पंजीयन अब केवल ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा किया जाएगा। ऑनलाइन प्रक्रिया से समितियों का पंजीयन करवाने के लिए संबंधित व्यक्तियों को कार्यालय आने की आवश्यकता नहीं है।

उपायुक्त सहकारिता ने बताया कि समितियों के पंजीयन हेतु विभागीय ऑनलाईन पोर्टल  पर जाकर 21 व्यक्ति मिलकर सहकारी समिति का गठन कर सकते हैं। पोर्टल पर नवीन संस्था का आवेदन करने के लिए आवेदक उल्लेखित लिंक पर जाकर स्वयं एमपी ऑनलाईन नागरिक सुविधा केन्द्र के माध्यम से आवेदन कर सकता है।

आवेदक को पोर्टल पर अपना लॉग इन क्रिएट करना होगा। लॉग इन क्रिएट करने के लिए आधार से लिंक मोबाईल नंबर प्रविष्टि कर ओटीपी सत्यापन होगा। प्रस्तावित संस्था की जानकारी एवं प्रथम आवेदन की जानकारी भरकर पासवर्ड निर्मित करेगा। तत्पश्चात आवेदक का लॉगिन निर्मित हो जायेगा। 

अंशपूंजी का मूल्य दर्ज करके प्रस्तावित सदस्यों के फोटो एवं हस्ताक्षर अपलोड कर तदर्थ कमेटी नामांकित कर दस्तावेज अपलोड कर अंशों का मूल्य एवं सदस्यता प्रवेश शुल्क का ऑनलाईन भुगतान करेगा। आधार नंबर से वर्चुएल आईडी जनरेट होगा और आवेदक का ई-साईन कर आवेदन ऑनलाईन जमा करना होगा।

विभाग द्वारा आवेदन प्राप्त होने पर अधिकतम 45 दिवस के भीतर आवेदन पर कार्यवाही की जायेगी। कुछ कमियां होने पर पोर्टल पर दर्ज किया जायेगा। जिसकी सूचना एसएमएस से दी जायेगी। पंजीयन पोर्टल पर आवेदन मान्य होने पर पोर्टल से ही पंजीयन प्रमाण-पत्र जनरेट होगा जिसमें डिजिटल हस्ताक्षर रहेंगे।

SAGAR BYPASS-24 किलोमीटर लम्बा  बाईपास  15 ग्रामों  से गुजरेगा

सागर वॉच/ 
मध्यप्रदेश शासन के लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समन्वय बैठक में कहा कि प्रस्तावित 24 किलोमीटर लंबे सागर बाईपास में अधिक से अधिक शासकीय भूमि का उपयोग किया जाए एवं बाईपास में प्रभावित हो रहे किसानों एवं घर मालिकों से चर्चा कर आपसी समन्वय कर प्रारंभ किया जाएगा।

बैठक में  श्री भार्गव ने यह भी  कहा कि जो भी व्यक्ति का मकान, खेती, कुआ, पेड़ प्रभावित होंगे उनको शासन की गाइडलाइन के अनुसार मुआवजा दिया जाएगा किंतु इसके पहले यह देखा जाए कि सागर बाईपास निर्माण में कम से कम व्यक्तियों प्रभावित हो ।उन्होंने कहा कि सागर बाईपास बनने से जहां भोपाल से जबलपुर नरसिंहपुर छतरपुर रहली जाने के लिए सड़क सुगम होगी वहीं ,शहर का यातायात भी आसान होगा ।

एनएचएआई की क्षेत्रीय अधिकारी विवेक जयसवाल ने लगभग 24 किलोमीटर लंबी बाईपास के संबंध में विस्तार से पीपीटी के माध्यम से प्रेजेंटेशन दिया एवं संबंधित ग्राम वासियों की समस्याओं से अवगत भी कराया।मंत्री श्री भार्गव के निर्देश पर सभी ग्राम वासियों की समस्याओं को सूचीबद्ध किया गया है एवं उन समस्याओं का निराकरण हेतु समय सीमा में कार्य किया जाए जिससे कि बहु प्रतीक्षित सागर बाईपास का निर्माण शीघ्र गति से किया जा सके। श्री जयसवाल ने बताया कि प्रस्तावित 24 किलोमीटर बाईपास  15 ग्रामों को जोड़ते हुए तैयार किया जाएगा।

15 ग्रामों में लेदरानाका, बडोना, रजुआ आमेट मसान जीरी कनेरा देव मजगुआ ग्रेंट मझगवां आहिर तालचिरी सलैया गाजी सुलतानपुरा चितौरा बेरखेड़ी गुरु पिपरिया रामबन एवं थाना ग्राम शामिल है । उन्होंने बताया कि 15 ग्रामों की लगभग 263 किसान प्रभावित होंगे एवं 250 कच्ची ,पक्के मकान एवं कुआं सागर बाईपास में प्रभावित  होंगे ।जिनको शासन की गाइड लाइन के अनुसार मुआवजा दिया जाएगा ।

एनएचएआई के कार्यपालन यंत्री पंकज व्यास ने बताया कि सागर बाईपास हेतु यह बैठक आयोजित की गई थी जिसमें एक रेगड एलाइनमेंट के संबंध में संबंधित ग्राम वासियों से चर्चा की गई । उन्होंने बताया कि एक रेगड एलाइनमेंट से अधिक से अधिक लाभ हो और किसी भूमि को बचाते हुए शासकीय भूमि का उपयोग अधिकतम किया जाए उन्होंने बताया कि इस बाईपास से बमोरी चौराहे पर फ्लाईओवर अंडर पास भी तैयार किया जाएगा।

विधायक शैलेंद्र जैन ने कहा कि सागर में प्रस्तावित सिविल लाइन से नगर निगम तक बनने वाली फ्लाईओवर को मोती नगर चौराहे तक बढ़ाया जाए जिससे कि ना केवल शहर का आवागमन सुगम होगा बल्कि भोपाल जाने के लिए भोपाल रोड तक पहुंचा जा सकेगा। विधायक श्री जैन ने कहा कि शहर में अत्यधिक आवागमन बड़ा बाजार में होने से यातायात हमेशा अवरूद्ध की स्थिति में रहता है ।फ्लाईओवर बनने से यातायात सुगम एवं सरल होगा ।

विधायक प्रदीप लारिया ने मंत्री श्री भार्गव से कहा कि विश्वविद्यालय से ढाना तक फोरलाइन तैयार किया जाए जिससे कि आयोजन होने वाली दुर्घटनाओं को रोका जा सके । उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय से ढाना तक फोरलाइन बनने से यहां बमोरी चौराहे पर फ्लाईओवर बन सकेगा ।वही ढाना एवं रहली तक की रास्ता आसान हो सकेगी।

कलेक्टर दीपक आर्य ने बैठक में कहा कि सागर बाईपास के लिए मंत्री गोपाल भार्गव की अध्यक्षता में यह प्रथम बैठक थी जिसमें सभी ग्राम वासियों की समस्याओं से अवगत हुए और उनकी समस्याओं को सूचीबद्ध किया गया उन्होंने कहा कि सभी समस्याओं का मौके पर जाकर निराकरण किया जाएगा जिससे कि सागर बाईपास का कार्य शीघ्र गति से प्रारंभ हो सके।

इस अवसर पर सांसद राजबहादुर सिंह, विधायक शैलेंद्र जैन, विधायक प्रदीप लारिया, कलेक्टर दीपक आर्य सहित अन्य अधिकारी एवं एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी विवेक जायसवाल, अधिवक्ता कृष्ण वीर सिंह सहित अन्य अधिकारी एवं प्रभावित ग्रामों के क्षेत्रवासी मौजूद थे।

Gulab Baba Charan Pduka Porcession-15वाँ वार्षिक उत्सव का शुभारंभ

सागर वॉच/
हिंदू सनातनी संस्कृति के बुंदेलखण्ड के अतिभव्य एवं सुंदर श्री गुलाब बाबा मंदिर का 15वाँ वार्षिक उत्सव का शुभारंभ हेतु नरसिंहगढ (दमोह) से पैदल-पैदल एवं वाहनों से आई - "श्री गुलाब बाबा चरण पादुका पालिकी शोभायात्रा के आज संध्या में मंदिर प्रवेश - स्वागत - आरती उपरांत श्री गुलाब पीठ पर स्थापना से आरंभ हुआ। 

मंदिर सचिव श्याम सोनी ने प्रेस को बताया कि हर वर्ष यह शोभायात्रा करीब 111 कि.मी. का सफर करते हुये सागर आती है, जिसका बड़े ही धूमधाम से चल समारोह बडेरिया तिगड्डा सागर से मकरोनिया, सिविल लाइन, गोपालगंज, संजय ड्राइव होती हुई मंदिर में पहुंची ।


यात्रा में रामदल (अखाड़ा), चलित मलखंब पर प्रदर्शन करते बच्चे, भूतेश्वर मंदिर का डमरू दल के साथ सैकड़ों महिला- भक्त पैदल पैदल साथ चल रहे थे, बहुत ही सुंदर तरीके से फूलों से सजी एवं लाईटों से सुसज्जित श्री गुलाब बाबा पादुका रथ के आगे भक्तों की टोलियाँ पूर्ण धार्मिकता के साथ गोपाला जय गोपाला जय गोपाला श्री गुलाब बाबा गोपाला का मंत्र जाप करते हुये चल रहे थे ।


13 दिसम्बर शनिवार को मंदिर परिसर के अंदर लडकियों, महिलाओं की राँगोली प्रतियोगिता के साथ संध्या में बुंदेलखण्ड के प्रसिद्ध लोक गायकों की भजन संध्या के साथ वेणु कला संस्थान के कलाकारों द्वारा लोकनृत्य, बधाई, नौरता महारास (मयूर नृत्य) एवं बरेदी नृत्य की प्रस्तुतियाँ होगी ।


सागर वॉच/
 मथुरा व्यापारी के नौकर विजयपाल की हत्या करने वाले आरोपीगण टिंकू उर्फ श्याम नामदेव एवं सोनू उर्फ सन्ना उर्फ शैतान अहिरवाऱ को न्यायालय द्वितीय अपर-सत्र न्यायाधीश जिला-सागर शिवबालक साहू की न्यायालय ने दोषी करार देते हुये दोनों आरोपीगण को भा.दं.सं. की धारा-302 के तहत आजीवन कारावास तथा 5000/- रूपये का अर्थदंड एवं धारा 324 के तहत 03 वर्ष के सश्रम कारावास तथा 2000/- रूपयेे अर्थदण्ड की सजा से दंडित किया । मामले की पैरवी सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी,सौरभ डिम्हा ने की ।


जिला अभियोजन सागर के मीडिया प्रभारी सौरभ डिम्हा ने बताया कि फरियादी गौरव अग्रवाल ने रिपोर्ट लेख कराई कि सोने चॉदी का व्यापार करता हूॅ मथुरा में रहता हॅेू किराये से बिहारीजी मंदिर के पीछे सागर में किराये से कमरा लिये हूूॅ। 

22 सितम्बर 2016 के रात सवा  ग्यारह बजे  फरियादी रात में बाज़ार से घर आया तो उसका कर्मचारी विजय पाल घर पर था फरियादी ने दरवाजा खटखटाया तो विजय पाल ने दरवाजा खोला । फरियादी अंदर जाने लगा तो इतने में दो अज्ञात व्यक्ति पीछे से आये तो फरियादी ने पूछा कि कौन है तो उन्होंने पिसी लाल मिर्च फरियादी एवं उसके कर्मचारी विजयपाल की आखों में मारी, फरियादी तथा कर्मचारी विजयपाल ने उन्हें पकड़ा तो वो फरियादी तथा विजयपाल को चाकू से मारने लगे। 

फरियादी को सिर ,दाहिने हाथ की अंगुली , कल्हाई एवं दाहिने पैर में चोट आई तथा विजयपाल को भी चाकू से मारा जो सीने में लगा, फरियादी जोर-जोर से चिल्लाया बचाओ-बचाओं तो दोनों वहॉ से भाग गये । 

फरियादी ने मुॅह धोया तो देखा विजयपाल खून मे लथपथ जमीन पर पड़ा था उसके पास ही चाकू पड़ा था खूना काफी बह गया था। विजयपाल को अस्पताल में भर्ती किया गया जहॉ डॉक्टर द्वारा उसे मृत घोषित कर दिया गया। 

थाने पर प्रकरण पंजीबद्ध कर मामला विवेचना में लिया गया। विवेचना के दौरान सी.सी.टी.व्ही फुटेज ,सीडीआर, टावर लोकेशन के आधार पर आरोपियों की तलाश की गई,साक्षियों के कथन लेख किये गये, घटना स्थल का नक्शा मौका तैयार किया गया अन्य महत्वपूर्ण साक्ष्य एकत्रित कर थाना-मोतीनगर जिला-सागर द्वारा भादवि की  धारा 452, 324, 302,34 का अपराध आरोपीगण के विरूद्ध दर्ज करते हुये विवेचना उपरांत चालान न्यायालय में पेश किया। 

विचारण के दौरान अभियोजन द्वारा अभियोजन साक्षियों एवं संबंधित दस्तावेजों को प्रमाणित किया गया, अभियोजन ने अपना मामला संदेह से परे प्रमाणित किया । जहॉ विचारण उपरांत न्यायालय द्वितीय अपर-सत्र न्यायाधीश जिला-सागर शिवबालक साहू की न्यायालय ने दोषी करार देते हुये दोनों आरोपीगण को भा.दं.सं. की धारा-302 के तहत आजीवन कारावास तथा 5000/- रूपये का अर्थदंड एवं धारा 324 के तहत 03वर्ष के सश्रम कारावास तथा 2000/- रूपयेे अर्थदण्ड की सजा से दंडित किया है।

CM CUP Sports  Meet-600  से    ज्यादा खिलाडियों ने   सहभागिता की

सागर वॉच/
खेल एवं युवा कल्याण विभाग के अंतर्गत विकासखंड सागर में मुख्यमंत्री कप खेल प्रतियोगिता 1 दिसम्बर को प्रातः 9 बजे से वात्सल्य स्कूल खेल मैदान में किया गया। प्रतियोगिता में एथलेटिक्स, कबड्डी, खो-खो, व्हालीबॉल, फुटबॉल तथा कुश्ती खेलों में 18 वर्ष से कम आयु वर्ग के बालक, बालिका लगभग 600 खिलाड़ियों ने सहभागिता की।

विकासखंड स्तरीय मुख्यमंत्री कप खेल प्रतियोगिता के समापन समारोह श्री वृन्दावन अहिरवार, अध्यक्ष-नगर पालिका निगम,विनोद  प्रजापति, उपाध्यक्ष म.प्र. खेल प्रकोष्ट, एड.श्री वीनू राणा, वरिष्ट समाजसेवी, आनंद विश्वकर्मा अध्यक्ष जिला कुश्ती संघ एवं श्री प्रदीप अबिद्रा, जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी आदि उपस्थित थे।

मंगल सिंह यादव प्रतियोगिता प्रभारी द्वारा सभी अतिथियों का पुष्पगुच्छ से स्वागत किया गया। इसके पश्चात अन्य प्रतियोगिता में सहयोग प्रदान करने वाले प्रशिक्षकों द्वारा भी अतिथियों का स्वागत किया गया। प्रतियोगिता प्रभारी श्री मंगल सिंह यादव द्वारा मुख्यमंत्री कप खेल प्रतियोगिता की संक्षिप्त जानकारी अतिथियों को दी गई।

कार्यक्रम में पधारे अतिथि श्री वीनू राणा द्वारा कहा गया कि खेलों को अपने जीवन में हमेशा रखना चाहिए क्योंकि खेलों से शारीरिक एवं मानसिक विकास होता है। श्री वृन्दावन अहिरवार द्वारा अपने उद्बोधन में विजेता खिलाड़ियों को बधाई दी एवं हारने वाले खिलाड़ियों को पूर्ण लगन एवं महनत से तैयारी करने हेतु प्रेरित किया। तथा म.प्र. के मुख्यमंत्री की योजनाओं के बारे मे खिलाड़ियो को अवगत कराया।


इसके पश्चात अतिथियों द्वारा विजेता टीम/खिलाड़ियों को पुरस्कार वितरण किये। प्रतियोगिता का परीणाम निम्नानुसार रहा-

  • 1.कबड्डी- बालक वर्ग - 1.विजेता खेल परिसर  2.उपविजेता.गवर्मेन्ट एक्सीलेंश स्कूल
  • 2.कबड्डी- बालिका वर्ग - 1.विजेता केन्द्रीय वि.क्र.3,  2.उपविजेता केन्द्रीय वि.क्र.01
  • 3.व्हालीबॉल-बालक वर्ग - 1.विजेता डी.पी.एस.स्कूल  2.उपविजेता. न्यू ज्ञानोदय स्कूल
  • 4.व्हालीबॉल-बालिका वर्ग - 1.विजेता एम.एल.बी.स्कूल .2.उपविजेता डी.पी.एस. स्कूल
  • 5.खो-खो- बालक वर्ग - 1.विजेता एस.वी.एन. स्कूल 2.उपविजेता आनंद मार्ग स्कूल
  • 6.खो-खो- बालिका वर्ग - 1.विजेता सागर साईन स्कूल 2.उपविजेता उत्कृष्ट विद्यालय
  • 7.फुटबॉल- बालक वर्ग - 1.विजेता के.व्ही.एन. 2.उपविजेता सागर स्पोर्टिंग
  • 8.फुटबॉल - बालिका वर्ग - 1.विजेता एल्कॉन इन्टरेनशनल स्कूल .2.उपविजेता खेल परिसर
  • 9.एथलेटिक्स बालक-
  • 100मी. 1..धु्रव वर्मा  2 अंकित कुलपारिया   .3 गर्ग धानक
  • 200मी. 1....पवन यादव  2.दीपेश गौहर         3शिवराज यादव
  • 400मी. 1.हिमांशु ठाकुर        2.कौशल यादव        3अनुज रैकवार
  • 1000मी. 1सलमान पठान       2.रीतेश यादव          3अर्ष जैन .
  • लॉग जम्प 1.दीपेश प्रसाद        .2हर्षवर्धन             3पुष्पेन्द्र अहिवार
  • हाई जम्प 1.हिमांशु पटेल        2.अरम जैन           3प्रभात कुर्मी
  • शाटपुट 1अजव सिंह ठाकुर    2शिवांश दुबे           3केशव डूमार .
  • जैवलिन 1राधवेन्द्र राजपूत      2अनिरूद्ध             3धनराज यादव

10.एथलेटिक्स बालिका-

  • 100मी. 1..रूकमणी पटेल      2मोहनी पटैल        3दिया ठाकुर
  • 200मी. 1तान्या मकोरिया      2दिया ठाकुर         3.कृष्णा तिवारी
  • 400मी. 1.नेहा धानक         2.खुशबू घोषी         3.रूचि ठाकुर
  • 1000मी. 1.पलक साहू         2.अंकिता दुबे         .3.मान्या पाण्डेय
  • लॉग जम्प 1रजनी रजक        .2.संजना यादव        3.जया चौधरी.हाई जम्प 1.राधिका विश्वकर्मा    2.खुशबू घोषी         3.विनीता अहिरवार.
  • शाटपुट 1कृभावना यादव      2.मानसी पटेल         3.कृष्णा तिवारी
  • जैवलिन 1.सरमीम खान       2उपासना वर्निकी       3कृअलसिया खान

11 कुश्ती बालक-

42कि.ग्रा. 1.क्रिश यादव        .2.कृष्णा यादव        

46कि.ग्रा. 1.मयंक  सोनी       .2संस्कार सोनी       3.अजय सौर

50कि.ग्रा. 1सुमित राय         2.यशवर्धन यादव      3.कृष्ण कुमार

54कि.ग्रा.. 1.अभिषेक यादव  

58कि.ग्रा. 1.रचित बाल्मिकी     2.चक्रधारी यादव     3.मोहित कश्यप
  
63कि.ग्रा. 1.यश यादव         2.दीपेश यादव       3.साहिल मोमिन

69कि.ग्रा. 1.आर्यन यादव       2.......................................3............................

76कि.ग्रा. 1.केतन कश्यप्   2.केशव कुमार डुमार 3...................................
     

12 कुश्ती बालिका-

38कि.ग्रा. 1.कामनी कोरी       2.चॉदनी सौर       3.साक्षी अहिरवार

40कि.ग्रा. 1.कल्याणी          2. सुहानी कलार     3कृकंचन अहिरवार

43कि.ग्रा. 1.अरूणा वासनिक    2.श्रद्धा गुप्ता        3.रानी ठाकुर

46कि.ग्रा.. 1.शैली सोनी         2.वैष्णवी यादव      3.भूमीका गुप्ता

59कि.ग्रा. 1.रूचि जैन 2. नैना बाई गौड़    3...................................

52कि.ग्रा. 1सत्या मौर्य         

56कि.ग्रा. 1..........................................2.......................................3...................................
60कि.ग्रा. 1.जया पटेल         

कार्यक्रम के सफल आयोजन में विभागीय प्रशिक्षक  प्रेमनेती राय, श्रीमती सीमा चक्रवर्ती,   उमेश चंद्र मोर्य,  श्यामलाल पाल,  नफीस खान,भीकम पटेल,एवं अन्य खेल संघ संस्थाओं के प्रशिक्षक  दविन्दर भाटिया, राजेश यादव,  विशाल तोमर, कार्यालयीन कर्मचारी  महेन्द्र सिंह राजपूत,   चंदन मोरे,   रंजीत बैन आदि ने सहयोग किया।

नगर निगम, पुलिस विभाग एवं स्वास्थ्य विभाग का विशेष सहयोग रहा। प्रतियोगिता प्रभारी श्री मंगल सिंह यादव द्वारा सभी अतिथियों एवं कार्यक्रम को सफल बनाने वाले प्रशिक्षकों एवं सहयोग करने वाले अन्य विभागों के प्रति आभार व्यक्ति किया

Foundation Day-योग निकेतन  योग प्रशिक्षण संस्थान का 54 वाँ स्थापना दिवस 6 दिसंबर से


सागर वॉच।
योग निकेतन योग प्रशिक्षण संस्थान का 54 वाँ स्थापना दिवस समारोह 6 से 8 दिसंबर तक योग धाम मोतीनगर थाने के पास सुबह 9 बजे से 10: 30 बजे तक आयोजित होगा
। 

संस्थान के संस्थापक और संचालक योगाचार्य विष्णु आर्य (स्वामी ध्यानेश्वर सरस्वती ) ने बताया कि योग  हमारे शारीरिक ,मानसिक और  आध्यात्मिक शांति का सनातन काल से  हमारी संस्कृति का माध्यम रहा है। सागर में सन 1967 में योग निकेतन की स्थापना हुई थी। 


इस संस्थान से हजारों योग शिक्षक प्रशिक्षित होकर निकले। वही हजारों लोगो ने योग से स्वथ्य जीवन का लाभ उठाया। आज संस्थान अपने  पूर्णाकार में स्थापित है।  जहा नियमित योग अभ्यास और स्वास्थ्य शिविर का आयोजन हो रहा है। 

संस्थान के अध्यक्ष रामनारायण यादव ने बताया कि  स्थापना दिवस का उद्घाटन समारोह  दिनांक 5 दिसम्बर 2022 को  प्रातः 9 बजे से 9.30 बजे तक स्थापना, कलश पूजन आदि किया जाएगा। 

इसका तीन दिवसीय मुख्य  कार्यक्रम दिनांक 6 से 8 दिसम्बर 2022 तक प्रतिदिन  प्रातः 8.30 बजे से 10.30 बजे तक आयोजित किया गया है। 

इसमें 24 कुण्डीय यज्ञ, श्रीयंत्र पूजन, हवन- श्री सूक्त व गायत्री मंत्र, महामृत्युंजय मंत्र द्वारा किया जाएगा। 

दिनांक 8 दिसम्बर 2022 पूर्णाहूति, समापन, सम्मान समारोह एवं प्रसादी का आयोजन किया गया। तीन दिवसीय आयोजन में सांसद राजबहादुर सिंह, विधायक शैलेंद्र जैन, महापौर संगीता सुशील तिवारी, निगमाध्यक्ष वृंदावन अहिरवार, पूर्व महापौर अभय दरे के साथ ही योग से जुड़े विद्वानों द्वारा मार्गदर्शन दिया जाएगा। 


योग निकेतन में प्रतिदिन होने वाले कार्यक्रम

प्रातःकाल 6.30 बजे से 8 बजे तक योग्य अभ्यास एवं प्रशिक्षण प्रातः 8 बजे से 9 बजे तक समस्याग्रस्त रोगियों का योग द्वारा उपचार प्रत्येक रविवार प्रातः हवन- श्री सूक्त, महामृत्युंजय मंत्र गायत्री मंत्रों से हवन पूजन किया जाता है। समय- प्रातः 8.30 से 9.30 बजे तक

संस्थान के  संचालक  योगाचार्य विष्णु आर्य ,अध्यक्ष रामनारायण यादव महामंत्री अमित गुप्ता,कोषाध्यक्ष संदीप सोनी और सदस्य एम. डी. त्रिपाठी, मनोहर प्रसाद सोनी, डॉ. राजेन्द्र यादव, डॉ. मुरारीलाल सोनी,सुबोध आर्य, राजेश जड़िया, बी.डी. साह, लालजी ददरवा, परषोत्तम सोनी तिली, बसंत यादव, महेश नेमा, प्रभुदयाल गुप्ता, वीरेन्द्र सुहाने, धनश्याम पटेल, महेश साह, रामकृष्ण कोष्टी,आरती ताम्रकार, श्रीमति सविता मेहता,ज्योति शर्मा उपाध्यक्ष, उपाध्यक्ष, रामेश्वर सोनी मनोज कुमार डंगरे, प्रकाश सोनी, कमलेश नामदेव, ठा. भगत सिंह योगाचार्य, गगन सिंह, योगाचार्य प्रकाश चौधरी, शिवचरण पटेल, धनप्रसाद पटेल, राकेश अग्रवाल, राजेश ग्याप्रसाद पाटकर अनिल यादव, हरिनारायण सेन, घनश्याम पटेल, पुरषोत्तम सोली, बालाजी नेमा बसंत पाण्डे, अभिषेक सोनी, संजय पाठक (निरीक्षक) सहित सभी ने कार्यक्रम में शामिल होने की अपील की है।

Achievement-  वर्षा शर्मा को मिला  इंटरनेशनल एकेडेमिक एचीवर्स अवार्ड

सागर वॉच/ 
 एडविन इनकारपोरेशन बैंकॉक थाईलैण्ड के तत्वावधान में इन्स्टिट्यूट आफ़ टेक्नॉलाजी (आईटी) बैंकॉक में डिजिटल वर्ल्ड प्रोग्रेस: न्यू इनिसेटिव्स एंड चैलेंजेज़ विषय पर केंद्रित तीन दिवसीय(२०-२२ नवम्बर) इंटरनेशनल कान्फ्रेंस में सागर विश्वविद्यालय के प्राणी विज्ञान विभाग की प्रोफ़ेसर एवं बायोटेकनालाजी विभाग की अध्यक्ष डा.वर्षा शर्मा ने कांफ्रेंस के एक तकनीकी सत्र की अध्यक्षता की साथ ही उनके पेपर ‘एक्सप्लोरिंग दि डिजिटिलाइजेशन ऑफ़ एज़ुकेशन’ को 
काफ़ी सराहना मिली।

इस अवसर पर प्रो.शर्मा को “इंटरनेशनल एकेडेमिक एचीवर्स अवार्ड 2022-23” प्रदान किया गया। कांफ्रेंस में भारत, थाईलैण्ड, नाइजीरिया, चीन, पाकिस्तान, फ़्रांस सहित कई देशों के 157 प्रतिभागियों ने शिरकत प्रो.वर्षा की इस उपलब्धि पर प्रो.एस.पी.व्यास, प्रो.दिनेश सराफ़, प्रो.उमेश पाटिल, प्रो.सुनील श्रीवास्तव, डा.आलोक नीरा सहाय, डा.नवीन गिडीयन, डा.नीना गिडीयन, डा.पायल महोबिया,डा.राजेंद्र चौदा, प्रो.सुबोध जैन, डा.सतीश भाटी सहित प्रबुद्ध वर्ग ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बधाइयाँ प्रेषित की हैं।


सागर वॉच/
  डॉ. हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय, सागर के विधि विभाग के छात्र/छात्राओं ने मध्यप्रदेश न्यायिक सेवा मुख्य परीक्षा 2022 में कुल 19 छात्र/छात्राओं ने सफलता प्राप्त कर विभाग एवं विश्वविद्यालय का नाम रोशन किया है। 

मुख्य परीक्षा पास करने वाले विद्यार्थियों में पलक प्रजापति, ऐका सोनी, आकृति बुधोलिया, रिताम्बरा राजे, ईहा घई, शुभांशु सोनी, स्मृति सूर्यवंशी, दिव्यांशु गुप्ता, सृष्टि कुशवाहा, तृणिता पहाड़े, मानसी अग्निहोत्री, कृत्रिका डेहरिया, राहुल अहिरवार, चित्रांश बागरी, आकांक्षा गर्ग, रिया जैन, आदित्य जैन। 

विभागाध्यक्ष प्रो. वाय.एस. ठाकुर एवं सभी शिक्षकों ने सफल छात्रों को उनकी सफलता के लिये बधाई दी। विवि की कुलपति प्रो नीलिमा गुप्ता ने मुख्य परीक्षा में सफल सभी छात्र-छात्राओं को बधाई प्रेषित करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य हेतु शुभकामनाएं दीं।

Press Conference- प्राकृतिक कृषि को बढ़ावा देने को चलेगा भूमि सुपोषण अभियान

सागर वॉच।
मध्य प्रदेश में किसानों को जैविक खेती के प्रति प्रेरित करने के लिए भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा द्वारा भूमि सुपोषण अभियान-चलो खेत की ओर चलाया जा रहा है। जिसके माध्यम से किसान मोर्चा 75000 किसानों को तैयार कर 75000 हजार एकड़ भूमि में प्राकृतिक कृषि करवाएगा। यह बात दर्शन सिंह चौधरी प्रदेश अध्यक्ष किसान मोर्चा ने सागर में आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही


श्री चौधरी ने कहा कि इस जनजागरण अभियान के माध्यम से किसान मोर्चा केंद्र व राज्य सरकार की किसान हितैषी नीतियों को प्रत्येक किसान तक पहुंचाएगी व इस अभियान के माध्यम से 25 लाख नए कार्यकर्ता जोड़कर संगठन को मजबूत करेंगे साथ ही किसान मोर्चा आगामी चुनाव में मध्यप्रदेश में पुनःभाजपा की सरकार बनाने में महत्ती भूमिका निभाएगा।

श्री चौधरी ने का कहा कि पूर्व में कांग्रेस सरकारों की गलत नीतियों के कारण खेती व पशुपालन में किसानों को नुकसान हुआ जिस कारण उनका खेती व पशुपालन से मोहभंग हुआ हो रहा था परंतु भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार सरकार किसानों की आय को दोगुना करने लिए प्रतिबद्ध हैं एवं निरन्तर विभिन्न योजनाओं के माध्यम से किसानों की लागत मूल्य को कम कर, फसल की उपज का वाजिब मूल्य किसानों को मिल सकें

इस ओर निरंतर विदेश नीतियों में भी परिवर्तन कर, दशकों पुरानी नीतियों के दुराभाव से किसानों को बाहर निकालने व वर्तमान समय मे किसानों की दशा और दिशा को बेहतर बनाने के लिए कार्य कर रही हैं जिसका परिणाम है कि आज का  युवा नई–नई तकनीक के साथ पुनःखेती की ओर आकर्षित हो रहा है एवं कृषि के क्षेत्र में नित्य नवाचारों के माध्यम से नए नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा हैं।

पत्रकार वार्ता का संचालन जिला मीडिया प्रभारी श्रीकांत जैन ने एवं आभार आलोक केशरवानी ने व्यक्त किया। पत्रकार वार्ता में जिला पंचायत अध्यक्ष हीरा सिंह राजपूत,किसान मोर्चा प्रदेश मीडिया प्रभारी विवेक अहिरवार, सागर संभाग प्रभारी श्रीमती नर्मदा सिंह किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष धीरज सिंह ओरिया, पार्षद शैलेंद्र ठाकुर पूर्व प्रदेश मंत्री शिवराज सिंह बेरखेड़ी जी उपस्थित रहें।

Road Safety-बगैर पार्किंग वाले मैरिज गार्डन बंद किये जायेंगे

सागर वॉच/
जिला चिकित्सालय मार्ग पर कोई भी शादी कार्यक्रम नहीं होंगे। मस्जिद के चारों तरफ से ठेला व्यापारियों  को हटाया जायगा एव उनकी सीसीटीवी कैमरों से  निगरानी की जायेगी। । उक्त निर्णय जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में लिए गए।


बैठक में निर्णय लिया गया कि मस्जिद के चारों तरफ हाथ ठेला एवं रोड पर व्यापार करने वाले व्यापारियों को तत्काल प्रभाव से हटाया जाएगा । उनकी सीसीटीवी कैमरे से निगरानी की जाएगी। निर्णय लिया गया कि मस्जिद के चारों तरफ टैक्स कलेक्टर एवं पुलिस कर्मियों की जवाबदेही तय की जाएगी । यदि किसी भी स्थिति में पुनः अतिक्रमण होता है तो इसके लिए संबंधित जिम्मेदार होंगे।

प्रसूति गृह अस्पताल की सामने से चाट के ठेले वालों को तत्काल हटाया जाए। अतिक्रमण हटाने के लिए नगर निगम एवं पुलिस संयुक्त रूप से कार्रवाई करेगा। बैठक में  यह भी निर्णय लिया गया कि बमोरी तिराहा, पामाखेड़ी तिराहा से अतिक्रमण को हटाया जाए। नगर निगम क्षेत्र में ट्रैक्टर- ट्राली का प्रवेश बंद होगा।  कबूला पुल एवं मकरोनिया चौराहे के ट्रैफिक सिग्नल को तत्काल रुप से बंद किया जाए । 

विधायक श्री शैलेंद्र जैन ने कहा कि भोपाल रोड पर भारी वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित किया जाए एवं उन्हें लेदरा नाका से बाईपास की तरफ डायवर्ट करें। रात्रि 12 बजे के बाद शहर की तरफ़ से प्रवेश दिया जाए । अस्थाई रूप से तीन बत्ती से मोती नगर चौराहे तक चार पहिया वाहनों को अनुमति दी जाएगी, किंतु मोती नगर से तीन बत्ती आने के लिए चार पहिया वाहन प्रतिबंधित किए जाएंगे।

इस अवसर पर प्रभारी कलेक्टर क्षितिज सिंघल, नगर निगम कमिश्नर चंद्रशेखर शुक्ला, अनुविभागीय अधिकारी सपना त्रिपाठी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विक्रम सिंह कुशवाहा सहित संतोष पांडे, जयकुमार जैन, विनोद कुमार चौकसे, जिला क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी सुनील शुक्ला ,सुरेंद्र सिंह गौतम, जिला शिक्षा अधिकारी अखिलेश पाठक, राम शरद रावत, डीएसपी ट्रैफिक मयंक सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।