Sagar-Bhopal-Road-New-Toll-Tax-Plaza-सागर -भोपाल-की-यात्रा-हुई-महंगी

 Read IN English I Hindi

Sagar-Bhopal-Road-New-Toll-Tax-Plaza-सागर -भोपाल-की-यात्रा-हुई-महंगी

सागर वॉच।  भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI)  द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग 146 भोपाल सांची सागर सडक़ मार्ग पर राहतगढ के पहले जोहरिया शेख के पास टोल प्लाजा शुरू कर दिया है। इस टोल प्लाजा को  इतनी जल्दबाजी में शुरू किया है कि फिलहाल फास्टेग शुरू नहीं  हो पाया है और उपभोक्ताओं से   टोल टैक्स  की वसूली संबंधित एजेंसी द्वारा शुरू कर दी गई है जबकि पथकर दर वापसी सहित की सुविधा उपभोक्ताओं  को अभी नहीं दी जा रही है ।
                      
                             Also Read: Clerks-running Nagar Palikas in Bundelkhand

   मालूम हो कि राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 86 सागर भोपाल को सागर विदिशा के रास्ते सांची भोपाल से जोडक़र लोक निर्माण विभाग के राष्ट्रीय राजमार्ग विभाग द्वारा दो लेन पेव्ड शोल्डर  का निर्माण कराया गया था. सडक़ निर्माण लगभग पूर्ण हो चुका था, मगर नए वित्तीय वर्ष में वैश्विक बीमारी कोरोना के चलते एनएच टोल टैक्स शुरू नहीं कर पाया था जो कि 30 सितम्बर से  भारतीय राजमार्ग प्राधिकरण द्वारा शुरू करा दिया गया है  

अधिकृत जानकारी की मुताबिक फोरलैन सड़क निर्माण  हेतु प्रस्ताव  भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI)  को 2017 मेें मप्र सरकार द्वारा भेजा गया था. जिसमे इस मार्ग को आर्थिक गलियारे (Economic Corridor) के रूप में  भोपाल से सागर ओर छतरपुर को जोड़ते हुए कानपुर तक फोरलैन का निर्माण कराया जाना प्रस्तावित था मगर धीमी गति के कारण काम अभी आगे नहीं बढ़ पाया है

            Also Read: Paste-COVID-19-Treatment-Charges-List-At-The-entrance-DM

सागर भोपाल तक सडक़ निर्माण पूर्ण हो जाने के कारण एनएचएआई को देशभर में पथकर शुल्क एकरूपता बनाए रखने के मद्देनजर टोल टैक्स हेतु अधिकृत कर दिया गया. उद्घाटन के दूसरे दिन से ही जोहरिया शेख टोल प्लाजा पर उपभोक्ता से संबंधित कपंनी द्वारा टोल टैक्स की वसूली शुरू कर दी गई. मालूम हो कि सागर से राहतगढ़ के रास्ते बेगमगंज, रायसेन, भोपाल मार्ग भी प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के साथ ही डेढ दशक पूर्व बनकर शुरू हो गया था. जिस पर भी एमपी आरडीसी द्वारा तीन टोल टैक्स बनाए गए थे।

मगर सडक़ निर्माण के कुछ सालों बाद ही गैरतगंज रायसेन के बीच पुल टूट जाने के बाद से यह मार्ग लगभग कम चलने लगा था. इस बीच सागर से राहतगढ़ होते हुए विदिशा के रास्ते भोपाल के लिए नया सडक़ मार्ग बनाया गया था, जिसको ही राष्ट्रीय राजमार्ग में तब्दील कर एनएच 86 को एनएच 146 कर दिया गया. जो कि फोरलेन बनना था। 

यह भी पढ़ें : निजी-अस्पताल-कोरोना-उपचार-की-दरें-मुख्य-द्वार-पर-चस्पा-करें-कलेक्टर

सरकार ने अब इसी द्विमार्गी सड़क पर ही टोल टैक्स प्लाजा शुरू कर दिया है । टोल टैक्स में शुल्क निर्धारण एनएच की सागर इकाई द्वारा किया गया है. पथकर दर एकल यात्रा के रूप में उपभोक्ता को 70 रूपए देना पड़ेगा. अगर वाहन चालक उसी मार्ग से वापिस आता है तो उसे पथकर वापसी यात्रा सहित 105 रूपए चुकाने पड़ेगें.मगर संबधित एजेंसी द्वारी उपभोक्ता को उपलब्ध नहीं कराया गया है जिसका खमियाजा वाहन चालक को दोनों ओर के 140 रूपए देकर उठाना पड़ा है.

जल्दबाजी में शुरू हुए टोल प्लाजा पर ऑनलाईन सेवा शुरू न हो पाने के कारण वाहन चालकों को अभी न तो फास्टैग की सुविधा उपलब्ध है और ना ही  इलेक्ट्रानिक गेट लगा है।  टोल प्लाजा पर वाहनों की लंबी कतारें देखी जा सकती है. वहीं एक वाहन चालक को 15 से 20 मिनिट तक का समय लग रहा है क्योंकि टोल प्लाजा पर कर्मचारियों की संख्या भी उतनी अधिक नहीं हैं.

           Read Also: Unsung Heroes- Aftaab Pledged to make the country clean

 जब इस संबंध में एनएचएआई सागर इकाई के परियोजना अधिकारी एस के शर्मा  चर्चा की कि उनका कहना था कि पथकर दर वापसी सहित चालू कराई जा चुकी है । अगर कर्मचारी द्वारी उपभोक्ता को इसका लाभ नही दिया गया है तो उससे बात की जावेगी । फास्टेग की सुविधा आने वाले समय में शुरू करा दी जायेगी ।

Share To:

Sagar Watch

Sagar Watch is the only news portal of Bundelkhand Region, which provide news updates in English & Hindi language. Rajesh Shrivastava, the Journalist, is the Chief Editor of this News Portal.

Post A Comment:

0 comments so far,add yours