MEDIA-WATCH-केंद्रीय-कर्मचारियों-के-वेतन-में-एक-जुलाई-से-होगा-ईजाफा

  MEDIA WATCH@ खबरें ज़माने भर कीं 

SAGAR WATCH@ 01 JUNE 2021

MEDIA-WATCH-केंद्रीय-कर्मचारियों-के-वेतन-में-एक-जुलाई-से-होगा-ईजाफा

जी न्यूज़ 
ने देश के केंद्रीय कर्मचारियों को खुश करने वाली खबर को प्रमुखता से प्रकाशित की है खबर में बताया है कि लम्बे इंतज़ार के बाद वह समय आ गया है. जब देश में 50 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 61 लाख पेंशनर्स का महंगाई भत्ता 1 जुलाई से बढ़ने जा रहा है. कर्मचारियों का महंगाई भत्ता अभी 17 फीसदी  की दर से मिलता है जो अब सीधे 28 फीसदी  हो जाएगा. इस बढ़ोतरी का फायदा उन्हें वेतन में इजाफे के रूप में दिखेगा. बताया कि जून 2021 तक भी इसमें  3-4 फीसदी  का उछाल आने की उम्‍मीद है.इससे जून 2021 के बाद महंगाई भत्ता बढ़कर 32 परसेंट तक पहुंच जाएगा. 

Also Read: क्या शुरू हो गई है कोरोना की तीसरी लहर!

डेली ट्रिब्यून  पियक्कड़ों के लिए खुशखबरी बताते हुए दिल्ली सरकार ने संशोधित आबकारी नियम के अधीन शराब की ‘होम आपूर्ति की अनुमति दे दी है। दिल्ली उत्पाद शुल्क (संशोधन) नियम, 2021 सोमवार को अधिसूचित किया गया जिसके अनुसार, लाइसेंस धारकों को एप या वेबसाइट के माध्यम से खरीदी गई शराब की ‘होम डिलिवरीश् की अनुमति दे दी गई है। इसके साथ ही अब लाइसेंस धारक खुली जगहों जैसे छतों, क्लबों के आंगनों, बार और रेस्तरां में भी शराब परोस सकेंगे।

Also Read: अधिक दूध पीने से नहीं बढता है कोलेस्ट्राल 

महानगर  ने  दुनिया भर के यूटयूबर के लिए  जेब  हल्का करने  वाली खबर लगाई है खबर में बताया है कि यूट्यूब ने अपने प्लेटफॉर्म को लेकर एक बड़ी घोषणा की है। 1 जून से यूजर्स को यूट्यूब प्लेटफॉर्म से होने वाली कमाई पर टैक्स देना होगा। हालांकि ऐसी खबरें हैं कि अमेरिकन कंटेंट क्रिएटर्स टैक्स के दायरे में नहीं आएंगे। यह नियम भारत समेत दूसरे देशों के लिए है। यूजर्स को सिर्फ उन्हीं व्यूज के लिए टैक्स का भुगतान करना होगा, जो अमेरिकी दर्शकों से मिले हैं। टैक्स की दर 24 फीसदी प्रतिमाह होगी।

Also Read: वियतनाम में मिला हवा के जरिये तेजी से फैलने वाला कोविड का नया वैरिएंट

अमर उजाला  ने अपनी खबर में बताया है कि हाल ही में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन द्वार इजाद की गए कोरोना की दवा लेने से किन लोगों को परहेज करना चाहिए  गाइडलाइंस में डीआरडीओ ने स्पष्ट किया है कि अनियंत्रित ब्लड शुगर, हृदय की बीमारी, एक्यूट रेसिप्रेटरी डिस्ट्रेस सिंड्रोम (एआरडीएस), लिवर और किडनी के रोगियों पर इस दवा का परीक्षण नहीं हुआ है, ऐसे में इन रोगियों को फिलहाल 2-डीजी दवा नहीं दी जानी चाहिए। इसके अलावा गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं और 18 साल से कम आयु के लोगों के लिए भी इस दवा के इस्तेमाल पर फिलहाल रोक है।

Also Read: नासा को मंगल ग्रह पर मिले मशरूम हो सकता है एलियन से भी नाता

दैनिक भास्कर     ने ट्विटर  के हेकड़ी भरे तेवरों की केंद्र सरकार की सख्ती के आगे हवा निकलने की खबर को प्रमुखता से छापा है । खबर खातीं है कि   केंद्र सरकार से टकराव के बाद ट्विटर ने नए आईटी नियमों का पालन करने का निर्णय  लिया है। सोमवार को सोशल मीडिया कंपनी ने दिल्ली हाईकोर्ट में जवाब पेश किया। कंपनी ने बताया कि उसने भारत सरकार के आई रूल कानून 2021 को लागू कर दिया है। इसके लिए कंपनी ने एक अधिकारी की नियुक्ति 28 मई को ही कर दी थी। हालांकि, कोर्ट में सरकार ने ट्विटर के दावे को खारिज कर दिया है।

Also Read: पथकर चौकी पर सौ मीटर से लम्बी कतार होने पर मुफ्त गुजारना होगा वाहनों को

बीबीसी लन्दन ने सऊदी अरब में मस्जिदों में लगे  ध्वनि विस्तारक यंत्रों की आवाज कम किये जाने के सम्बन्ध सरकार की राय पर विस्तृत खबर छापी है खबर में बताया है  कि सऊदी अरब के इस्लामिक मामलों के मंत्री डॉक्टर अब्दुल लतीफ बिन अब्दुल्ला अजीज अल-शेख ने पिछले सप्ताह ही इन प्रतिबंधों की घोषणा की थी.उन्होंने कहा था कि मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर की आवाज को अधिकतम आवाज के एक तिहाई से ज्यादा नहीं होना चाहिए. उन्होंने कहा था कि लोगों से लगातार मिल रहीं शिकायतों के बाद यह निर्णय किया गया है.उन्होंने कि ऐसी  शिकायतें मिलीं हैं,जिनमें कुछ अभिभावकों ने लिखा कि लाउडस्पीकर की तेज आवाज से उनके बच्चों की नींद ख़राब होती है

Also Read: MEDIA-WATCH-ख़बरें-ज़माने-भर-कीं

प्रातःकाल अखबार ने  विश्व स्वस्थ संगठन द्वारा कोरोना वायरस के विभिन्न वेरिएंट के नामांकरण किये जाने के विषय को अपनी खबर में प्रमुखता से उठाया हैखबर के मुताबिक  नए सिस्टम में भारत में मिला वैरिएंट ‘डेल्टा’- विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने उभरते हुए कोरोनावायरस वेरिएंट को लेबल करने के लिए नामों के एक सेट की सिफारिश की है जिन्हें वैश्विक चिंता का विषय माना जाता है। अब तक,विश्व स्वस्थ्य संगठन  द्वारा चिंता के चार प्रकार के वैरिएंट  की पहचान की गई है ग्रीक वर्णमाला के पहले चार अक्षरों के बाद उनके सार्वजनिक नाम  क्रमशः अल्फा, बीटा, गामा और डेल्टा होंगे।

Share To:

Sagar Watch

Sagar Watch is the only news portal of Bundelkhand Region, which provide news updates in English & Hindi language. Rajesh Shrivastava, the Journalist, is the Chief Editor of this News Portal.

Post A Comment:

0 comments so far,add yours