Articles by "#Media_Watch"
#Media_Watch लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

Media Watch-04 DEC-अफ्रीका में पहचाने जाने से पहले से ही भारत में फ़ैल रहा था ओमिक्रान

नवभारत टाइम्स 
अख़बार ने  देश के विषाणु विशेषज्ञों के हवाले से छपी खबर में आशंका जताई है की अफ्रीका में पहचाने जाने से कहीं पहले से कोविड-19 का नया वैरियंट  ओमिक्रान  भारत में  मौजूद रहा है । यहाँ तक कि वह पहली व दूसरी लहर के दौरान भी आबादी के किसी छोटे धड़े में फैलता रहा हो 

खबर में यह भी  तर्क दिया  है कि  कर्नाटक में  बिना किसी ट्रैवलहिस्ट्री वाले शख्स के ओमीक्रोन से  संक्रमित होना भी साफ तौर पर इसी तरफ इशारा कर रहा है। ओमीक्रोन वेरिएंट से संक्रमित मरीजों में अबतक जो लक्षण दिख रहे हैं वे हल्के ही हैं। उन्होंने कहा, 'घबराने की कोई वजह नहीं है लेकिन लापरवाही के लिए भी कोई जगह नहीं है।

बीबीसी समाचार में  सुर्ख़ियों छाई खबर में बताया है कि पाकिस्तान के पंजाब के सियालकोट शहर में एक श्रीलंकाई नागरिक को ईशनिंदा के आरोप में पीट-पीटकर मार डालने के बाद पूरी दुनिया के साथ-साथ पाकिस्तान में भी इसकी निंदा हो रही है। 

खबर के मुताबिक पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद भी " इसे बेहद शर्मनाक  दिन बताया " है । ग़ौरतलब है कि शुक्रवार को सियालटकोट की एक फ़ैक्ट्री में काम करने वाले श्रीलंका के नागरिक प्रियांथा कुमारा को भीड़ ने ईशनिंदा के आरोप में पीट-पीटकर मार डाला बाद में उनके शव को जला दिया 

दैनिक भास्कर ने देश के मौजूदा सियासी हालातों से जुडी खबर को सुर्ख़ियों में छापी खबर में लिखा है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के यूपीए से अलग होकर तीसरे मोर्चे बनाने के मनसूबे पर शिवसेना पानी फेरती दिख रही है। शिवसेना ने 'सामना' की संपादकीय में स्पष्ट किया है कि कांग्रेस को अलग करके मोदी का मुकाबला नहीं किया जा सकता है।

खबर में लिखा है कि मोदी और भाजपा का कांग्रेस का खत्म चाहना समझा जा सकता  है लेकिन मोदी व उनकी प्रवृत्ति के विरुद्ध लड़ने वालों को भी कांग्रेस खत्म हो, ऐसा लगना यह सबसे गंभीर खतरा है। ये प्रयास फासिस्ट वादी प्रवृत्ति को बढ़ावा देने जैसे हैं  यूपीए के समानांतर दूसरा गठबंधन बनाना यह भाजपा के हाथ मजबूत करने जैसा है।

Media-Under-Scanner-  मप्र-में-मीडिया-की-ख़बरों-पर-नजर-रखने-जिलों-में-शुरू-हुए-नियंत्रण-कक्ष

सागर वॉच @7 सितंबर 2021/
 
राज्य शासन ने जिले में सोशल मीडिया पर नजर रखने के लिए  जिला स्तरीय सोशल मीडिया कंट्रोल रूम की स्थापना की है। कंट्रोल रूम के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए समस्त विभागों के नोडल अधिकारी भी नियुक्त किए गए हैं। कंट्रोल रूम द्वारा विभिन्न विभागों से संबंधित नकारात्मक/भ्रामक/असत्य समाचारों एवं प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर चल रही खबरों पर नजर रखी जा रही है।

इसका उद्देश्य प्रिंट,इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर विभिन्न विभागों से संबंधित नकारात्मक/भ्रामक/असत्य समाचारों के तत्काल प्रतिवाद एवं खंडन के द्वारा जन-सामान्य को संबंधित विषय की वस्तुस्थिति से अवगत कराना है। साथ ही शासकीय योजनाओं,कार्यक्रमों के बेहतर प्रचार-प्रसार करना है। 

समस्त नोडल अधिकारी को निर्देश दिए गए हैं कि अपने-अपने विभागों से संबंधित इन नकारात्मक/भ्रामक/असत्य समाचारों एवं प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर चल रही भ्रामक खबरों साथ ही ऐसे प्रत्येक संवेदनशील  मुद्दे की वस्तुस्थिति त्वरित रूप से सोशल मीडिया नियंत्रण कक्ष को उपलब्ध कराएंगे। संबंधित विभाग घटित घटना की जानकारी लिखित एवं वीडियो-बाईट के माध्यम से भी उपलब्ध कराएंगे।

समस्त संबंधित विभाग समाचारों के प्रतिकार अथवा विभाग द्वारा की गई अनुवर्ती कार्यवाही एवं प्रकरण की वास्तविक स्थिति से भी जिला सोशल मीडिया कंट्रोल रूम को सूचित करेंगे। प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक एवं सोशल मीडिया पर विभिन्न विभागों से संबंधित नकारात्मक/भ्रामक/असत्य समाचारों के संबंध में की गई कार्यवाही की प्रत्येक समय-सीमा बैठक में कलेक्टर द्वारा समीक्षा भी की जाएगी।


एडीएम अखिलेश जैन ने बताया कि, सभी विभागों से संबंधित नोडल अधिकारी अपने-अपने विभाग की सकारात्मक खबरों, पॉजिटिव स्टोरी, खुशियों की दास्तां, नवाचार की जानकारी भी  उपलब्ध कराएं। जिससे शासकीय योजनाओं की जानकारी जनसामान्य तक पहुंच सके।

 MEDIA WATCH@ ख़बरें ज़माने भर कीं 

SAGAR WATCH@ 09 JUNE 2021

MEDIA-WATCH-मानसून-में -मुंबई-की-धांसू-आमद-पूरे-देश-को-आगोश-में-लेने-तेजी-से-आगे-बढ़ा

पूरे देश को तरबतर करने तेजी से आगे बढ़ रहा है मानसून 

दक्षिण-पश्चिम मानसून ने मुंबई में एक दिन पहले धांसू एंट्री मारी है। बुधवार को मुंबई सहित कई इलाकों में जबर्दस्त बारिश से सड़कें नदियां बन गईं। मुंबई में समुद्र में हाइटाइड(ज्वार-भाटा) की चेतावनी जारी की गई है। एशिया नेट @ की खबर में मौसम विभाग के हवाले  से बताया है कि, अगले 4-5 दिनों में मानसून 14 राज्यों को तरबतर कर देगा। मौसम विभाग ने भविष्यवाणी की है कि अगले 4-5 दिनों में मानसून 14 राज्यों में प्रवेश कर जाएगा। इनमें तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, विदर्भ, बिहार, झारखंड, गुजरात, तेलंगाना  आदि शामिल हैं। कल या परसों तक मध्य प्रदेश में मानसून के पहुंचने के आसार हैं। 

Also Read: निजी स्कूलों में निःशुल्क प्रवेश के लिये आवेदन 10 जून से

गंगा का पानी अचानक हुआ  हरा 

वाराणसी में अचानक गंगा का पानी हरा दिखाई दे रहा है, जिसके बाद प्रशासन ने जांच का आदेश दिया है. जांच अधिकारी 3 दिन में अपनी रिपोर्ट पेश करेंगे इस सिलसिले में एनडीटीवी @ की खबर कहती है कि जिलाधिकारी के आदेश पर बनारस के खिड़कियां घाट से लेकर मिर्जापुर तक गंगा नदी से जहां-जहां पानी हरा मिला, उसके सैंपल लिए गए हैं. जिला प्रशासन की ओर से ये कार्रवाई इसलिए की गई क्योंकि 20-22 दिनों से गंगा का पानी हरा हो गया है और उसमें काई यानी शैवाल पायी जाने लगी ऐसा पहली बार हुआ है जब गंगा का पानी हरा हुआ है

इनको कोविशील्ड का दूसरा डोज 28 दिन में ही लगेगा

Also Read: चुनाव आयोग ने आधार कार्ड को मतदाता कार्ड से जोड़ने की कवायाद्की  शुरू 

मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि कानून मंत्रालय को एक और प्रस्ताव भेजा गया है जिसमें मतदाता सूची को आधार से जोड़ने का प्रस्ताव है. इससे यह फायदा होगा कि एक से अधिक स्थान पर मतदाता सूचियों में नाम पर रोक लग सकेगी। प्रभात खबर @ ने अपनी खबर में बताया है कि  कानून मंत्री प्रसाद ने हाल ही में लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा था कि चुनाव आयोग का प्रस्ताव सरकार के विचाराधीन है और इसके लिए चुनाव कानूनों में संशोधन करना होगा. अगले साल गोवा, मणिपुर, उत्तराखंड, पंजाब और उत्तर प्रदेश राज्यों में चुनाव होने हैं

Also Read: नेस्ले कंपनी ने खुद माना मैगी नूडल्स सेहत के लिए ठीक नहीं

उत्तरप्रदेश में अदालतों में ए फोर आकार का कागज़ होगा इस्तेमाल 

इलाहाबाद हाईकोर्ट के एक फैसले के मुताबिक  प्रदेश की सभी अदालतों में लीगल साइज की जगह केवल ।4 साइज पेपर का यूज होगा। इसे लागू करने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अपने 155 साल पुराने हाईकोर्ट रूल्स, जनरल रूल्स सिविल व जनरल रूल्स क्रिमिनल में संशोधन कर दिया है। दैनिक भास्कर @ ने अपनी इस खबर में बताया है कि कोर्ट ने 29 मई 2021 को 1952 में बने इन नियमों में संशोधन कर ।4 साइज पेपर लागू करने का आदेश जारी कर दिया है। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यह बदलाव इलाहाबाद विश्वविद्यालय के विधि छात्रों द्वारा दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए किया है।

Also Read: नेस्ले कंपनी ने खुद माना मैगी नूडल्स सेहत के लिए ठीक नहीं

सियासी दलों में उप्र में  जातिगत समीकरण साधने उठा-पटक शुरू 

कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए जितिन प्रसाद को भगवा दल के लिए ब्राह्मण वोटों के लिहाज से भी अहम माना जा रहा है। एक समय में ब्राह्मणों का बड़ा वोट हासिल करने वाली बीजेपी इन दिनों इस बिरादरी को लुभाने में जुटी है। खासतौर पर ऐसे दौर में जब योगी सरकार के गठन के बाद से ही ब्राह्मणों की उपेक्षा के आरोप लगते रहे हैं। लाईव हिन्दुस्तान @ की इस खबर के मुताबिक ऐसी स्थिति में जितिन प्रसाद को शामिल कर बीजेपी एक बड़ा संदेश देने की कोशिश कर सकती है। यूपी में 2022 में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं और बीजेपी अभी से चुनावी मोड में आ चुकी है। ऐसे में जितिन प्रसाद की एंट्री वोटरों के एक वर्ग को साधने का दांव माना जा रहा है।

Also Read: तीसरी लहर के सितम्बर-अक्टूबर से शुरू होने की आशंका..!

अब टीकाकरण प्रमाणपत्र में गलतियों का हो सकेगा सुधार 

यदि रजिस्ट्रेशन के दौरान नाम या जन्म तारीख में कोई गलती हो गई है तो आप कोविन पोर्टल पर लॉगिन करके उसमें सुधार कर सकते हैं। कोविन पोर्टल के नए अपडेट की जानकारी आरोग्य सेतु ने ट्वीट करके दी है।ष् सरकार ने कोविन पोर्टरल  के लिए नया अपडेट जारी किया है। अमर उजाला @  इस विषय पर प्रकाशित अपनी खबर में बताया है कि इस अपडेट के बाद ब्वूपद पर ही आप अपने वैक्सीन के सर्टिफिकेट में मौजूद किसी गलती को सुधार सकेंगे। यदि रजिस्ट्रेशन के दौरान नाम या जन्म तारीख में कोई गलती हो गई है तो आप ब्वूपद पोर्टल पर लॉगिन करके उसमें सुधार कर सकते हैं। कोविन पोर्टल के नए अपडेट की जानकारी आरोग्य सेतु ने ट्वीट करके दी है। सर्टिफिकेट में हुई किसी गलती को सुधारने के लिए कोविन पोर्टल में अब मुद्दा उठाने का विकल्प मिलेगा।





 MEDIA WATCH@ ख़बरों  ज़माने भर कीं 

SAGAR WATCH@ 08 JUNE 2021

MEDIA-WATCH-विदेश-जाने-वालों-को-कोविशील्ड-का-दूसरा-डोज-जल्दी-लगेगा

दौरों और बैठकों को नेतृत्व बदलाव की कवायद दिखाना मीडिया के दिमाग की उपज 

उप्र में संघ और भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारियों के सघन दौरों को लेकर शुरू हुए नेतृत्व परिवर्तन के अटकलों के दौर पर अब विराम लगता नजर आ रहा है  हाल  ही में उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टाईम्स ऑफ इंडिया @ अखबार को दिए साक्षात्कार में दावा किया कि यूपी में 2022 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी दो-तिहाई बहुमत से जीतेगी। उन्होंने इंटरव्यू में कहा कि  दौरौं और बैठकों को मीडिया प्रफेशनल्स ने सुर्खियां बटोरने और लोगों का ध्यान खींचने के लिए इसे सनसनीखेज बनाया और बढ़ा.चढ़ाकर पेश किया। 

Also Read: तो क्या शर्मा जी होंगे उप्र के नए मुख्यमंत्री ...?

बीजेपी एक कैडर आधारित पार्टी है जो भाई-भतीजावाद पर नहीं चलती है। पार्टी अपने कैडर को सक्रिय रखती है। इसके लिए वरिष्ठ नेता हर दो महीने में मिलते हैं और राज्य इकाइयों के साथ बैठक करते हैं। हमारे प्रदेश प्रभारी (बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राधा मोहन सिंह) महीने में दो बार यूपी आते हैं। पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने चार महीने पहले खुद लखनऊ का दौरा किया था।श्

विदेश जाने वालों को दूसरा कोविशील्ड का दूसरा डोज जल्दी लगेगा 

विदेश जाने वालों के लिए सरकार ने वैक्सीनेशन शेड्यूल में बदलाव किया है। कोविशील्ड  की दूसरी डोज इन लोगों को 28 दिन के बाद लगाई जा सकेगी. पढ़ाई के लिए बाहर जाने वाले छात्र, विदेश में नौकरी-पेशा, ओलंपिक के लिए जाने वाले लोग- ऐसे लोगों को विदेश जाने के लिए वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट दिखाना होता है।

 जी न्यूज @ ने अपनी खबर में लिखा है कि ऐसे लोगों का वैक्सीनेशन 28 दिनों के बाद हो सकेगा जो लोग इन वर्ग में आते हैं और उन्हें विदेश जाना है तो वैक्सीनेशन के लिए उन्हें कुछ दस्तावेज दिखाने होंगे जैसे ओलंपिक में जाने का लेटर, नौकरी से जुड़े दस्तावेज, पढ़ाई के लिए जा रहे छात्रों को भी जरूरी कागज दिखाने होंगे ये कागज दिखाने के बाद आसानी से दूसरी डोज भी मिल सकेगी

Also Read: नेस्ले कंपनी ने खुद माना मैगी नूडल्स सेहत के लिए ठीक नहीं

मानसून ने रफ़्तार पकड़ी, महाराष्ट्र पहुंचा 

दक्षिण-पश्चिम मानसूनी बादल तेजी से आगे की ओर बढ़ रहा है। केरल से महाराष्ट्र में प्रवेश कर चुके मानसून ने अब रफ्तार पकड़ ली है। पूर्वोत्तर राज्यों में भी अब मानसूनी बादल फैल चुके हैं नईदुनिया @ अखबार ने मौसम पर केन्द्रित अपनी खबर में लिखा है कि ऐसी संभावना है कि आने वाले तीन या चार दिन में सभी पूर्वी राज्यों और बंगाल की खाड़ी से लगे राज्यों में मानसूनी बादल सक्रिय हो जाएंगे। ऐसे में देश के उत्तरी क्षेत्र में मानसूनी वर्षा समय पर होने की उम्मीद है। अच्छी बारिश की उम्मीद के चलते इस बार कृषि मंत्रालय ने भी सभी राज्यों को चालू सीजन की फसलों के लिए वैज्ञानिक सलाह भेजी है

Also Read: तीसरी लहर के सितम्बर-अक्टूबर से शुरू होने की आशंका..!


चीन पर कोरोना वायरस को लैब में बनाने के लगातार लगते आरोपों के दौर के बीच अमेरिकी सरकार की नेशनल लैब द्वारा कोविड -19 की उत्पत्ति पर जारी एक रिपोर्ट ने निष्कर्ष निकाला है कि कोरोना वायरस वुहान की लैब से ही लीक हुआ है और इसकी जांच होनी चाहिए। लाईव हिन्दुस्तान @ ने अमेरिकी अखबार द वॉल स्ट्रीट जर्नल के हवाले से खबर लगाई है कि रिपोर्ट में कहा गया है कि ये स्टडी मई 2020 में कैलिफोर्निया में लॉरेंस लिवरमोर नेशनल लेबोरेटरी द्वारा तैयार की गई थी और ट्रम्प प्रशासन के आखिरी महीनों के दौरान महामारी की उत्पत्ति की जांच के दौरान विदेश विभाग द्वारा रेफर की गई थी।

कोविड के उपचार से कई प्रमुख दवाएं  हुईं बाहर 

कोरोना का लंबे इलाज और करोड़ों की दवाओं की खपत के बाद खुलासा, संतुलित आहार-सकारात्मकता है इलाज। अमल उजाला @ अपनी खबर रोष जताया है कि कोविड उपचार प्रोटोकॉल में ज्यादातर दवाएं साक्ष्य आधारित नहीं, विशेषज्ञों का कहना है कि साल भर में करोड़ों रुपये की कालाबाजारी, दवा कंपनियों को मुनाफा और भारत सरकार की समितियों में बैठे प्रतिनिधियों के बेतुके फैसले लेने के बाद अंत में संतुलित आहार और सकारात्मकता पर ही आकर देश खड़ा हो गया। 

नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल, आईसीएमआर के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव, एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया, आईसीएमआर के पूर्व संक्रामक रोग प्रमुख डॉ. रमन आर गंगाखेड़कर, वर्तमान प्रमुख डॉ. समीरन पांडा, स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव कुमार अग्रवाल सहित इन सभी के अनुसार देश में 80 फीसदी मरीज बिना या हल्के लक्षण वाले हैं। इसका मतलब साफ है कि 80 प्रतिशत मरीजों को दवा नहीं लेनी है।

Also Read: भारत में मिला कोरोना संक्रमण का एक और नया वेरिएंट

खुशखबरी..!ईजाद हुई अल्‍जाइमर रोग की दवा 

दुनियाभर के अल्‍जाइमर के करोड़ों मरीजों के लिए खुशखबरी है। अमेरिका के खाद्य और औषधि प्रशासन ने अल्‍जाइमर के मरीजों के इलाज के लिए एक नई दवा को मंजूरी दे दी है। नवभारत टाईम्स @ की खबर बताती है की अल्‍जाइमर की इस दवा का नाम Aduhelm (aducanumab)  है। पिछले 20 साल में ऐसा पहली बार हुआ है जब अल्‍जाइमर के इलाज की किसी दवा को मंजूरी दी गई है। यह ऐसी पहली दवा है जो बीमारी के प्रगति को रोक देती है।


 MEDIA WATCH @ खबरें ज़माने भर कीं 

SAGAR WATCH @ 07 JUNE 2021

MEDIA-WATCH-भारत-में  -मिला-कोरोना-संक्रमण-का-एक-और-नया-वेरिएंट

नईदुनिया @  में 
 कोरोना महामारी से जुडी  प्रकाशित खबर ने खुलासा किया है कि
 भारत में कोरोना संक्रमण का नया वेरिएंट मिला है। इसे B.1.1.28.2 नाम दिया गया है। पुणे स्थित नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ विरोलॉजी ने इसका पता लगाया है। वैज्ञानिकों का मानना है कि कोरोना के इस वेरिएंट से मरीज का वजन तेजी से कम होता है। यह फेफड़ों के लिए ज्यादा घातक साबित होता है। वायरस का यह नया वैरिएंट भारत में पाए गए डेल्टा  वैरिएंट की ही तरह गंभीर है।

Also Read: नेस्ले कंपनी ने खुद माना मैगी नूडल्स सेहत के लिए ठीक नहीं

कोवेक्सीन या कोविशील्ड - ?

कोरोना वैक्सीन को लेकर किए गए एक शोध के हवाले से जी न्यूज @ ने अपनी खबर  में बताया  है कि कोवैक्‍सीन की तुलना में कोविशील्‍ड   ज्यादा एंटीबॉडी तैयार करती है. इस शोध में डॉक्टर और नर्सों को शामिल किया गया और उन्हें कोविशील्‍ड एवं कोवैक्‍सीन की दोनों डोज लगाई गईं. इसके बाद यह देखा गया कि कौन सी वैक्सीन कितने प्रभावी ढंग से काम करती है. शोध के परिणाम के अनुसार, सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्‍ड, भारत बायोटेक की कोवैक्‍सीन के मुकाबले ज्यादा एंटीबॉडी तैयार करती है.  

खाड़ी के देशों में चीनी वैक्सीन को मान्यता नहीं होने हज यात्रियों की परेशानी बढ़ी 

सऊदी अरब चीन की वैक्सीन लगाने वाला सर्टिफिकेट स्वीकार नहीं कर रहा है। इस विषय पर बीबीसी लंदन @ द्वारा प्रकाशित खबर बताया है चीन की वैक्सीन को मान्यता नहीं मिलने के कारण इससे हज या कारोबार या नौकरी के लिए सऊदी अरब जाने वाले पाकिस्तानियों की परेशानी बढ़ गई है।

कुछ मीडिया संस्थानों ने वॉशिंगटन पोस्ट की एक रिपोर्ट के हवाले से छपा है कि खुद चीन के सेंट्रल फॉर डिजिज कंट्रोल ने अप्रैल में स्वीकार किया था कि यह वैक्सीन बहुत अधिक प्रभावी नहीं है और इसमें सुधार की आवश्यकता है। संसथान के डायरेक्टर ने यह भी कहा था कि समस्या के समाधान के लिए चीन को वैक्सीन बदलना होगा, क्योंकि मौजूदा टीके बहुत प्रभावी नहीं हैं। 

Also Read: तीसरी लहर के सितम्बर-अक्टूबर से शुरू होने की आशंका..!

आयकर विभाग की नयी वेबसाइट हुई शुरू 

देशभर के करोड़ों आयकर दाताओं के लिए लाईव हिन्दुस्तान @ एक अच्छी खबर ले कर आया  है। खबर के मुताबिक आयकर विभाग 7 जून यानी सोमवार से रिटर्न दाखिल करने के लिए नई वेबसाइट   लॉन्च कर रहा है। इसके जरिेये न सिर्फ आयकर  रिटर्न दाखिल करना बहुत आसान बल्कि पैसा वापसी  की प्रक्रिया भी तेज होगी। नई वेबसाइट से करदाताओें को रिटर्न भरने में आसानी होगी। बयान के मुताबिक सीबीडीटी एक नई टैक्स पेमेंट सिस्टम भी 18 जून का शुरू करने जा रहा है। पोर्टल लॉन्च किए जाने के बाद में मोबाइल ऐप भी जारी किया जाएगा। इसके बाद करदाता अपने मोबाइल से भी रिटर्न भर सकते हैं। 

चुनावों को लेकर भाजपा में सुगबुगाहट शुरू 

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिवों की टीम की रविवार को प्रधानमंत्री आवास पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भेंट करने की खबर समय लाईव @ ने   प्रमुखता से छपी है । खबर कहती है कि चुनाव नजदीक आने पर भाजपा संगठन तैयारियों में जुट गया है। अब संगठनात्मक बैठकों का सिलसिला तेज हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दो दिन के भीतर भाजपा नेताओं के साथ यह दूसरी बैठक है।


कोविड के  बिना या हल्के लक्षण वाले मरीजों को दावा लेने की जरूरत नहीं 

देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर जारी है। राहत की बात ये हैं कि कोरोना के नए मरीजों की संख्या में लगातार गिरावट जारी है। इसी सिलसिले में अमर उजाला @ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से कोरोना के इलाज के लिए संशोधित गाइडलाइंस जारी किये जाने की खबर जारी की है। खबर में बताया है कि नयी गाइडलाइन्स के तहत एंटीपाइरेटिक और एंटीट्यूसिव को छोड़कर हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन, आइवरमेक्टिन, डॉक्सीसाइक्लिन समेत कई दवाओं को हटा दिया है।

गाइडलाइंस के मुताबिक, जिन मरीजों में कोरोना संक्रमण के लक्षण नजर नहीं आते या हल्के लक्षण हैं, उन्हें किसी तरह की दवाइयां लेने की जरूरत नहीं है। हालांकि, दूसरी बीमारियों की जो दवाएं चल रही हैं, उन्हें जारी रखना चाहिए। ऐसे मरीजों को टेली कंसल्टेशन (वीडियो के जरिए उपचार) लेना चाहिए। अच्छी डाइट लेनी चाहिए। साथ ही मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग जैसे जरूरी नियमों का पालन करना चाहिए।

MEDIA WATCH @खबरें ज़माने भर कीं 

Sagar Watch@ 05 June 2021

Media-Watch-तीसरी-लहर-के-सितम्बर-अक्टूबर-से-शुरू-होने-की-आशंका

जी न्यूज़
 ने भारत के महामारी विशेषज्ञों के हवाले से अपनी खबर से संकेत दिए हैं कि कोविड-19 की तीसरी लहर अपरिहार्य है, और इसके सितम्बर-अक्टूबर से शुरू होने की आशंका है. इसलिए देश को अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करना चाहिए। खबर कहती है कि कोविड-19 की दूसरी लहर का अच्छी तरह सामना किया और यह उसी का परिणाम है कि संक्रमण के नए मामले काफी कम हो रहे हैं। खबर में  इस बात पर भी जोर दिया कि तीसरी लहर से निपटने के लिए भी तैयारियां पूरी होनी चाहिए, जिससे युवा आबादी के अधिक प्रभावित होने की आशंका है।

Also Read: तो क्या शर्मा जी होंगे उप्र के नए मुख्यमंत्री ...?

बीबीसी लन्दन  ने उप्र की सियासत पर केन्द्रित अपनी खबर में बताया है कि राजनीतिक जगत में इस बात की भी चर्चा है कि योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बनाना बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शीर्ष नेताओं को अब ऐसा फैसला समझ में आ रहा है, जिसे अब बदलना और बनाए रखना, दोनों ही स्थितियों में घाटे का सौदा दिख रहा है। दूसरे, पिछले चार साल के दौरान बतौर मुख्यमंत्री, योगी आदित्यनाथ की जिस तरह की छवि उभर कर सामने आई है, उसके सामने चार साल पहले के उनके कई प्रतिद्वंद्वी काफी पिछड़ चुके हैं

Also Read: नेस्ले कंपनी ने खुद माना मैगी नूडल्स सेहत के लिए ठीक नहीं

दैनिक भास्कर की खबर कहती है कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया अब कोवीशील्ड के साथ ही रूस की कोविड वैक्सीन स्पुतनिक ट वैक्सीन भी बनाएगी। सूत्रों के मुताबिक, देश की दवा नियामक प्राधिकरण  ने शुक्रवार को इसकी मंजूरी दे दी। इसके बाद कंपनी वैक्सीन का टेस्ट और एनालिसिस कर सकेगी। अब तक स्पुतनिक-  को भारत में डॉ. रेड्डीज लैबोरेटरीज बना रही है। भारत में स्पुतनिक-वी  की 85 करोड़ डोज बनाई जानी हैं। भारत में बनने वाली वैक्सीन दुनिया में कहीं भी बनाई जाने वाली स्पुतनिक-ट का 65ः से 70ः हिस्सा होगा।

द वायर ने केन्द्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) हवाले से अपनी खबर में  बताया है  कि सेवानिवृत्त अधिकारियों का निजी क्षेत्र में नौकरी स्वीकार करना गंभीर कदाचार का मामला है। सीवीसी ने आदेश जारी कर कहा कि केंद्र सरकार के सभी संगठनों को सेवानिवृत्ति के बाद रोजगार देने से पहले सतर्कता विभाग से अनिवार्य रूप से मंजूरी लेनी चाहिए। सीवीसी ने कहा कि यदि किसी सेवानिवृत्त अधिकारी ने एक से अधिक संगठनों में काम किया है, तो उन सभी संगठनों से सतर्कता संबंधी मंजूरी प्राप्त की जानी चाहिए, जहां अधिकारी ने पिछले 10 वर्षों में सेवा दी थी.


MEDIA WATCH@ 03 JUNE 2021

SAGAR WATCH@ खबरें ज़माने भर कीं 

MEDIA-WATCH-तो-क्या-शर्मा-जी-होंगे-उप्र-के-नए-मुख्यमंत्री ?

तो क्या शर्मा जी होंगे उप्र के नए मुख्यमंत्री ...?

बीबीसी लन्दन ने उत्तर प्रदेश  में  मौजूदा सियासी उठा-पटक को लेकर नेतृत्व परिवर्तन के कयासों को हवा देने वाली एक अहम् खबर छापी है। खबर के मुताबिक पिछले दो हफ्ते से संघ और बीजेपी के केंद्रीय नेताओं की बैठकों का दौर चल रहा है इसी से सरकार और संगठन में बदलाव की संभावनाओं के बीच दोनों स्तरों पर नेतृत्व परिवर्तन तक की चर्चा गर्म है राजनीतिक पर्यवेक्षकों ने यह तक कह दिया कि अरविंद शर्मा मुख्यमंत्री भी बनाए जा सकते हैं इस काल्पनिक बदलाव की वजह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रभाव को कम करना या फिर उनकी कथित मनमानीपूर्ण कार्यशैली पर रोक लगाना है

Also Read: नेस्ले कंपनी ने खुद माना मैगी नूडल्स सेहत के लिए ठीक नहीं

शरीर है कि चुम्बक ....!

जी न्यूज़ ने ईरान न्यूज़ के हवाले से लगाई एक रोचक खबर में बताया है कि ईरान में एक शख्स रहता है,जिसका शरीर किसी चुंबक से कम नहीं है. दरअसल, उसके शरीर से कोई भी चीज बड़ी आसानी से चिपक जाती है. द सन में छपी खबर के मुताबिक, ईरान में रहने वाले अबोलफज्ल खुद में किसी चमत्कार से कम नहीं हैं. दरअसल, कोई भी चीज उनके शरीर से ऐसे चिपक जाती है, जैसे उसमें कोई चुंबक फिट हो

राहुल गाँधी ने ट्विटर पर कईयों से बनायीं दूरियां 

पंजाब केसरी ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर केन्द्रित अपनी खबर में बताया है कि  अकसर सोशल मीडिया को हथियार के रूप में इस्तेमाल कर मोदी सरकार पर हमला करते हुए  ट्विटर पर एक्टिव रहने वाले राहुल गांधी ने अचानक कई नेताओं, पत्रकारों और दूसरे नेताओं को अनफॉलो कर दिया है। उनके इस रुख को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। खबर कहती है कि राहुल गांधी 281 लोगों को फॉलो कर रहे थे जिनकी तादाद घटकर 219 रह गई है।  पार्टी सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी की टीम जो नई लिस्ट तैयार कर रही है, उसमें नेता-पत्रकार और अन्य क्षेत्रों से जुड़े लोग शामिल होंगे। 

Also Read: क्या शुरू हो गई है कोरोना की तीसरी लहर!

लो आ गए दूसरी स्वदेशी वैक्सीन ...

दैनिक जागरण की खबर बताती है कि देश में निर्मित एक और कोरोना वैक्सीन अगले कुछ माह में आ जाएगी। इसके लिए केंद्र ने 30 करोड़ खुराकें बुक कराई है और अग्रिम समझौते के तहत 1500 करोड़ रुपये का भुगतान भी कर दिया है। खबर में बताया है कि हैदराबाद की वैक्सीन निर्माता कंपनी बायोलॉजिकल- ई इस साल के अगस्त- दिसंबर तक वैक्सीन की खुराकें मुहैया करा देंगी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को इस बारे में जानकारी दी और बताया कि इसके लिए केंद्र की ओर से 1,500 करोड़ रुपये का भुगतान बायोलॉजिकल-ई को कर दिया गया है। भारत बायोटेक के कोवैक्सीन   के बाद यह दूसरा स्वदेशी वैक्सीन है।

पन्द्रह जून तक मुफ्त मिलेगी ....

महानगर टाइम्स ने खेती-किसानी से जुडी खबर में लिखा है की केंद्र सरकार द्वारा किया जा रह मिनी किट कार्यक्रम के तहत बीजों का वितरण 15 जून, 2021 तक निःशुल्क किया जायेगा  ताकि किसानों को खरीफ फसलों की बुआई से पहले बीज मिल जाएं राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के तहत किसानों को दलहन के कुल 20,27,318 मिनी किट, सोयाबीन के आठ लाख से ज्यादा मिनी किट और मूंगफली के 74,000 मिनी किट निशुल्क दिए जाएंगे। जिससे किसानों को काफी लाभ मिल सकता है। ये मिनी किट राष्ट्रीय बीज निगम (एनसीएस), नैफेड और गुजरात राज्य बीज निगम जैसी राष्ट्रीय एजेंसियों द्वारा उपलब्ध करायी जा रही हैं

ममता को घेरने मप्र में मंथन ..

दैनिक भास्कर ने भी देश की सियासत को गरमा रही बंगाल से जुडी खबर प्रकाशित की है    खबर में बीजेपी सूत्रों के हवाले से बताया है  कि ममता की घेराबंदी के लिए मप्र में चल रहा है मंथन। खबर के मुताबिक  बंगाल चुनाव में प्रभारी रहे  राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिव प्रकाश  के साथ मध्यप्रदेश के तीन दिग्गज नेता कैलाश विजयवर्गीय, प्रहलाद पटेल और नरोत्तम मिश्रा को राष्ट्रीय नेतृत्व की तरफ से अहम जिम्मेदारी दी गई थी। तीनों नेताओं की दिल्ली से लेकर भोपाल तक आपस में लंबी मुलाकात इशारा कर रही है कि सुलगते बंगाल पर तीनों नेता रणनीति बना रहे हैं।

MEDIA WATCH@ ख़बरें ज़माने भर कीं 

SAGAR WATCH@ 02 JUNE 2021

MEDIA-WATCH-नेस्ले-कंपनी-ने-खुद-माना-मैगी-नूडल्स-सेहत-के-लिए-ठीक-नहीं

पत्रिका ने अपनी खबर में दो मिनट में बनने वाली मैगी नूडल्स के सेहत के लिए नुकसानदेह होने  की बात को इसकी निर्माता कंपनी द्वारा खुद स्वीकारने को उजागर किया है खबर में लिखा है नेस्ले कंपनी ने खुद माना है कि उसके ज्यादातर उत्पाद स्वास्थ्यवर्धक नहीं हैं। नेस्ले ने कहा है कि कंपनी अपना पूरा पोर्टफोलियो बदलने पर विचार कर रही है। लोगों की सेहत ध्यान में रखते हुए उन्हें जरूर पोषण और संतुलित खुराक मुहैया कराई जाएगी। ब्रिटेन की बिजनेस डेली फाइनेंशियल टाइम्स में ये रिपोर्ट छपी है। इसके मुताबिक कंपनी ने इसे स्वीकारते हुए कहा है कि वो अपने उत्पादों को सुधारने का काम करेगी।

Also Read: अधिक दूध पीने से नहीं बढता है कोलेस्ट्राल 

जी न्यूज़ @ कश्मीर के मामले को संयुक्त राष्ट्र महासभा उठाने के लिए पाकिस्तान को उकसाने के लिए  संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष वोल्कन बोजकिर को  भारत के कड़े विरोध के बाद संयुक्त राष्ट्र के 193 सदस्यीय इस निकाय के प्रमुख को अब सफाई पेश करनी पड़ी है। भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने इस सिलसिले में कहा कि जब संयुक्त राष्ट्र महासभा के कोई वर्तमान अध्यक्ष गुमराह करने वाला एवं पूर्वाग्रह से ग्रस्त बयान देता है तो वह अपने पद को बड़ा नुकसान पहुंचाता है. संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष का आचरण वाकई खेदजनक है और यह वैश्विक स्तर पर उनके दर्जे को घटाता है। 

बीबीसी लन्दन ने  पाकिस्तान पर केन्द्रित एक सकारात्मक खबर में बताया है कि कैसे वहां सिंध प्रान्त के जिले ख़ैरपुर के क़स्बे राहूजा में रहने वाली एक 25 वर्षीय युवती ने के यूट्यूब चैनल की सफलता की प्रशंसा की है बीबीसी ने खबर में लिखा है कि बिजली और इंटरनेट मिलने की अनिश्चितताओं जैसी तमाम कठिनाइयों से जूझ कर भी राबिया नाज शेख़ रोज वीडियो बनाकर यूट्यूब के अपने फैशन चैनल  फैशन एडिक्शन पर अपलोड करती हैं. राबिया का यह शौक उनकी आमदनी का जरिया है. पाकिस्तान में जहां बहुत से लोगों के लिए अपना घर बनवाना किसी सपने से कम नहीं है, वहीं राबिया इसी आमदनी से दो कमरों का घर बनवाने में कामयाब हो रही हैं

नवभारत टाइम्स  की खबर कहती है कि काला कवक संक्रमण औरतों की तुलना में मर्दों को ज्यादा होता है। एसजीपीजीआई के तंत्रिका-कर्णविज्ञानी (न्यूरो-ओटोलॉजिस्ट) डॉ. अमित केसरी के हवाले से खबर कहती है कि महिलाओं में बनने वाला इस्ट्रोजन हारमोन उन्हें म्यूकरमाइकोसिस (ब्लैक फंगस) से बचा रहा है। पुरुषों के मुकाबले बेहद कम महिलाएं इसकी चपेट में आ रही हैं। दरअसल, महिलाओं में इस्ट्रोजन हारमोन 14 से 50 साल की उम्र तक बनता है। वहीं, लखनऊ के अस्पतालों में भर्ती हुई ब्लैक फंगस पीड़ित ज्यादातर महिलाओं की उम्र 50 साल से अधिक ही है।

Also Read: क्या शुरू हो गई है कोरोना की तीसरी लहर!

लाइव हिंदुस्तान  ने अनलॉक के मापदंडों पर खबर में बताया है कि स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रमुख  डॉ.बलराम  भार्गव ने लॉकडाउन को खोलने के लिए तीन-सूत्रीय मानदंड का सुझाव दिया- एक सप्ताह में संक्रमण दर 5 प्रतिशत से कम, 70 फीसदी  संवेदनशील आबादी का टीकाकरण और कोविड से बचने के उपयुक्त व्यवहार को लेकर समुदाय में जागरूकता जरूरी है । उन्होंने कहा कि तीसरी लहर को रोकने के लिए इन तीन बिन्दुओं पर खास तवज्जो देनी होगी 

दैनिक भास्कर  की खबर देश में खुफिया एजेंसियों या सुरक्षा से जुड़े महकमों के सेवानिवृत  अधिकारी को चेताने वाली है । खबर के मुताबिक  देश की सुरक्षा को लेकर केंद्र सरकार आदेश जारी किया है कि खुफिया एजेंसियों या सुरक्षा से जुड़े महकमों के रिटायर्ड अधिकारी अपने विभाग या किसी अन्य अधिकारी से जुड़ी बातें बिना पूर्वानुमति के सार्वजनिक नहीं कर सकते हैं। मंत्रालय द्वारा आदेश के साथ तैयार मसौदे के मुताबिक सेवानिवृत्ति की समय ही अधिकारी शपथपत्र देगा की वह संस्थान और अपने कार्यानुभव के बारे में बिना पूर्व अनुमति के कोई भी जानकारी सार्वजनिक नहीं करेगा। ऐसा करने में असमर्थ रहने पर उसकी आंशिक या पूरी पेंशन रोकी जा सकेगी 


  MEDIA WATCH@ खबरें ज़माने भर कीं 

SAGAR WATCH@ 01 JUNE 2021

MEDIA-WATCH-केंद्रीय-कर्मचारियों-के-वेतन-में-एक-जुलाई-से-होगा-ईजाफा

जी न्यूज़ 
ने देश के केंद्रीय कर्मचारियों को खुश करने वाली खबर को प्रमुखता से प्रकाशित की है खबर में बताया है कि लम्बे इंतज़ार के बाद वह समय आ गया है. जब देश में 50 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 61 लाख पेंशनर्स का महंगाई भत्ता 1 जुलाई से बढ़ने जा रहा है. कर्मचारियों का महंगाई भत्ता अभी 17 फीसदी  की दर से मिलता है जो अब सीधे 28 फीसदी  हो जाएगा. इस बढ़ोतरी का फायदा उन्हें वेतन में इजाफे के रूप में दिखेगा. बताया कि जून 2021 तक भी इसमें  3-4 फीसदी  का उछाल आने की उम्‍मीद है.इससे जून 2021 के बाद महंगाई भत्ता बढ़कर 32 परसेंट तक पहुंच जाएगा. 

Also Read: क्या शुरू हो गई है कोरोना की तीसरी लहर!

डेली ट्रिब्यून  पियक्कड़ों के लिए खुशखबरी बताते हुए दिल्ली सरकार ने संशोधित आबकारी नियम के अधीन शराब की ‘होम आपूर्ति की अनुमति दे दी है। दिल्ली उत्पाद शुल्क (संशोधन) नियम, 2021 सोमवार को अधिसूचित किया गया जिसके अनुसार, लाइसेंस धारकों को एप या वेबसाइट के माध्यम से खरीदी गई शराब की ‘होम डिलिवरीश् की अनुमति दे दी गई है। इसके साथ ही अब लाइसेंस धारक खुली जगहों जैसे छतों, क्लबों के आंगनों, बार और रेस्तरां में भी शराब परोस सकेंगे।

Also Read: अधिक दूध पीने से नहीं बढता है कोलेस्ट्राल 

महानगर  ने  दुनिया भर के यूटयूबर के लिए  जेब  हल्का करने  वाली खबर लगाई है खबर में बताया है कि यूट्यूब ने अपने प्लेटफॉर्म को लेकर एक बड़ी घोषणा की है। 1 जून से यूजर्स को यूट्यूब प्लेटफॉर्म से होने वाली कमाई पर टैक्स देना होगा। हालांकि ऐसी खबरें हैं कि अमेरिकन कंटेंट क्रिएटर्स टैक्स के दायरे में नहीं आएंगे। यह नियम भारत समेत दूसरे देशों के लिए है। यूजर्स को सिर्फ उन्हीं व्यूज के लिए टैक्स का भुगतान करना होगा, जो अमेरिकी दर्शकों से मिले हैं। टैक्स की दर 24 फीसदी प्रतिमाह होगी।

Also Read: वियतनाम में मिला हवा के जरिये तेजी से फैलने वाला कोविड का नया वैरिएंट

अमर उजाला  ने अपनी खबर में बताया है कि हाल ही में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन द्वार इजाद की गए कोरोना की दवा लेने से किन लोगों को परहेज करना चाहिए  गाइडलाइंस में डीआरडीओ ने स्पष्ट किया है कि अनियंत्रित ब्लड शुगर, हृदय की बीमारी, एक्यूट रेसिप्रेटरी डिस्ट्रेस सिंड्रोम (एआरडीएस), लिवर और किडनी के रोगियों पर इस दवा का परीक्षण नहीं हुआ है, ऐसे में इन रोगियों को फिलहाल 2-डीजी दवा नहीं दी जानी चाहिए। इसके अलावा गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं और 18 साल से कम आयु के लोगों के लिए भी इस दवा के इस्तेमाल पर फिलहाल रोक है।

Also Read: नासा को मंगल ग्रह पर मिले मशरूम हो सकता है एलियन से भी नाता

दैनिक भास्कर     ने ट्विटर  के हेकड़ी भरे तेवरों की केंद्र सरकार की सख्ती के आगे हवा निकलने की खबर को प्रमुखता से छापा है । खबर खातीं है कि   केंद्र सरकार से टकराव के बाद ट्विटर ने नए आईटी नियमों का पालन करने का निर्णय  लिया है। सोमवार को सोशल मीडिया कंपनी ने दिल्ली हाईकोर्ट में जवाब पेश किया। कंपनी ने बताया कि उसने भारत सरकार के आई रूल कानून 2021 को लागू कर दिया है। इसके लिए कंपनी ने एक अधिकारी की नियुक्ति 28 मई को ही कर दी थी। हालांकि, कोर्ट में सरकार ने ट्विटर के दावे को खारिज कर दिया है।

Also Read: पथकर चौकी पर सौ मीटर से लम्बी कतार होने पर मुफ्त गुजारना होगा वाहनों को

बीबीसी लन्दन ने सऊदी अरब में मस्जिदों में लगे  ध्वनि विस्तारक यंत्रों की आवाज कम किये जाने के सम्बन्ध सरकार की राय पर विस्तृत खबर छापी है खबर में बताया है  कि सऊदी अरब के इस्लामिक मामलों के मंत्री डॉक्टर अब्दुल लतीफ बिन अब्दुल्ला अजीज अल-शेख ने पिछले सप्ताह ही इन प्रतिबंधों की घोषणा की थी.उन्होंने कहा था कि मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर की आवाज को अधिकतम आवाज के एक तिहाई से ज्यादा नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा था कि लोगों से लगातार मिल रहीं शिकायतों के बाद यह निर्णय किया गया है.उन्होंने कि ऐसी  शिकायतें मिलीं हैं,जिनमें कुछ अभिभावकों ने लिखा कि लाउडस्पीकर की तेज आवाज से उनके बच्चों की नींद ख़राब होती है

Also Read: MEDIA-WATCH-ख़बरें-ज़माने-भर-कीं

प्रातःकाल अखबार ने  विश्व स्वस्थ संगठन द्वारा कोरोना वायरस के विभिन्न वेरिएंट के नामांकरण किये जाने के विषय को अपनी खबर में प्रमुखता से उठाया हैखबर के मुताबिक  नए सिस्टम में भारत में मिला वैरिएंट ‘डेल्टा’- विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने उभरते हुए कोरोनावायरस वेरिएंट को लेबल करने के लिए नामों के एक सेट की सिफारिश की है जिन्हें वैश्विक चिंता का विषय माना जाता है। अब तक,विश्व स्वस्थ्य संगठन  द्वारा चिंता के चार प्रकार के वैरिएंट  की पहचान की गई है ग्रीक वर्णमाला के पहले चार अक्षरों के बाद उनके सार्वजनिक नाम  क्रमशः अल्फा, बीटा, गामा और डेल्टा होंगे।

MEDIA WATCH@ ख़बरें ज़माने भर कीं 

SAGAR WATCH@ 30 MAY 2021

MEDIA-WATCH-क्या-शुरू-हो-गई-है-कोरोना-की-तीसरी-लहर!

पत्रिका
ने अपनी खबर क्या शुरू हो गई है कोरोना की तीसरी लहर! सवाल से उठायी है। खबर में बताया है कि  महाराष्ट्र के सिर्फ एक जिले में मिले 8 हजार संक्रमित बच्चे महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले से बच्चों के कोरोना संक्रमित होने के जो आंकड़े सामने आए हैं, वह डराने वाले दिख रहे। महराष्ट्र सरकार की ओर से कोरोना वायरस संक्रमितों के जिलेवार जारी आंकड़ों पर गौर करें तो सिर्फ अहमदनगर जिले में मई महीने में करीब आठ हजार बच्चे कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं।

Also Read: वियतनाम में मिला हवा के जरिये तेजी से फैलने वाला कोविड का नया वैरिएंट

जी न्यूज ने बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के एक शोध के हवाले से खबर दी है कि कोरोना संक्रमण से ठीक हो चुके लोगों में वैक्सीन  की पहली खुराक 10 दिन के अंदर पर्याप्त एंटीबॉडी बना देती है. ये एंटीबॉडी कोरोना से लड़ने में कारगर होती हैं. जबकि जो कोरोना संक्रमित नहीं हुए हैं, उनमें वैक्सीन लगने के बाद एंटीबॉडी बनने में 3 से 4 हफ्ते का समय लगता है.

Also Read: अधिक दूध पीने से नहीं बढता है कोलेस्ट्राल 

नवभारत टाईम्स ने देश के साइकिल उद्योग के लिए कोरोना महामारी काल को वरदान बताते हुए लगाई खबर में बताया है कि चालू वित्त वर्ष 20 फीसदी की बढ़ोतर की उम्मीद के जा रही है  खबर में बताया है कई कोरोना वायरस की पहली  लहर के चलते साइकिलों की बिक्री में 22 फीसदी की बड़ी गिरावट दर्ज की गई, जिसकी वजह सरकार की ओर से विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लिए स्टैंडर्ड साइकिलों  की खरीद में गिरावट आना रहा।

Also Read: नासा को मंगल ग्रह पर मिले मशरूम हो सकता है एलियन से भी नाता

बीबीसी लंदन ने कोरोना वायरस के पैदाईश के स्थान की तलाश के सिलसिले में दुनिया भर में मची हाय-तौबा से जुड़ी अपनी एक खबर में बताया है कि अमेरिका के बाद अब ब्रिटेन की खुफिया एजेंसी ने भी माना है कि यह ‘संभव’ है कि कोरोना महामारी की शुरुआत चीन की प्रयोगशाला से वायरस लीक होने के बाद हुई हो.खबर में ब्रिटेन के वैक्सीन मंत्री नदीम जहावी ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से कोरोना वायरस के स्रोत का पता लगाने के लिए पूरी जाँच की माँग की है ताकि कोरोना वायरस के स्रोत का पता लग सके. 

Also Read: पथकर चौकी पर सौ मीटर से लम्बी कतार होने पर मुफ्त गुजारना होगा वाहनों को

दैनिक भास्कर ने अपनी एक खबर में बताया है कि बाल आयोग ने पुलिस से ट्विटर पर प्राथमिकी दर्ज करने को कहा और बाल यौन शोषण से जुड़ी जांच में सहयोग न करने का आरोप भी लगाया है। खबर के मुताबिक आयोग ने दिल्ली पुलिस को भेजी अपनी शिकायत में कहा है कि ट्विटर पर बाल यौन शोषण के कुछ लिंक मिले हैं। इसके अलावा डार्क वेब पर बनाए  गए कुछ लिंक भी ट्विटर पर दिखाई दिए हैं। ट्विटर इंडिया द्वारा आयोग के सवाल का जवाब देने में खुद को असमर्थता बताया तो आयोग ने ट्विटर के खिलाफ पुलिस शिकायत की प्रक्रिया शुरू की।

Also Read: MEDIA-WATCH-ख़बरें-ज़माने-भर-कीं

समय लाईव ने अपनी खबर में कहा है कि केरल में मॉनसून की शुरूआत देर से होगी। खबर मुताबिक मानसून के 3 जून तक केरल पहुचने के आसार है। अखबार ने दक्षिण-पश्चिमी हवाएं के  धीरे-धीरे मजबूत होने को आधार बनाकर  बारिश की गतिविधि में वृद्धि की संभावना जताई है। खबर में यह भी बताया है कि पिछले पांच वर्षों में, वर्ष 2017 और 2018 को छोड़कर, मानसून  कुछ दिनों की देरी से ही आया ।