Diversion-Fee-Not-Acceptable-Offline-नींद-से-जागा-निगम-खदेड़ा-अतिक्रमणकारियों-को

Diversion-Fee-Not-Acceptable-Offline-नींद-से-जागा-निगम-खदेड़ा-अतिक्रमणकारियों-को

#MediaWatch@Best From Print Media

Headlines: अख़बारों की आज की सुर्खियाँ 

आज सभी अखबारों ने नगर निगम पर केन्द्रित खबरों को प्रमुखता से छापा है। प्याज में नर्मी व आलू की तेजी बरकरार रहने का भी जिक्र है। कोविड को रोकने धार्मिक उपाय किए जाने व जीवन सुधारने के लिए प्रवचन पर भी खबरों को भी  अखबारों ने पर्याप्त स्थान दिया है।

दैनिक आचरण ने देश-प्रदेश पृष्ठ पर प्रमुखता से प्रकाशित खबर में बताया है कि “ डायवर्सन” के लिए ऑफलाइन जमा किए गए शुल्क को शासन ने अमान्य घोषित कर दिया है। खबर में बताया है कि कोरोना काल से पहले जमा इस शुल्क को आवेदकों को वापस किया जाएगा या नए सिरे से ऑनलाइन  जमा किए जाने में वाले शुल्क में समायोजित किया जाएगा या नहीं इस बात को लेकर प्रभावित नागरिक ही नहीं विभागीय कर्मचारियों में भी असमंजस बना हुआ है।

सागर वॉच (खबर से हटकर ) -“ डायवर्सन” यानी   "परिवर्तित भूमि संधारण" 

Also Read: Without Facility NHAI Started Toll Plaza-शिकारी खुद यहाँ शिकार हो गया

नवदुनियानवभारत ने नगर निगम को निशाने पर लेते हुए विभाग की खामियों को उजागर करने वाली खबर को ही अपनी पहली सुर्खी बनाया हैै। 

नवभारत ने “आगे पाठ पीछे सपाट की स्थिति ” शीर्षक से लिखा है कि शहर के कटरा इलाके में निगम का अमला अतिक्रमण हटाते हुए आगे बढ़़ता जाता है और पीछे से अतिक्रमणकारी फिर से अपनी दुकानें जमाने लग जाते है। हालांकि खबर में निगम आयुक्त ने मुहिम जारी रहेगी कह कर अतिक्रमणकारियों को चेताया भी है।

नवदुनिया ने नगर निगम के जल-प्रदाय विभाग को आड़े हाथों लेते हुए खबर लगाई है कि “रोज 60 लाख लीटर व्यर्थ बह रहा है पानी”। खबर में बताया है पर्याप्त अमला होने के बाद भी विभाग के अधिकारी गर्मियों में जलसंकट के हालात बनने के बाद ही पाईप लाईनों के रिसाव को रोकने के लिए सक्रिय होते हैं। खबर में पानी के व्यर्थ बहाव को रोकने में आम नागरिकों की उदासीनता का भी जिक्र है। लोग सार्वजनिक नलों से बहते पानी को रोकने उसकी टोंटी बंद करने तक की भी आम जिम्मेदारी नहीं निभाते।

            Also Read : दो साल में गाँव में हर घर तक पहुंचेगा पानी

जिला स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में अतिक्रमण का मुद्दा उठने पर सक्रिय हुए निगम के अमले द्वारा शहर की सड़कों से रेहड़ियों वालों व सड़कों पर ही पार्क किए गए वाहनों को हटाने की कार्रवाई को लेकर लगाई खबर में दैनिक भास्कर ने निगम के लिए पार्किंग की समस्या से निपटने के कुछ निदान सुझाए हैं। 

मकरोनिया उपनगर के बड़े-बड़े शो रूम संचालकों को भी पार्किंग के उचित इंतजाम नहीं किए जाने को लेकर नोटिस जारी किए जाने की खबर लगभग सभी अखबारों नजर आयी।

दैनिक आचरण ने जैन मुनि के कथन “दया धर्म का पालन करने वाले मुनि करते हैं पिच्छिका परिवर्तन” से धार्मिक आयोजन की खबर को ही अपनी पहली सुर्खी बनाया।

         Also Read: सूझ-बूझ से बन रही है खेती-लाभ-का-धंधा

OFFBEAT NEWS : लीक से हटकर खबर

सागर के विधायक के निवास पर कार्तिक मिलन समारोह व वैश्विक महामारी कोविड-19 के निदान हेतु 11-कुण्डीय महायज्ञ के आयोजन की खबर को सभी अखबारों ने स्थान दिया है।

प्रदेश सरकार की आबकारी नीति में बदलाव लाने की कवायद पर दैनिक आचरण ने विस्तार से खबर लगाई है। जिसमें बताया है कि सरकार अगले वित्तीय वर्ष से शराब की दुकानों के आवंटन की मौजूदा एकल जिला आधारित निविदा व्यवस्था के स्थान पर एकल दुकान समूह की व्यवस्था लागू कर सकती है।

सब्जी मंडी के तेवरों पर नजर रखते हुए नवदुनिया अखबार ने अपनी खबर में बताया है कि जहां इंदौर में नए आलू की आवक शुरू हो गई है फिर भी स्थानीय मंडी में आलू के भावों में मार्च से आयी तेजी बरकरार है। वहीं प्याज के दामों मे थोड़ी नर्मी आयी है। खबर  के मुताबिक मांगलिक कार्यक्रमों  में मांग बढ़ने व डीजल के दामों में तेजी आने का असर सब्जियों के दामों पर पड़े बिना नहीं रहेगा।

Also Read: जननेतृत्व से लबालब हुए तालाब, विभागीय नाकारापन से छलनी हुई धरती

FOLLOW-UP : फाॅलोअप

दैनिक भास्कर ने लाखा बंजारा झील में शिकारियों द्वारा पक्षियों के शिकार किए जाने की अपनी कल की खबर की दूसरी कड़ी को भी आज शहर पृष्ठ की पहली सुर्खी बनाया है। “ शातिर शिकारी” शीर्षक से लगाई खबर में बताया कि  अफसरों से चालाक निकले, बगुलोंको मारने वाले शिकारी। मौके पर जांच करने पहुंचे  वन विभाग के दल को पक्षियों के केवल पंख ही मिले।

बुधवार को ही प्रकाशित नौरादेही अभ्यारण पर केन्द्रित खबर की दूसरी कड़ी मे आज अखबार ने बताया कि देहरादून के वन्य जीव संस्थान का दल अपनी जांच पूरी कर चुका है। दल ने बताया कि चीतों के लिए आहार की सुलभता के आधार पर तय किया जाएगा कि उन्हें नौरादेही व पालकुनो अभ्यारण में से कहां बसाया जाना है।

Also Read :तेली-में-होते-है-प्रतिरोधक-क्षमता-बढाने-के-जबरदस्त -गुण

Share To:

Sagar Watch

Sagar Watch is the only news portal of Bundelkhand Region, which provide news updates in English & Hindi language. Rajesh Shrivastava, the Journalist, is the Chief Editor of this News Portal.

Post A Comment:

1 comments so far,Add yours

  1. श्याम तिवारी, सागर3 दिसंबर 2020 को 8:07 pm

    देश किसी अन्नदाता ओं से अपील है कि वह आंदोलनों का रास्ता छोड़कर सरकार द्वारा बनाए गए कानून को समझने का प्रयास करें यह सरकार किसान की कल्याण के लिए निश्चित ही कार्य कर रही है

    जवाब देंहटाएं