Articles by "Covid-19"
Covid-19 लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

News In Short-16 Jan 2022- बुंदेलखंड में मिल रहा है स्टार्टअप इकोसिस्टम को बढ़ावा

NEWS IN SHORT
:
खबर संक्षेप में 

16/जनवरी/20

शहर को ऊंची स्वच्छता रैकिंग दिलाने सबका सहयोग जरूरी -ननि आयुक्त 

गर निगम द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 के अंतर्गत शहर के वार्ड, रहवासी संघ, विद्यालय, बाजार, अस्पताल, होटल, कार्यालय की स्वच्छता रैकिंग की जा रही है, चूंकि नगर को स्वच्छ एवं साफ सुथरा बनाये जाने मेें वार्ड, विद्यालय, बाजार , अस्पताल, होटल, कार्यालय आदि जब साफ एवं स्वच्छ रहेगें तो हमारा शहर भी साफ एवं स्वच्छ होगा इस हेतु शहर की सभी इन श्रेणिओं में आने वाले संस्थाओं की महत्वपूर्ण योगदान रहता है।

इस सिलसिले में नगर निगम आयुक्त आर पी अहिरवार ने वार्डवासियों एवं सभी विद्यालय, अस्पताल, बजार, होटल , कार्यालय सभी संस्थाओं के संचालकों से अनुरोध है कि अपने संस्थान एवं परिसर में साफ एवं स्वच्छ बनाये रखने में सहयोग कर स्वच्छता अभियान में सहभागी बने एवं कोविड नियमों का पालन करें इसके अलावा जिन उक्त श्रेणियों के संस्थानों द्वारा स्वच्छता के क्षेत्र में सहयोग किया जायेगा उन्हें नगर निगम द्वारा चिन्हित कर प्रशस्ति  पत्र देकर सम्मानित किया जायेगा ताकि अन्य नागरिक प्रतिष्ठान स्वच्छता के प्रति जागरूकता होगें।


बुंदेलखंड में मिल रहा है स्टार्टअप इकोसिस्टम को बढ़ावा

विवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर पूरे देश में नेशनल स्टार्टअप डे का आयोजन किया गया। सागर स्मार्ट सिटी द्वारा स्थापित किए गए स्पार्क इन्क्यूबेशन सेंटर में भी नेशनल स्टार्टअप डे पर आनलाइन आयोजन किया गया। यहाँ  बताया गया कि स्पार्क इन्क्यूबेशन सेंटर पिछले लगभग एक वर्ष से सागर शहर और समूचे बुंदेलखंड में स्टार्टअप इकोसिस्टम को बढ़ावा देने का काम कर रहा है। 

इस कार्यक्रम में स्टार्टअप्स को संबोधित करते हुए सागर स्मार्ट सिटी के सीईओ कि देश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान देने में स्टार्टअप उद्योग की बड़ी क्षमता है। देश में स्टार्टअप के लिए पहल साल 2016 में स्टार्टअप इंडिया के रूप में की गई थी।

सरकार ने स्टार्टअप कल्चर की प्रगति और उन्नति को बढ़ावा देने के लिए एक सक्षम वातावरण तैयार करने की दिशा में काम किया है। इसका देश में स्टार्टअप इकोसिस्टम पर जबरदस्त प्रभाव पड़ा है और अपने इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर साल 16 जनवरी को नेशनल स्टार्टअप डे मानने की घोषणा की।

कार्यक्रम के अंत में स्पार्क इन्क्यूबेशन सेंटर के प्रतिनिधि ने बताया कि कोई भी स्टार्टअप अपने आइडिया को स्पार्क इन्क्यूबेशन की वेबसाइट http://www.sagarstartuppark.org/  का जाकर रजिस्टर कर सकता है। उसके बाद टीम उनसे संपर्क करके उन्हें सभी आवश्यक सुविधाएं प्रदान करेगी।

मकरोनिया बुजुर्ग में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शुरू 

रयावली विधानसभा क्षेत्र के मकरोनिया बुजुर्ग में 4 करोड़ 42 लाख की लागत से शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लोकार्पण सांसद द्वारा किया गया इस मौके पर सांसद ने कहा कि सरकारी अस्पतालों की विश्वसनीयता कोरोना संक्रमण की पहली एवं दूसरी लहर में साबित हुई है। जबकि हर संक्रमित प्रत्येक व्यक्ति सरकारी अस्पतालों में भर्ती होने के लिए प्रयास कर रहा था। उन्होंने कहा कि नरयावली विधानसभा क्षेत्र के मकरोनिया का विकास सागर शहर से तेज गति से हो रहा है।

स्थानीय  विधायक ने कहा कि शीघ्र ही यह अस्पताल 30 बिस्तर से बढ़ाकर 100 बिस्तरों की करने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मकरोनिया में शीघ्र ही ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना भी होगी। उन्होंने कहा कि इस अस्पताल में अभी सेंट्रल लैब भी चालू कराई गई है।

EC Put Ban On Rallies-22 जनवरी, 2022 तक किसी रैली अनुमति नहीं

सागर वॉच/15 जनवरी2022/
 
भारतीय निर्वाचन आयोग ने केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय; गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिवों व स्वास्थ्य सचिवों के साथ-साथ  चुनाव वाले इन राज्यों के मुख्य निर्वाचन अधिकारियों के साथ अलग-अलग वर्चुअल बैठकें कीं।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने चुनाव आयुक्तों श्री राजीव कुमार और अनूप चंद्र पांडे के अलावा महासचिव और संबंधित उप चुनाव आयुक्तों के साथ चुनाव वाले पांच राज्यों में कोविड महामारी की मौजूदा स्थिति और अनुमानित रुझान की व्यापक समीक्षा की। 

इस अवसर पर फ्रंटलाइन कर्मचारियों एवं मतदान कर्मचारियों के बीच पात्र लोगों के लिए पहली, दूसरी और बूस्टर डोज के लिए टीकाकरण तेजी से पूरा करने के लिए टीकाकरण की स्थिति और कार्ययोजना की भी समीक्षा की गई।

आयोग ने एसडीएमए प्रतिबंधों और महामारी के दौरान जनसभाओं के मानदंडों को विनियमित करने वाले राज्य केंद्रित मौजूदा विनिर्देशों पर भी विचार विमर्श किया।

अब, वर्तमान स्थिति, तथ्यों और परिस्थितियों के साथ ही इन बैठकों पर मिली जानकारियों पर विचार करने के बाद, आयोग ने निम्नलिखित निर्देश दिए हैं :

  • 22 जनवरी, 2022 तक किसी रोड शो, पद यात्रा, साइकिल/बाइक/वाहन रैली और जुलूस निकालने की अनुमति नहीं होगी। आयोग उसके बाद स्थिति की समीक्षा करेगा और इस क्रम में आगे दिशानिर्देश जारी करेगा।
  • राजनीतिक दलों या उम्मीदवारों (संभावित सहित) या चुनाव से जुड़े किसी अन्य समूह की किसी रैली (फिजिकल रैली) के लिए 22 जनवरी, 2022 तक अनुमति नहीं होगी।
  • हालांकि, आयोग ने 300 लोगों या भवन की 50 प्रतिशत क्षमता या एसडीएमए द्वारा सुझाई गई सीमा के तहत इंडोर बैठकों के लिए राजनीतिक दलों को छूट दे दी गई है।
  • राजनीतिक दलों को चुनाव से जुड़ी गतिविधियों के दौरान सभी अवसरों पर कोविड व्यवहार और दिशानिर्देश तथा आचार संहिता का अनुपालन सुनिश्चित करना होगा।
  • 8 जनवरी, 2022 को जारी चुनाव संचालन के लिए संशोधित बोर्ड दिशानिर्देश, 2022 में शामिल सभी बंदिशें लागू रहेंगी।

सभी संबंधित राज्य/ जिला प्राधिकरणों को इन निर्देशों का पूर्ण अनुपालन सुनिश्चित करना होगा।

News In Short-14 Jan 22- मेले, जुलूस, रैलियों को अब अनुमति नहीं -मुख्यमंत्री

NEWS IN SHORT- ख़बरें संक्षेप में 

सागर 14 जनवरी 2021


जनता सतर्कता व कोविड उचित व्यवहार अपनाये 

आपदा प्रबंधन समूह  के सक्रिय सहयोग  और जनता की सतर्कता एवं कोविड उपयुक्त व्यवहार की आवश्यकता पर जोर देते हुए शुक्रवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश के सभी जिले , विकासखंड, और पंचायत स्तर के आपदा प्रबंधन समूह के सदस्यों से बात की।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित हुई इस बैठक में  मुख्यमंत्री ने समस्त कलेक्टर्स को निर्देश दिए कि वे सैंपलिंग एवं टेस्ट की लक्ष्य पूर्ति पर विशेष ध्यान दें। सर्दी-जुखाम होने पर व्यक्ति नजदीकी फीवर क्लीनिक अथवा अस्पताल पर जांच करा सकते हैं। 

आवास प्रथक्करण 

उन्होंने कहा कि टेस्ट रिपोर्ट आने के तत्काल बाद संबंधित व्यक्ति से संपर्क किया जाए साथ ही उसके लक्षणों के आधार पर होम आइसोलेशन / कोविड केयर सेंटर अथवा अस्पताल में इलाज सुनिश्चित किया जाए। घर में होम आइसोलेशन की उचित व्यवस्था नहीं है तो ऐसे व्यक्तियों को ट्रिपल सी में भर्ती किया जाए।

उन्होंने निर्देश दिए कि डिस्ट्रिक्ट कमांड एंड कंट्रोल सेंटर से नियमित रूप से होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों की मॉनिटरिंग की जाए। यहां टेली मेडिसिन तथा टेलीकंसल्टेशन की सुविधा भी रहे।

दवाइयों और बिस्तरों का पर्याप्त इंतजाम रखें 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि समस्त अस्पतालों में आईसीयू बैड, ऑक्सीजन बैड, सक्रिय पीएसएफ प्लांट,  वेंटिलेटर , ऑक्सीजन कंसंट्रेटर तथा दवाइयों का उचित भंडार भी सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए जनप्रतिनिधि और क्राइसिस मैनेजमेंट के सदस्य भी व्यवस्थाएं देखें। उन्होंने निर्देश दिए कि जनता की सुविधा के लिए जिलेवार कोविड केयर सेंटर, शासकीय और प्राइवेट अस्पतालों में भरे एवं रिक्त बैड की संख्या की भी जानकारी दी जाए।

सभी स्कूल और छात्रावास 31 जनवरी तक रहेंगे बंद 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए  कक्षा 1 से कक्षा 12 तक समस्त स्कूल एवं हॉस्टल 31 जनवरी, 2022 तक बंद रहेंगे जनवरी, 2022 में आयोजित होने वाली प्री-बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा पृथक से आदेश जारी किए जाएंगे।

मेले, जुलूस, रैलियाँ प्रतिबंधित रहेंगीं 

इसी प्रकार सभी प्रकार के मेले (धार्मिक / व्यावसायिक), जिनमें जनसमूह एकत्रित होता है, प्रतिबंधित रहेंगे। समस्त जुलूस एवं रैली भी प्रतिबंधित रहेंगे। समस्त राजनैतिक / सांस्कृतिक / धार्मिक / सामाजिक / शैक्षणिक / मनोरंजन आदि के आयोजनों में 250 व्यक्तियों से अधिक की उपस्थिति प्रतिबंधित रहेंगे।

बंद हॉल में हॉल की क्षमता के 50 प्रतिशत से कम की उपस्थिति के ही आयोजन / कार्यक्रम आयोजित हो सकेंगे। खेलकूद सम्बन्धी गतिविधियों के लिए स्टेडियम की क्षमता के 50 प्रतिशत से अधिक उपस्थिति के आयोजन प्रतिबंधित रहेंगे।


 
 
प्रधानमंत्री मेरिट स्कॉलरशिप योजना आवेदन 25 जनवरी तक

पूर्व सैनिक लाभ लें मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना का 

 प्रदेश  के युवाओं के लिए स्वयं का उद्योग, सेवा एवं व्यवसाय स्थापित करने लिए मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना को प्रारंभ किया गया है। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कैप्टन (नौसेना) यूपीएस भदौरिया सेवानिवृत्त ने बताया कि जिला सैनिक कल्याण कार्यालय में पंजीकृत पूर्व सैनिक भी मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना का लाभ ले सकते है। अधिक जानकारी कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है।                                        


निवारी कलां जलाशय मुआवजा स्वीकृत

  कलेक्टर के द्वारा निवारी कलां जलाशय योजनांतर्गत नहर निर्माण हेतु मौजा निवारी कलां एवं कैंकरा तहसील केसली की अर्जित भूमि की मुआवजा मुआवजा राशि स्वीकृत की गई है। अनुविभागीय अधिकारी एवं भू-अर्जन अधिकारी, देवरी द्वारा 15 अवार्डी को एक करोड़ 26 लाख 93 हजार 080 रूपये की मुआवजा राशि स्वीकृत की गई है। 


 प्रधानमंत्री मेरिट स्कॉलरशिप योजना आवेदन 25 जनवरी तक

प्रधानमंत्री मेरिट स्कॉलरशिप योजना हेतु वर्ष 2021-22 के लिए एमसीआई, एआइसीटीई, यूजीसी जैसी मान्यता प्राप्त व्यावसायिक डिग्री कार्यक्रम कर रहे पूर्व सैनिकों के आश्रित बच्चों और विधवाओं से आवेदन आमंत्रित किये जाते हैं। प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति का आवेदन पत्र एवं सूचना वेबसाइट http/www.desw.gov.in  से डाउनलोड की जा सकती है।

जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कैप्टन (नौसेना) यूपीएस भदौरिया सेवानिवृत्त ने बताया कि शैक्षणिक सत्र 2021-22 के दौरान दाखिला लेने वाले छात्रों पर ही यह योजना लागू होगी। सैनिक कल्याण कार्यालय में पंजीकृत पूर्व सैनिक अपने आवेदन 25 जनवरी तक ऑनलाइन जमा कर सकते है। अधिक जानकारी कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है। क्रमांक 168/168/2022

सोनपुर मध्यम परियोजनांतर्गत मुआवजा स्वीकृत
 
कलेक्टर द्वारा जिले की सोनपुर मध्यम परियोजनांतर्गत नहर निर्माण हेतु मौजा सरखेड़ा, जैतपुर कछया, मदनपुर, घोषीपट्टीकी अर्जित भूमि के लिए मुआवजा राषि स्वीकृत की गई है। अनुविभागीय अधिकारी एवं भू-अर्जन अधिकारी, देवरी द्वारा 18 अवार्डी को 50 लाख 21 हजार 299 रूपये की मुआवजा राषि स्वीकृत की गई है।                 


पीएससी के तैयारी हेतु निशुल्क प्रशिक्षण 

  मध्यप्रदेष शासन द्वारा संचालित परीक्षा पूर्व प्रषिक्षण केन्द्र सिरोंजा में अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग के पीएससी के छात्र-छात्राओं के लिए राज्य सेवा प्रारंभिक, मुख्य परीक्षा की तैयारी हेतु निशुल्क प्रषिक्षण एक फरवरी से प्रारंभ किया जाएगा।

प्रषिक्षण के लिए छात्र-छात्राएं 25 जनवरी तक अपना आवेदन जमा कर सकते है। अधिक जानकारी के लिए परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण  केन्द्र सिरोंजा के मो.नं. 9407541795 एवं 9981948782 पर संपर्क कर सकते है।

कलेक्टर कमिश्नर कांफ्रेंस

आगामी 16 जनवरी को होने वाली कलेक्टर कमिश्नर कांफ्रेंस के संबंध में कलेक्टर ने जिला अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित कर कांफ्रेंस से संबंधित महत्वपूर्ण विषयों की समीक्षा की। जिसमें विगत कलेक्टर्स कमिश्नर कॉन्फ्रेंस के पालन प्रतिवेदन, प्रदेश में माफियाओं के विरुद्ध कार्यवाही, महिला अपराध एवं कानून व्यवस्था की प्रगति पर चर्चा हुई।

साथ ही नगरीय क्षेत्रों में स्वच्छता अभियान की कार्रवाई की समीक्षा, जल जीवन मिशन, धान उपार्जन, शिशु एवं मातृ मृत्यु दर में कमी हेतु रणनीति , कोविड टीकाकरण ,
पशुपालन एवं मत्स्य पालकों के किसान क्रेडिट कार्ड बनाने की प्रगति, घुमंतू एवं अर्द्धघुमंतू जनजातियों के जाति प्रमाण पत्र, पहचान पत्र की प्रगति की भी जानकारी ली। आंगनबाड़ी को गोद लेने के अभियान तथा जन सहभागिता से फॉस्टर केयर प्रोग्राम पर भी चर्चा की गई।


वेतनवृद्वि के बकाया भुगतान पर कर्मचारियों ने कहा मंत्री जी आभार 

म.प्र.नगरीय विकास एवं आवास विभाग द्वारा शासकीय सेवकों की वार्षिक वेतनवृद्वि के बकाया  भुगतान करने के आदेश करने पर म.प्र.नगर निगम, नगर पालिका कर्मचारी संघ के प्रांतीय सचिव  राजेशसिंह राजपूत ने नगरीय विकास एवं आवास विभाग मंत्री भूपेंद्र सिंह  एवं प्रमुख सचिव का आभार व्यक्त किया है।

आदेश में बताया है कि राज्य शासन द्वारा निर्णय लिया गया है कि समस्त नगर निगम, नगर पालिका परिषद, नगर पालिका परिषद आदि के जिन कर्मियो को 2020 अथवा जनवरी 2020-21 की वार्षिक वेतन वृद्वि की काल्पनिक रूप से पात्रता है,उनको जुलाई 2020 एवं जनवरी 2020-21 को देय वार्षिक वेतन वृद्वि के परिणाम स्वरूप बकाया का भुगतान दो बराबर किश्तो में निम्नानुसार किये जाने की स्वीकृति प्रदान करता है। 

जिसमें प्रथम किश्त का भुगतान माह नवम्बर 2021 में एवं द्वितीय किश्त का भुगतान मार्च 2022 में इसके साथ ही एक मार्च 2022 के पूर्व सेवानिवृत हो चुके अथवा होने जा रहे शासकीय सेवकों को बकाया देय राशि का भुगतान एक मुश्त किया जाए।


कोरोना की तीसरी से लहर से निपटने रहली में है पूरा इंतजाम- मंत्री

 प्रदेश में  तेजी से हो रहे हैं अधो-संरचना विकास के कार्य - लोक निर्माण मंत्री 

लोक निर्माण मंत्री गोपाल भार्गव  ने कहा कि प्रदेश में अधो-संरचना विकास के लिए राज्य सरकार द्वारा तेजी से कार्य किए जा रहे हैं। केंद्र और राज्य सरकार सड़क और भवनों के निर्माण के लिए पर्याप्त धनराशि मुहैया करा रही है। उन्होंने कहा कि इस राशि का उपयोग क्षेत्र में उचित और समुचित तरीके से हो सके यह देखना स्थानीय जन-प्रतिनिधियों का दायित्व है। उन्होंने सभी निर्माण एजेंसियों से काम की गुणवत्ता और समय-सीमा में कार्य पूर्ण करने की अपेक्षा भी की।

लोक निर्माण मंत्री  ने सागर जिले की गढ़ाकोटा नगर पंचायत क्षेत्र में 9 करोड़ रुपए की लागत वाले निर्माण कार्यों का भूमि-पूजन और शिलान्यास किया। इनमें 5 करोड़ की लागत वाले गढ़ाकोटा नगर पंचायत क्षेत्र के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के  नवीन भवन का शिलान्यास शामिल हैं। 



Covid-19 3rd Wave-बच्चों के टीकाकरण में प्रदेश में  प्रथम स्थान पर है  सागर जिला

सागर वॉच/05 जनवरी 2022/ जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वस्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध के मुताबिक जहां एक ओर 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों के टीकाकरण में प्रदेश में सागर जिला प्रथम स्थान पर हैवहीं कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर को लेकर सागर जिला ऑक्सीजन  के मामले में लगभग आत्मनिर्भर बन चुका है. जिले में तीन ऑक्सीजन संयंत्र  तैयार हो चुके हैं।  

उन्होंने शहर के न्यूज़ पोर्टल  सागर वॉच को  खास चर्चा में बताया कि कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए जिले की तैयारियों पर चर्चा करते हुए उन्होंने बताया कि पूर्व में बंद किए जा चुके बीड़ी कोविड केयर सेंटर को पुन: शुरू कराने के लिए साफ-सफाई सहित अन्य व्यवस्थाएं कराई जा रही हैं। साथ ही परीक्षण को लेकर आज से ही प्रतिदिन 100 नमूनों का परीक्षण अतिरिक्त होने लगा है। अब तक प्रतिदिन  1500 नमूनों का परीक्षण कराया जा रहा है।  

इसके साथ ही सागर, खुरई और बीना रेलवे स्टेशनों पर आने वाली यात्री गाडिय़ों में से औचक  जाँच भी शुरू करने जारहे हैं नमूनों के संग्रहण के लिए टीमें भी गठित कर दी गई हैं जो आने-जाने वालों के नमूने लेंगीं 

डॉ बौद्ध ने बताया कि सागर जिला ऑक्सीजन  के मामले में लगभग संपन्न हो चुका है। जिले में तीन ऑक्सीजन प्लांट तैयार हो चुके हैं, वहीं के बीओआरएल परिसर में 200 बिस्तरों की अस्पताल भी तैयार हैसाथ ही ऑक्सीजन संयंत्र से लगभग 3000 हजार बॉटलिंग की क्षमता है. वहीं अस्पतालों में भी बैड पर ही ऑक्सीजन सप्लाई की व्यवस्थाएं की गई हैं। 

आयुष्मान के संबंध में उन्होंने बताया कि जिले में 15 लाख 82 हजार 884 का लक्ष्य रखा गया है जिसमें से 4 जनवरी तक जिले में  8 लाख 12 हजार 940 आयुष्मान कार्ड बन चुके हैं जो कि लक्ष्य का 51 प्रतिशत है। उन्होंने बताया कि 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों के टीकाकरण में भी प्रदेश में सागर जिला प्रथम स्थान पर रहा जो कि टीम भावना का परिणाम है।

Vaccination Drive For Teenagers- जिले में करीब एक लाख किशोरों को लगेगा कोविड-रोधी टीका
 

सागर 26 दिसम्बर 2021

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा के मुताबिक  15 से 18 वर्ष तक के बालक-बालिकाओं के लिए टीकाकरण प्रारंभ किया जा रहा है। जिला कलेक्टर द्वारा कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए गए।

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ आरएस रोशन ने बताया कि जिले में 15 से 18 वर्ष के बालक-बालिकाओं को चिन्हित करने का कार्य प्रारंभ किया गया है। जिसके तहत शुरुआत में  1 लाख 41 हजार 872  बालक-बालिका टीका लगाया जायेगा। 

कलेक्टर दीपक आर्य ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार 3 जनवरी 2022 दिन सोमवार से सागर जिले में भी 15 से 18 वर्ष के बालक-बालिकाओं के लिए टीकाकरण कार्यक्रम प्रारंभ होगा इसके लिए विस्तृत समय सारणी तैयार की जा रही है।

उन्होंने बताया कि प्रारंभिक तौर पर सभी शासकीय एवं अशासकीय शाला में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं की जानकारी प्राप्त की गई है। जिसमें शासकीय शालाओं में अध्ययनरत 01 लाख 8 हजार 55 बालक-बालिकाएं चिह्नित किए हैं, इसी प्रकार आज अशासकीय  विद्यालयों में 33 हजार  817 बालक बालिकाएं चयनित किए गए हैं जिनको टीका लगाया जाएगा।

कलेक्टर आर्य ने बताया कि 15 वर्ष से 18 वर्ष तक की बालक बालिकाओं का शत प्रतिशत टीकाकरण कराने के लिए विद्यालयों स्तर पर टीकाकरण केंद्र  तैयार किया जाएगा जिसमें विद्यालय के समस्त छात्र छात्राओं का टीकाकरण  किया जाएगा। उन्होंने बताया कि विद्यालय में टीकाकरण  केंद्र  बनने से दूसरी खुराक लगाने में आसानी होगी।


Media Watch-04 DEC-अफ्रीका में पहचाने जाने से पहले से ही भारत में फ़ैल रहा था ओमिक्रान

नवभारत टाइम्स 
अख़बार ने  देश के विषाणु विशेषज्ञों के हवाले से छपी खबर में आशंका जताई है की अफ्रीका में पहचाने जाने से कहीं पहले से कोविड-19 का नया वैरियंट  ओमिक्रान  भारत में  मौजूद रहा है । यहाँ तक कि वह पहली व दूसरी लहर के दौरान भी आबादी के किसी छोटे धड़े में फैलता रहा हो 

खबर में यह भी  तर्क दिया  है कि  कर्नाटक में  बिना किसी ट्रैवलहिस्ट्री वाले शख्स के ओमीक्रोन से  संक्रमित होना भी साफ तौर पर इसी तरफ इशारा कर रहा है। ओमीक्रोन वेरिएंट से संक्रमित मरीजों में अबतक जो लक्षण दिख रहे हैं वे हल्के ही हैं। उन्होंने कहा, 'घबराने की कोई वजह नहीं है लेकिन लापरवाही के लिए भी कोई जगह नहीं है।

बीबीसी समाचार में  सुर्ख़ियों छाई खबर में बताया है कि पाकिस्तान के पंजाब के सियालकोट शहर में एक श्रीलंकाई नागरिक को ईशनिंदा के आरोप में पीट-पीटकर मार डालने के बाद पूरी दुनिया के साथ-साथ पाकिस्तान में भी इसकी निंदा हो रही है। 

खबर के मुताबिक पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद भी " इसे बेहद शर्मनाक  दिन बताया " है । ग़ौरतलब है कि शुक्रवार को सियालटकोट की एक फ़ैक्ट्री में काम करने वाले श्रीलंका के नागरिक प्रियांथा कुमारा को भीड़ ने ईशनिंदा के आरोप में पीट-पीटकर मार डाला बाद में उनके शव को जला दिया 

दैनिक भास्कर ने देश के मौजूदा सियासी हालातों से जुडी खबर को सुर्ख़ियों में छापी खबर में लिखा है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के यूपीए से अलग होकर तीसरे मोर्चे बनाने के मनसूबे पर शिवसेना पानी फेरती दिख रही है। शिवसेना ने 'सामना' की संपादकीय में स्पष्ट किया है कि कांग्रेस को अलग करके मोदी का मुकाबला नहीं किया जा सकता है।

खबर में लिखा है कि मोदी और भाजपा का कांग्रेस का खत्म चाहना समझा जा सकता  है लेकिन मोदी व उनकी प्रवृत्ति के विरुद्ध लड़ने वालों को भी कांग्रेस खत्म हो, ऐसा लगना यह सबसे गंभीर खतरा है। ये प्रयास फासिस्ट वादी प्रवृत्ति को बढ़ावा देने जैसे हैं  यूपीए के समानांतर दूसरा गठबंधन बनाना यह भाजपा के हाथ मजबूत करने जैसा है।

Vaccination-Mega-Campaign-निजी-अस्पतालों-में-भी-होगा-कोविड-रोधी-टीकाकरण-मुफ्त

सागर वॉच।
मध्य प्रदेश मे शत प्रतिशत टीकाकरण के मकसद से 25 एवं 26 अगस्त को टीकाकरण का  महा अभियान चलाया जाएगा। 
निर्वाचन आयोग की मतदाता पर्ची की तर्ज पर टीकाकरण  पर्ची के साथ पीले चावल देकर लोगों को आमंत्रित किया जा रहा है। इस अभियान में पहली बार निजी चिकित्सालय, नर्सिंग होम में भी निःशुल्क टीकाकरण के लिए केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं।

कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सागर जिले को शत-प्रतिशत वैक्सीनेट करने के लिए जनप्रतिनिधियों, धर्मगुरुओं, स्वयंसेवी संगठनों, क्राइसिस मैनेजमेंट के सदस्य एवं मीडिया के साथियों का सहयोग लेकर जिले में वैक्सीनेशन कराएं। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि चुनाव की तर्ज पर एक दिन पूर्व समस्त वैक्सीनेशन सेंटर  पर वैक्सीनेशन टीमें रवाना की जाए, जिसके लिए पर्याप्त मात्रा में बस एवं वाहनों की व्यवस्था की जावे ।


कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि प्रत्येक विकासखंड में भी जिला स्तर के पांच-पांच अधिकारी लगातार मानिटरिंग करें ।उन्होंने कहा कि कमांड कंट्रोल सेंटर के माध्यम से 25 एवं 26 अगस्त को पूरे दिन चुनाव की तर्ज पर टीकाकरण  की जानकारी अद्यतन करते रहें।
  
कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि जिले में शत-प्रतिशत वैक्सीनेशन कराने के लिए निर्वाचन आयोग की मतदाता पर्ची की तर्ज पर वैक्सीन पर्ची के साथ पीले चावल देकर लोगों को आमंत्रित करें और टीकाकरण कराएं ।

उन्होंने कहा कि 25 एवं 26 अगस्त को आयोजित होने वाले टीकाकरण महा अभियान के लिये 316 से अधिक टीकाकरण केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं । उन्होंने बताया कि चिन्हित निजी चिकित्सालय, नर्सिंग होम में निःशुल्क टीकाकरण केंद्र स्थापित किए जा रहे हैं। प्रत्येक टीकाकरण सेंटर पर प्रथम एवं द्वितीय खुराक  लगाने के लिए अलग-अलग व्यवस्था की गई है, जिससे अव्यवस्था न फैल पाए और समय पर सभी व्यक्तियों को टीकाकरण किया जा सके । 


उन्होंने कहा कि प्रत्येक सेंटर पर दो कंप्यूटर ऑपरेटर एवं दो वैक्सीनेटर उपलब्ध रहेंगे इसके लिए, उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि शिक्षकों की सेवाएं लेकर उनको वैक्सीनेशन करवाने के कार्य सौपा जाएं । उन्होंने कहा कि कंप्यूटर ऑपरेटरों की समुचित व्यवस्था के लिए समस्त विभागों के साथ शिक्षा विभाग के कंप्यूटर ऑपरेटरों एवं शिक्षकों की ड्यूटी लगाई जावे ।

कलेक्टर श्री दीपक सिंह ने हाल में टीकाकरण महाअभियान की बैठक में समस्त निजी चिकित्सालय,नर्सिंग होम क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी के सदस्य स्वयंसेवी  संस्थाओं, धर्मगुरुओं एवं मीडिया के सहयोगियों से चर्चा करते हुए अपील की कि जिले में शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने के लिए सहयोग प्रदान कर इसका प्रचार प्रसार करें ।

उन्होंने कहा कि शासकीय अस्पतालों के साथ निजी चिकित्सालय एवं धार्मिक स्थानों पर भी वैक्सीनेशन सेंटर स्थापित किए जा रहे हैं, जिससे टीकाकरण कराने में किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े ।


निजी चिकित्सालयों के संचालकों द्वारा बताया गया कि सभी निजी चिकित्सालय में पैरामेडिकल स्टॉफ को उपलब्ध तैनात किया जाएगा। साथ ही अपने-अपने चिकित्सालय में टीकाकरण केंद्र  स्थापित कर निशुल्क टीकाकरण होगा ।

इस अवसर पर नगर निगम कमिश्नर आरपी अहिरवार, अपर कलेक्टर श्री अखिलेश जैन, सिटी मजिस्ट्रेट  सीएल वर्मा ,संयुक्त कलेक्टर आदित्य शर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुरेश बौद्ध,सिविल सर्जन डॉ ज्योति चौहान  सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

 Get-Covid-Certificate-On -WhatsAp-अब-व्हाट्सअप  -पर-भी-मिलेगा-कोविड-टीकाकरण-का-प्रमाण-पत्र



सागर वॉच।   
अब तक कोविड टीकाकरण के बाद उसका प्रमाण पत्र हासिल करने के लिए लोगों को कोविन की  वेबसाइट पर जाकर लॉग इन करना पड़ता था । फिर प्राप्त हुए  ओटीपी को भरना पड़ता था उसके बाद ही प्रमाण पत्र डाउनलोड करना पाते थे । यह प्रक्रिया इन्टरनेट का ज्यादा ज्ञान नहीं रखने वालों के लिए मुश्किल लगती थी। केंद्रीय स्वस्थ्य मंत्रालय ने    हाल ही में आम लोगों की  इस समस्या का  समाधान कर दिया है । अब लोगों को टीकाकरण का प्रमाण पत्र व्हाट्स अप पर ही मिल जायेगा ।Get-Covid-Certificate-On -WhatsAp-अब-व्हाट्सअप  -पर-भी-मिलेगा-कोविड-टीकाकरण-का-प्रमाण-पत्र

Also Read: News In Short-तीसरी लहर से निपटने बीएमसी तैयार

केंद्रीय स्वास्थय  मंत्री  मनसुख मंडाविया  ने बताया कि अब वाट्स अप के जरिये कुछ ही पलों में आपको टीकाकरण का प्रमाण पत्र मिल जायेगा । रविवार 8 अगस्त से इसकी शुरुआत भी हो गयी है । व्हाट्स अप पर टीकाकरण का प्रमाणपत्र हासिल करने के लिए छोटी से प्रक्रिया है । पहले अपने मोबाइल में  यह मोबाइल नम्बर -9013151515 को कोविड  सर्टिफिकेट के नाम से  सेव कर ले । उसके बाद व्हाट्स के सन्देश  लिखने की जगह पर अंग्रेजी में  - COVID CERTIFICATE - लिख कर कोविड सर्टिफिकेट नाम से दर्ज किये नंबर पर भेज दें । इसके तुरंत बाद आपके टीकाकरण के लिए आपके द्वारा दर्ज कराये मोबाइल नंबर पर ओटीपी आयेगा । उसे व्हाट्स अप के सन्देश बॉक्स में टाइप कर भेज दें ।

Also Read: अंधों-गूंगों की सरकार ने तालाब के बीच से बिछा दी सीवर लाइन-कांग्रेस

ओटीपी भेजते है आपको व्हाट्स अप पर सन्देश मिलेगा कि टीकाकरण प्रमाणपत्र डाउनलोड करने के लिए सन्देश बॉक्स में 1 टाइप कर भेजें । इसके तुरंत बाद आपको टीकाकरण प्रमाणपत्र की पीडीऍफ़ लिंक आ जाएगी । उस परक्लिक करते ही आपका टीकाकरण प्रमाणपत्र खुल जायेगा ।

इसी क्रम में अगर आप व्हाट्स सन्देश बॉक्स में Menu लिख कर भेज देंगे तो आपको कोविड सम्बन्धी कई प्रकार की जानकारी हासिल करने की विकल्प प्राप्त हो जायेंगे । आप  जैसे ही पसंदीदा विकल्प के पहले लिखे उसके  क्रम का   नंबर सन्देश बॉक्स में  लिखकर वापस भेजेंगे । आपको तुरंत चाही गयी जानकारी मिल जाएगी 

News-In-Short-कलेटर-ने-कोरोना-संक्रमण-बचाओ-तंत्र-को-पुनः-सक्रिय-किया

सागर वॉच 
03 अगस्त 2021 News In Short

संक्रमण के मामले बढ़ते है सक्रिय हुआ प्रशासन 

जिले में कोरोना संक्रमितों के मामले सामने आने पर कलेक्टर दीपक सिंह ने चिंता जताते हुए  त्वरित प्रतिक्रिया टीम, मेडिकल चालित इकाई तथा डिस्ट्रिक्ट कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को पुनः सक्रिय करने व कोरोना संक्रमित की सघन मॉनिटरिंग करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना से संक्रमित पाए गए व्यक्तियों की सघन सम्पर्क जांच करते हुए प्रथम संपर्क वाले व्यक्तियों को गृह संगरोध में रखा जाए तथा इन व्यक्तियों पर लगातार निगरानी रखी जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि, कमांड एवं कंट्रोल सेंटर में कोरोना सहायता एवं संपर्क के नंबरों और व्हाट्सएप नंबर को भी  सक्रिय रहने के लिए कहा ताकि आवश्यकता पड़ने पर नागरिक संपर्क कर सकें।

Also Read: News In Short-तीसरी लहर से निपटने बीएमसी तैयार

बुंदेलखंड का मनोरम पर्यटन स्थल बनेगा राहतगढ़ 

सागर। बुंदेलखंड के राहतगढ़ में स्थित जलप्रपात का सम्पूर्ण विकास प्रदेश के तीन विभागों के सहयोग से किया जाना हैं। प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने बताया कि  पर्यटन विभाग, वन विभाग एवं जिला पंचायत के आपसी समन्वय से ढाई करोड़ रुपए से भी अधिक की राशि से राहतगढ़ जलप्रपात  का संपूर्ण विकास होगा। इससे से क्षेत्र में पर्यटन का भी विकास होगा साथ ही यहां बच्चों के लिए पार्क, मुक्त-थिएटर, सेल्फी प्वाइंट, अत्याधुनिक शौचालय ,खेल की गतिविधियां एवं खानपान की उचित व्यवस्था, मुख्य आकर्षक द्वार भी निर्मित किया जाएगा। सुरक्षा की दृष्टि से पूरे पर्यटन स्थल बाड़ भी लगाई जाएगी

Also Read: Strict Action-बेतरतीब काम करने पर टाटा कंपनी को प्रशासन कर सकता है टाटा

सार्वजनिक परिवहन की मजबूती से घटेगा प्रदूषण 

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री  भूपेन्द्र सिंह के मुताबिक  मप्र में शहर वार स्वीकृत और संचालित  शहरों में दुर्घटनाएँ व प्रदूषण कम करने के लिए  सार्वजनिक परिवहन तंत्र को मजबूत किया जा रहा है । बसों की समीक्षा की बैठक में मंत्री ने कहा कि शहरों के अन्दर व विभिन्न शहरों के बीच बसों का  परिचालन पूरी क्षमता से होगा । बसों का परिवहन निविदा की शर्तों के मुताबिक सख्ती से होगा और शर्तों का उल्लंघन होने पर निविदा निरस्त कर दी जाएगी। बैठक में बताया गया कि अमृत योजना में शुरू की गयी सूत्र सेवा में प्राथमिक रूप से शहरों के अन्दर व शहरों के बीच बसों के परिवहन  के लिए क्रमशः 70 व 30 का अनुपात निर्धारित किया गया था। अमृत योजना में प्रदेश को 258 करोड़ रूपये शहरी परिवहन के लिए मिले थे।

Also Read: समीक्षाओं में प्रगति की मीनारें तन रहीं हैं हकीकत में बदहाल है शहर

घर बैठे बनेगा लर्निंग लाइसेंस 

मप्र में फेस लैस लर्निंग लायसेंस की सेवाये दो अगस्त से प्रारंभ की गई है। इसके लिए सारथी पोर्टल पर परिवहन विभाग की सेवाये अपडेट की जा रही है। घर बैठे लर्निंग  लायसेंस हासिल करने के लिए आवेदक को सारथी पोर्टल पर जाकर आवेदन करना होगा। आवेदक परिवहन विभाग की वेबसाईट साइट की लिंक पर जाकर ई-केवाईसी एवं आधार नम्बर दर्ज करने पर आवेदन से संबंधित संपूर्ण जानकारी अपलोड करनी होगी।इसके उपरांत आवेदक को एक ओटीपी नम्बर मोबाइल पर प्राप्त होने के पश्चात् लर्निंग लायसेंस टेस्ट देना होगा , जिसमें कुल 12 प्रश्नों के सही उत्तर देने पर ही वह उत्तीर्ण होगा । उत्तीर्ण होने के पश्चात् आवेदक स्वयं अपना लर्निग लायसेस डाउनलोड कर प्राप्त कर सकता है ।

Society-During-Corona-Period-समाज-की-एकजुटता-के-बिना-संभव-नहीं-था-कोरोना-का-सामना

सागर वॉच कोरोना महामारी का काल एक परीक्षा का वक्त था। जिसमें भारतीय  समय ने साबित कर दिया की आपदा के दौर में सब मिलजुलकर  मुसीबत का सामना करते हैं। कोरोना महामारी कोई छोटी आपदा नहीं थी यह वैश्विक महामारी थे जिससे केवल सरकारी सहायता के नहीं निपटा जा सकता था। यदि भारतीय समाज एक जुट नहीं होता तो हालात बहुत भयावह हो सकते थे । ये विचार समाजवादी चिन्तक रघु ठाकुर ने शहर के परकोटा क्षेत्र में ठाकुर विश्वनाथ सिंह के जन्मदिवस के मौके पर कोरोना काल में समाज की भूमिका विषय पर आयोजित व्याख्यान माला में व्यक्त  किये।

इसी सिलसिले में सागर के पूर्व महापौर अभय दरे  ने मौजूं विषय पर व्याख्यान माला आयोजित करने के लिए तुलसी स्मृति न्यास को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा की समाज में किये गए अच्छे कामों को सदा याद किया जाता है ।

सागर केंद्रीय विश्वविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर  सुरेश आचार्य ने भी कोरोना काल में सरकारी सहायता  व् अस्पतालों की बदहाली का जिक्र करते हुए कहा कि  इस दौर में समाज में नेकी का कार्य करने वाले सभी लोग आदर के पात्र  हैं ।

Also Read: News In Short-तीसरी लहर से निपटने बीएमसी तैयार

कार्यक्रम के समापन पर समाजसेवी महेश श्रीवास्तव ने आयोजकों का शुक्रिया किया और लोगों से आग्रह किया कि वे समाज को नयी दिशा दिखाते रहें  । डॉक्टर इंद्राज सिंह ठाकुर ,पूर्व मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी , समाजसेवी डॉ डीके गोस्वामी  मनीष जैन एवं अनिल जैन नैनधरा राजेंद्र सिंह ठाकुर श्री मति जैन को तुलसी स्मृति न्यास की ओर से सम्मानित किया गया । अंत में कोरोना महामारी मे मृत्यु के शिकार हुए लोगों को दो मिनिट का मौन रख कर श्रृद्धाञ्जलि अर्पित की गई।  डॉ विनोद तिवारी ने धन्यवाद ज्ञापित किया। 

Also Read: समीक्षाओं में प्रगति की मीनारें तन रहीं हैं हकीकत में बदहाल है शहर

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से पं सुखदेव तिवारी, अरुण प्रताप सिंह ,श्री मति गायत्री ठाकुर , सक्षम कृष्ण वीर सिंह मोतीलाल पटेल, एस पी सिंह, पप्पू गुप्ता रफीक गनी ,सुधीर ठाकुर, मुकुल पुरोहित सिंटू कटारे ,राजेंद्र सिलाकारी, प'कज सिंघई , सुनील चौकसे ,कपिल पचौरी राजू ठाकुर, महेश पांडे ,नारायण सिंह प्रो विनोद दीक्षित, केवल जैन ,अभय सिंघई प्रशांत ठाकुर आदि बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

Politics Corner-पीएम-सीएम-है कोरोना-आपदा-के-जिम्मेदार-दिग्विजय-सिंह

सागर वॉच।
कोरोना काल में दिवंगत हुए लोगों के
  श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शामिल हुए पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि करोना संक्रमण के रूप में पूरे राष्ट्र को बड़ी आपदा का सामना करना पड़ा है। इस आपदा में प्रदेश और देश में लाखों की संख्या में आम जनता के काल कलवित होने की पूरी जिम्मेदारी देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की है। 

इस संबंध में उन्होंने खुलासा किया कि जब कांग्रेस के राष्ट्रीय नेता  राहुल गांधी ने संक्रमण आने के पहले सरकार को इस बारे में चेताया था और डब्ल्यू एच ओ ने भी इस बात को दोहराया था ऐसे में देश की सरकार ने इन चेतावनियों की अनदेखी कर जानबूझकर देश की जनता को मौत के मुंह में धकेलने का काम किया है। 

Also Read: -लाखा बंजारा झील पर अवैध कब्ज़ा धारियों की अब आयी शामत

उन्होंने कांग्रेस जनों से आव्हान किया कि संक्रमण के दौरान अपनी जान जोखिम में डालने वाले शासकीय अधिकारी और कर्मचारियों को कोरोना योद्धा के रूप में सरकार द्वारा घोषित अधिकारों को दिलाने में लड़ाई लड़े। इसके साथ ही उन्होंने संक्रमण से पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद और सहायता करने का आह्वान भी किया। अपने संबोधन में श्री दिग्विजय सिंह ने सागर के सेवादल समेत कांग्रेसजनों द्वारा संक्रमण के समय आम जनता गरीब और वंचित लोगों की सहायता करने की सराहना की।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद रामेश्वर नीखरा ने कहा कि खतरा अभी टला नहीं है और सरकार पर किसी तरह का भरोसा नहीं किया जा सकता है। इसलिए आने वाले समय के लिए भी कांग्रेसजन स्वयं भी सचेत हो और समाज के लोगों को भी सचेत करें। उन्होंने सभी से  वेकसीनेशन कराने का भी आव्हान किया।

जिला ग्रामीण अध्यक्ष स्वदेश जैन  ने कहा कि असमय रूप से आई आपदा में श्री दिग्विजय सिंह जी द्वारा यहां आकर सांत्वना देने से शोकग्रस्त परिवारों को दुख सहने की ताकत मिली है। कांग्रेस अध्यक्ष रेखा चौधरी ने कहा कि कोरोना संक्रमण के समय सरकार और प्रशासन ने जिले के लोगों को इलाज और दवाओं के अभाव में अकाल मृत्यु मरने के लिए छोड़ दिया। इसके बावजूद सेवा दल और कांग्रेस के पदाधिकारियों ने पीड़ितों की हर स्तर पर मदद की यहां तक कि उनके अंतिम संस्कार में भी सहयोग किया।


कार्यक्रम में दिवंगत परिवारों के सदस्य के रूप में , अवध बिहारी बिल्थरे  कृष्णा सिंह महुआ खेड़ा श्री बाबू सिंह लोधी ज्योति पटेल, राजेंद्र जैन, प्रिंस जैन अजीम खान ,सरोज विश्वकर्मा ज्योति सागर, विजय साहू मुकुल पुरोहित आदि ने अपने परिजनों के कोरोना संक्रमित होने के दौरान इलाज में सरकार और स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही को उजागर किया।कार्यक्रम का संचालन  प्रवक्ता एवं डॉ संदीप सबलोक तथा आभार प्रदर्शन जिला प्रवक्ता आशीष ज्योतिषी ने किया।


ये रहे मौजूद

कार्यक्रम में कार्यकारी अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री सुरेंद्र चौधरी, पूर्व मंत्री एवं विधायक हर्ष यादव ,विधायक तरवर सिंह लोधी पूर्व मंत्री प्रभुसिंह ठाकुर ,पूर्व विधायक अरुणोदय चौबे, नारायण प्रजापति,पूर्व सांसद आनंद अहिरवार ,त्रिलोकीनाथ कटारे  , सिंटू कटारे , राहुल चौबे , प्रमिला राजपूत,  रामकुमार पचौरी, राजकुमार पचौरी, महेश जाटव, शारदा खटीक, अतुल नेमा, अवधेश तोमर ,शेलेन्द्र तोमर, जितेंद्र  रोहण ,दीपक राजोरिया, श्याम  सराफ, सहित वरिष्ठ नेताओं जिला कांग्रेस ब्लॉक कांग्रेस मंडलम सेक्टर समिति नगर निगम व नगर पालिका के पूर्व पार्षद पंचायत प्रतिनिधियों सेवादल युवा कांग्रेस महिला कांग्रेस एनएसयूआई सभी विभाग प्रकोष्ठ व समितियों के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं से उक्त कार्यक्रम में आवश्यक रूप से उपस्थित होकर अपनी श्रद्धांजलि दी।

Mega-Vaccination-Drive--पहले-ही-दिन-सागर-में-लक्ष्य-से-ज्यादा-हुआ-टीकाकरण

सागर वॉच @ 
विश्व योग दिवस पर देशव्यापी स्तर पर शुरू हुए महाटीकाकरण अभियान के सागर जिले में अच्छे नतीजे सामने आए हैं। जिले में लक्ष्य से ज्यादा टीकाकरण हुआ है। जिला प्रशासन कोविडरोधी टीकाकरण के महाभियान को सफल बनाने के लिए योजनाबद्ध तरीके से कर रहा है। इसी सिलसिले में जिला पंचायत मुख्यकार्यपालन अधिकारी ने ग्रामीण क्षेत्र में टीकाकरण के लिए बनाए गए 242 टीकाकरण केन्द्रों से 21 जून से 30 जून के बीच लगभग 20 हजार पौधों का वितरण किए जाने के इंतजाम किए हैं।
 
Also Read: तीसरी लहर के सितम्बर-अक्टूबर से शुरू होने की आशंका..!

जिला कलेक्टर  ने टीकाकरण के महाभियान मे लापरवाही बरतने पर शाहपुर व जैसीनगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की दो एएनम चंद्रवती अहिरवार व मीना अहिरवार को निलंबित कर दिया है।वहीं इन्हीें सामुदायिक केन्द्रों के प्रभारी  मुख्य चिकित्सा अधिकारियों क्रमशः आनंद दास शर्मा व डाॅ. एलएस शाक्या को भी कर्तव्यों में लापरवाही के चलते कारण बताओ नोटिस जारी किया है।

Also Read: सागर में बनेगी बुंदेलखंड की सबसे ऊंची ईमारत

Innovative-Innitiatives-to-promote-Vaccination- बुन्देली-परंपरा-से-घर-घर-पहुँच-रहा-है-टीका-लगवाने-का-निमंत्रण

 सागर,वॉच @ देश भर में व्यापक पैमाने पर शुरू हो रहे कोविड-रोधी टीकाकरण अभियान को बुंदेलखंड अपने परंपरागत  अंदाज में ही आगे बढ़ाएगा   यहां प्रशासन शुरू से ही  लोगों को टीकाकरण के लिए बुलाने के लिए बुंदेलखंड की न्यौता(आमंत्रण )देने की चिरपरिचित पंरपरा का सहारा ले लेता रहा है। नवाचारों  के चलते  नगरीय क्षेत्र में टीकाकरण का प्रतिशत  संपूण जिले के मुकाबले काफी ज्यादा बना हुआ है। प्रशासन को उम्मीद है कि टीकाकारण के महाभियान के दौरान इस कार्य में और अधिक तेजी आएगी।


विश्व योग दिवस 21 जून से शुरू होने जा रहे टीकाकरण के महाभियान को सौ फीसदी के अंजाम तक ले जाने के लिए प्रशासन कोई कोर कसर बाकी नहीं छोड़ रहा है। इस सिलसिले में नगर निगम आयुक्त राम प्रसाद अहिरवार  ने सागर वॉच  को बताया कि  टीकाकरण के महाभियान शुरू होने से पहले तक भी शहरी क्षेत्र में टीकाकरण की दर शेष जिले की दर से काफी ज्यादा रही है। जिले में अब तक हुए 35 फीसद टीकारण के मुकाबले में नगर निगम क्षेत्र में यह आंकड़ा इसके लगभग दोगुने 65 फीसद तक  पहंच गया है। इस आंकड़ें को सौ तक ले जाने के लिए प्रशासन ने लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित करने के लिए उन्हें घर-घर जाकर बुलाने का अभियान जारी रखेगा 


निगम आयुक्त अहिरवार ने बताया कि प्रशासन की ओर से आंगनवाड़ी और आशा कार्यकर्ता और इस कार्य में लगे सभी कर्मचारी बुंदेलखंड की लोकप्रिय परंपरा के तहत लोगों को टीकाकरण के लिए बुलाने घर-घर पीले चावल लेकर जा रहे हैं। बंदेलखंड की इस परंपरा के तहत   शुभ कार्य के लिए मानदान (सम्माननीय लोग) को आमंत्रित करने के लिए पीले चावल लेकर घर-घर जा या जाता है। हल्दी से रंगे चावल के दानों को सम्माननीय  जनों के दरवाजे पर देहरी पर रखकर उनसे  हाथ जोड़ कर विनम्रता पूर्वक आयोजन में शामिल होने का निवेदन किया जाता है।


प्रशासन का मानना है एक तो टीकाकरण लोगों की जिंदगी से जुड़ा बेहद अहम मामला है। दूसरा पीले चावल के साथ प्राप्त  आमंत्रण को  स्वीकारने को    नैतिक  रूप से जरूरी  मानते हैं । प्रशासन का कहना है कि लोग   टीकाकरण केन्द्रों में आकर टीका लगवा कर अपनी व परिजनों की जिंदगी को सुरक्षित बनाएंगें।

Inaugration-of Covid-19-Hospital-मप्र-में-कोरोना-संक्रमण-की-दर-एक-फीसद- से-नीचे-पहुंची

सागर वॉच।
 भारत सरकार के पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस तथा इस्पात मंत्रालय के कैबिनेट मंत्री  धर्मेन्द्र प्रधान का कहना है कि करोना की दूसरी लहर के चलते  मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान द्वारा जनता के हित में लिए गए निर्णय के कारण मप्र में कोरोना संक्रमण लगातार कम हुआ और कोरोना सक्रमण की दर घटकर  0.46 प्रतिशत रह गयी। वर्तमान में  प्रदेश में ऐसे 24 जिले हैं जहां कोरोना का एक भी प्रकरण नहीं हैं।


मुख्यमंत्री चौहान के ऐसे ही सूझ-बूझ भरे फैसलों में से एक सागर के बीना में भी भारत ओमान रिफ़ाइनरी के पास 200 बिस्तरों का ऑक्सीजन युक्त अस्थाई कोविड अस्पताल है।यह अत्यंत कम समय में विकिसित की गई सर्व सुविधायुक्त मेडिकल सुविधा का बेहतरीन उदाहरण है।

शनिवार को भारत सरकार के पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस तथा इस्पात मंत्रालय के कैबिनेट मंत्री  धर्मेन्द्र प्रधान ने  मुख्या मंत्री की उपस्थिति में अस्थाई कोविड अस्पताल का लोकार्पण एवं ऑक्सीजन बॉटलिंग एवं रीफ़िलिंग प्लांट का शिलान्यास किया।


भगवान करे इस हॉस्पिटल की जरूरत ही न पड़ें

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, ईश्वर से प्रार्थना है कि, इस अस्पताल की आवश्यकता कभी ना पड़े परंतु , इस अस्पताल का निर्माण सावधानी के तौर पर किया गया है। भविष्य में संभावित तीसरी लहर की तैयारी के रूप में इस अस्पताल में समस्त सुविधाएँ स्थापित की गई हैं। हमारा प्रयास है कि, आपदा प्रबंधन कमेटी की सक्रियता और जनता के सहयोग से तीसरी लहर को रोका जा सकेगा।
उन्होंने कहा कि, कोरोना वायरस  वेरिएंट बदलता रहता है। दूसरी लहर के वक़्त हम सभी ने ख़तरनाक संक्रमण का सामना किया। अतः भविष्य की किसी भी आशंका  को न नकारते हुए  समस्त आवश्यक व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जा रही हैं।


इस क्रम में बीना रिफ़ाइनरी के सहयोग से ऑक्सीजन भरण  एवं पुनर्भरण  संयंत्र  का निर्माण किया जा रहा है। जिससे कोरोना संक्रमण के इलाज के लिए आवश्यक ऑक्सीजन उपलब्ध हो सकेगी साथ ही मप्र  ऑक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर होगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि, इतने कम समय में इस अस्पताल का निर्माण संभव हो पाया क्योंकि, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवं भारत सरकार के पेट्रोलियम मंत्री श्री धर्मेंद प्रधान ने इस संपूर्ण कार्य में भरपूर सहयोग दिया। पूर्व में श्री प्रधान इस अस्पताल का निरीक्षण करने आए थे और आज लोकार्पण के अवसर पर भी यहाँ मौजूद हैं।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि, मध्य प्रदेश में करोना संक्रमण अब नियंत्रण में है। 12 जून की स्थिति में सागर में तीन और पूरे बुन्देलखंड में 15 प्रकरण हैं। परंतु हमें न ही निश्चिंत होना है और न ही सावधानियाँ छोड़नी हैं। बल्कि, लगातार कोविड संक्रमण रोकने सम्मत व्यवहार अपनाना है। जिसमें मास्क लगाना, सेनेटाईजर अथवा साबुन का इस्तेमाल करना, भीड़ एकत्रित न करना तथा अत्यावश्यक रूप से वैक्सीनेशन कराना शामिल है।


मुख्यमंत्री  चौहान ने कहा कि, यह समय संयम एवं धैर्य का परिचय देने का है। फ़िलहाल किसी भी प्रकार के बड़े आयोजन नहीं किए जा सकेंगे। शादी, धार्मिक अनुष्ठान अथवा किसी भी प्रकार के बड़े कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जा सकेंगे। लापरवाही और ढिलाई के चलते ही संक्रमण बढ़ता है, आतः संक्रमण रोकने में संयम और सावधानियाँ ही काम आएँगी।


संक्रमण को रोकने के तीन उपाय

मुख्यमंत्री चौहान ने कोरोना संक्रमण को रोकने के तीन उपाय बताए। जिसमें सरकार, जनता एवं आपदा प्रबंधन समिति  का सक्रिय सहयोग शामिल है। उन्होंने बताया कि, शासन द्वारा प्रतिदिन 80 हज़ार टेस्ट कराने का। लक्ष्य निर्धारित किया गया है। कोरोना जांच के बाद संक्रमित और संदिग्ध व्यक्तियों को तत्काल कोविड देखभाल केंद्र  में  संगरोध  किया जा रहा है। इसी प्रकार किल कोरोना अभियान, द्वार-द्वार सर्वेक्षण  एवं बुखार   क्लीनिक के माध्यम से भी संक्रमण पर नियंत्रण बना हुआ है।

Kill-Corona-Campaign- निगम-इलाके-में-दस-दिनों-में-आधे-वार्ड-कोरोना-मुक्त-हुए

सागर वॉच । 
नगर निगम क्षेत्र में पिछले 10 दिनों में 48 वार्डो में से 24 वार्ड ऐसे है जिनमें एक भी सक्रिय प्रकरण नहीं है और ये सभी वार्ड हरित प्रक्षेत्र में शामिल हो गये है जबकि 24 वार्ड ऐसे है जो भी पीले प्रक्षेत्र में  उनमें 10 से कम सक्रिय मामले हैं । इस प्रकार मौजूदा स्थिति में नगर निगम के इन 24 वार्डो में कुल 40 सक्रिय प्रकरण् शेष बचे है।

इन 24 वार्ड जिनमें सक्रिय प्रकरण है उनमें 

तिली वार्ड में 6, बाघराज वार्ड में 4, मधुकरशाह वार्ड में 3, सिविल लाईन में 3 

तथा 

विठ्ठलनगर वार्ड, रविशंकर  वार्डगोपालगंज वार्ड और शिवाजीनगर वार्ड में दो-दो 

Also Read: नेस्ले कंपनी ने खुद माना मैगी नूडल्स सेहत के लिए ठीक नहीं

तिलकगंजवार्ड, शास्त्री वार्ड, गौरनगर, शनिचरी, परकोटा, गुरूगोविंदसिंह,सुभाषनगर,तुलसीनगर,संतरविदास, मोतीनगर, जवाहरगंज, नरयावली नाका, लक्ष्मीपुरा, पंतनगर, अम्बेडकर, काकागंज में एक-एक सक्रिय है।

कलेक्टर दीपकसिंह एवं नगर निगम आयुक्त आर.पी.अहिरवार के संयुक्त प्रयासों से पूर्व में हॉट स्पॉट बने वार्ड भी अब कोरोना से मुक्त हो गए हैं   इन वार्डो में संक्रमण रोकने के उपाय किये गये और जो लोग संक्रमित थे उन्हें तत्काल उपचार दिया गया इस कार्य में नगर निगम द्वारा बनाये गये कोविड फीवर क्लीनिक, घर-घर जांच और दवा वितरण, सैंपलिंग एवं कोविड सहायता केन्द्र बनाये जिससे नागरिकों की प्रारंभ में ही जांच हो गई और लक्षण पाये जाने पर उन्हें कोविड केयर सेंटर में भर्ती किया गया और उनके निवास के पूरे क्षेत्र में कंटेनमेंट क्षेत्र बनाया गया ताकि बाहर और अंदर आने जाने वालों को रोक दिया गया जिससे संक्रमण आगे नहीं बढ़ गया।

Also Read: तीसरी लहर के सितम्बर-अक्टूबर से शुरू होने की आशंका..!

ग्रीन जोनों के वार्डो पर नजर डाले तो पिछले 10 दिनों की स्थिति में निगम के 24 वार्ड ग्रीन जोन में शामिल हो गये हैं । जिनमें प्रकरणों की संख्या शून्य है जबकि यह वार्ड शहर की घनी आबादी वाले और विशेषकर व्यवसायिक क्षेत्र है लेकिन वह ग्रीन जोन में है  शेष बचे वार्ड भी जल्दी ही ग्रीन जोन में आ जायेगे।