News-In-Short-कलेटर-ने-कोरोना-संक्रमण-बचाओ-तंत्र-को-पुनः-सक्रिय-किया

News-In-Short-कलेटर-ने-कोरोना-संक्रमण-बचाओ-तंत्र-को-पुनः-सक्रिय-किया

सागर वॉच 
03 अगस्त 2021 News In Short

संक्रमण के मामले बढ़ते है सक्रिय हुआ प्रशासन 

जिले में कोरोना संक्रमितों के मामले सामने आने पर कलेक्टर दीपक सिंह ने चिंता जताते हुए  त्वरित प्रतिक्रिया टीम, मेडिकल चालित इकाई तथा डिस्ट्रिक्ट कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को पुनः सक्रिय करने व कोरोना संक्रमित की सघन मॉनिटरिंग करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना से संक्रमित पाए गए व्यक्तियों की सघन सम्पर्क जांच करते हुए प्रथम संपर्क वाले व्यक्तियों को गृह संगरोध में रखा जाए तथा इन व्यक्तियों पर लगातार निगरानी रखी जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि, कमांड एवं कंट्रोल सेंटर में कोरोना सहायता एवं संपर्क के नंबरों और व्हाट्सएप नंबर को भी  सक्रिय रहने के लिए कहा ताकि आवश्यकता पड़ने पर नागरिक संपर्क कर सकें।

Also Read: News In Short-तीसरी लहर से निपटने बीएमसी तैयार

बुंदेलखंड का मनोरम पर्यटन स्थल बनेगा राहतगढ़ 

सागर। बुंदेलखंड के राहतगढ़ में स्थित जलप्रपात का सम्पूर्ण विकास प्रदेश के तीन विभागों के सहयोग से किया जाना हैं। प्रदेश के राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने बताया कि  पर्यटन विभाग, वन विभाग एवं जिला पंचायत के आपसी समन्वय से ढाई करोड़ रुपए से भी अधिक की राशि से राहतगढ़ जलप्रपात  का संपूर्ण विकास होगा। इससे से क्षेत्र में पर्यटन का भी विकास होगा साथ ही यहां बच्चों के लिए पार्क, मुक्त-थिएटर, सेल्फी प्वाइंट, अत्याधुनिक शौचालय ,खेल की गतिविधियां एवं खानपान की उचित व्यवस्था, मुख्य आकर्षक द्वार भी निर्मित किया जाएगा। सुरक्षा की दृष्टि से पूरे पर्यटन स्थल बाड़ भी लगाई जाएगी

Also Read: Strict Action-बेतरतीब काम करने पर टाटा कंपनी को प्रशासन कर सकता है टाटा

सार्वजनिक परिवहन की मजबूती से घटेगा प्रदूषण 

नगरीय विकास एवं आवास मंत्री  भूपेन्द्र सिंह के मुताबिक  मप्र में शहर वार स्वीकृत और संचालित  शहरों में दुर्घटनाएँ व प्रदूषण कम करने के लिए  सार्वजनिक परिवहन तंत्र को मजबूत किया जा रहा है । बसों की समीक्षा की बैठक में मंत्री ने कहा कि शहरों के अन्दर व विभिन्न शहरों के बीच बसों का  परिचालन पूरी क्षमता से होगा । बसों का परिवहन निविदा की शर्तों के मुताबिक सख्ती से होगा और शर्तों का उल्लंघन होने पर निविदा निरस्त कर दी जाएगी। बैठक में बताया गया कि अमृत योजना में शुरू की गयी सूत्र सेवा में प्राथमिक रूप से शहरों के अन्दर व शहरों के बीच बसों के परिवहन  के लिए क्रमशः 70 व 30 का अनुपात निर्धारित किया गया था। अमृत योजना में प्रदेश को 258 करोड़ रूपये शहरी परिवहन के लिए मिले थे।

Also Read: समीक्षाओं में प्रगति की मीनारें तन रहीं हैं हकीकत में बदहाल है शहर

घर बैठे बनेगा लर्निंग लाइसेंस 

मप्र में फेस लैस लर्निंग लायसेंस की सेवाये दो अगस्त से प्रारंभ की गई है। इसके लिए सारथी पोर्टल पर परिवहन विभाग की सेवाये अपडेट की जा रही है। घर बैठे लर्निंग  लायसेंस हासिल करने के लिए आवेदक को सारथी पोर्टल पर जाकर आवेदन करना होगा। आवेदक परिवहन विभाग की वेबसाईट साइट की लिंक पर जाकर ई-केवाईसी एवं आधार नम्बर दर्ज करने पर आवेदन से संबंधित संपूर्ण जानकारी अपलोड करनी होगी।इसके उपरांत आवेदक को एक ओटीपी नम्बर मोबाइल पर प्राप्त होने के पश्चात् लर्निंग लायसेंस टेस्ट देना होगा , जिसमें कुल 12 प्रश्नों के सही उत्तर देने पर ही वह उत्तीर्ण होगा । उत्तीर्ण होने के पश्चात् आवेदक स्वयं अपना लर्निग लायसेस डाउनलोड कर प्राप्त कर सकता है ।
Share To:

Sagar Watch

Sagar Watch is the only news portal of Bundelkhand Region, which provide news updates in English & Hindi language. Rajesh Shrivastava, the Journalist, is the Chief Editor of this News Portal.

Post A Comment:

0 comments so far,add yours